Home /News /ajab-gajab /

do you know why only red yellow and green colors are used in traffic lights sankri

आखिर लाल, हरा और पीला ही क्यों होता है ट्रैफिक लाइट, हर रंग का होता है अलग मतलब

हर रंग को सिलेक्ट करने के पीछे है ख़ास वजह (इमेज- इंटरनेट)

हर रंग को सिलेक्ट करने के पीछे है ख़ास वजह (इमेज- इंटरनेट)

बचपन से ही हम ट्रैफिक लाइट्स के बारे में पढ़ते आ रहे हैं. हर रंग और उसका मतलब हम पढ़ते हैं. लेकिन क्या हमने कभी ये जानने की कोशिश की है कि आखिर ट्रैफिक लाइट्स लाल, पीले और हरे रंग के ही क्यों होते हैं?

हमारी पूरी जिंदगी में ऐसी कई चीजें होती हैं, जो हम बचपन से देखते, सुनते आ रहे हैं. हम इन चीजों के इतने आदि हो जाते हैं कि हमारे लिए ये नॉर्मल बात हो जाती है. कभी भी हम उसके पीछे का रीजन या लॉजिक समझने या जानने की कोशिश नहीं करते. ऐसी ही एक चीज है ट्रैफिक लाइट्स. बचपन से ही हमें ट्रैफिक के नियम समझाए जाते हैं. किस ट्रैफिक लाइट का क्या मतलब होता है, ये भी हमें सिखाया जाता है. लेकिन कभी हमने ये जानने की कोशिश नहीं की कि आखिर यही रंग क्यों इस्तेमाल होते हैं?

बात अगर ट्रैफिक लाइट्स की करें, तो दुनिया का सबसे पहला ट्रैफिक लाइट 10 दिसंबर, 1868 को लंदन में लगाया गया था. वहां संसद भवन के बाहर इसे लगाया गया था. इसे लगाने वाला रेलवे इंजीनियर जेके नाईट था. उस वक्त ट्रैफिक लाइट्स में सिर्फ दो रंग का प्रयोग किया जाता था. एक लाल और दूसरा हरा. काफी समय के बाद इसमें पीले रंग को जोड़ा गया. दिन में लोगों को रंग आसानी से दिख जाता था लेकिन रात में ये दिखे, इसके लिए ख़ास तरह के गैस का प्रयोग किया जाता था.

सोच समझ कर हुआ रंगों का चयन

traffic light colors

लाल- ट्रैफिक लाइट्स में यूज होने वाले रंगों का चयन काफी सोच समझ कर किया गया था. लाल रंग हमेशा से खतरे का इंडिकेटर माना जाता है. ऐसे में लाल रंग यानी आगे खतरा है. अगर लाल रंग में सड़क पार की तो जान को खतरा हो सकता है. इसके अलावा लाल काफी गहरा रंग होता है जो दूर से ही नजर आता है. इसी वजह से लोगों को रोकने के लिए लाल रंग का प्रयोग किया गया.

traffic light colors

पीला- सबको पता है कि पीला है कि पीला रंग ऊर्जा का प्रतीक है. यानी जैसे ही पीला रंग ट्रैफिक सिग्नल पर आए, यानी अपने आप को अब ऊर्जा से भर लें. लाइट पीली हो गई है और जल्द ही अब रोड क्रॉस करना होगा.

traffic light colors
हरा- हरे रंग को सब कुछ सही होने का प्रतीक मना जाता है. इसे प्रकृति ने ही पॉजिटिव के तौर पर चुना है. हरा यानी सब कुछ ठीक है. अगर ट्रैफिक में हरा रंग है यानी सब कुछ सही है और अब आप आसानी से आराम से सड़क क्रॉस कर सकते हैं.

तो अब आप भी समझ गए ना कि ट्रैफिक लाइट्स में इन्हीं तीन रंगों का इस्तेमाल क्यों किया जाता है.

Tags: Ajab Gajab, Khabre jara hatke, OMG, Weird news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर