होम /न्यूज /अजब गजब /

लोगों ने कर दिया शराबी का अंतिम संस्कार, जब आंख खुली तो उड़े नशेड़ी के होश !

लोगों ने कर दिया शराबी का अंतिम संस्कार, जब आंख खुली तो उड़े नशेड़ी के होश !

30 साल के शख्स को दक्षिण अमेरिका के टोबा जनजाति के लोगों ने बलि के तौर पर ज़मीन में गाड़ दिया. (Credit- Pixabay/सांकेतिक तस्वीर)

30 साल के शख्स को दक्षिण अमेरिका के टोबा जनजाति के लोगों ने बलि के तौर पर ज़मीन में गाड़ दिया. (Credit- Pixabay/सांकेतिक तस्वीर)

Drunk Person Buried Alive : 30 साल के शख्स को दक्षिण अमेरिका के टोबा जनजाति के लोगों ने बलि के तौर पर ज़मीन में गाड़ दिया. जब शराब के नशे में धुत शख्स की आंख खुली तो उसके होश उड़ गए.

Drunk Person Buried Alive : नशा कोई भी हो, आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है. इससे आपके शरीर के अंगों पर दुष्प्रभाव पड़ता है और वो धीरे-धीरे काम करना बंद कर देते हैं. ये तो नशे के दूरगामी प्रभाव हैं, लेकिन ये आपके लिए किस तरह तुरंत हानिकारक हो सकता है, वो आप बोलिविया के एक शख्स की कहानी सुनकर अच्छी तरह समझ जाएंगे. ये कहानी जितनी दिलचस्प है, उतनी ही सबक देने वाली भी.

30 साल के विक्टर ह्यूगो मिका एवरेज़ (Víctor Hugo Mica Álvarez) नाम के शख्स को शराब पीने का शौक था, जिसकी वजह से वो ऐसी मुसीबत में पड़ गया, जो ज़िंदगी भर उसे नहीं भूलेगी. विक्टर ह्यूगो मिका एवरेज़ (Víctor Hugo Mica Álvarez) को मरा समझकर दक्षिण अमेरिका के टोबा जनजाति के लोगों ने ज़मीन में गाड़ दिया. जब शराब के नशे में धुत शख्स की आंख खुली तो उसके होश उड़ गए.

अजीबोगरीब था ये हादसा
डेली स्टार की रिपोर्ट के मुताबिक अर्जेंटीना, पैराग्वे और बोलिविया में पाई वाली जनजाति टोबा की एक सेरेमनी में पहुंचे विक्टर ह्यूगो मिका एवरेज़ (Víctor Hugo Mica Álvarez) के साथ ये हादसा हुआ. एवरेज़ को उसके एक दोस्त ने इस सेरेमनी में शराब पीने के लिए आमंत्रित किया था. वे वहां पर नशे में डांस कर रहे थे, इसके बाद उनकी आंख जब खुली तो वे कब्र के अंदर ताबूत में बंद थे. एवरेज़ का कहना है कि उन्हें पेशाब के लिए जाना था, तब जाकर उन्हें एहसास हुआ कि वो एक ताबूत में हैं. उनकी आंख जब खुली तो वे खुद को ताबूत से बाहर निकालने के लिए प्रयास करने लगे.

धरती माता को चढ़ा दी गई थी बलि
एवरेज़ ने बताया कि उन्होंने काफी मशक्कत के बाद ताबूत का शीशा तोड़ा, जहां से थोड़ी मिट्टी अंदर आई. किसी तरह वे कॉफिन से बाहर आ पाए और उन्होंने वहां आस-पास मौजूद एक शख्स से मदद मांगी और पुलिस स्टेशन पहुंच गए. दिलचस्प बात तो ये थी कि वे सेरेमनी के लिए जहां गए थे, वहां से 80 किलोमीटर दूर उन्होंने खुद को ताबूत में पाया. उन्हें टोबा जनजाति के लोगों की ओर से पचामामा यानि धरती माता को बलि के तौर पर चढ़ाया गया था. सीमेंट के अंदर ताबूत में रहते हुए उनकी मौत हो जाती, अगर उनकी आंख वक्त पर न खुलती. जब एवरेज़ ने ये बात पुलिस को बताई तो उन्हें ये नशे में गढ़ी गई कहानी लगी.

Tags: Ajab Gajab, Viral news, Weird news

अगली ख़बर