58 साल पहले रेलवे स्टेशन से किडनैप हो गया था बेटा, सालों बाद भी देखते ही पहचान गया बूढ़ा बाप

2 साल के बेटे को 60 की उम्र में देख आंसू रोक नहीं पाया पिता

2 साल के बेटे को 60 की उम्र में देख आंसू रोक नहीं पाया पिता

सोशल मीडिया (Social Media) पर चीन (China) का एक बेहद इमोशनल वीडियो (Emotional Video) वायरल हो रहा है. 58 साल पहले किडनैप हुए अपने बेटे को देखते ही पिता का रोता वीडियो आपकी आंखें भी नम कर देगा. ये बेटा अपने पिता से 58 साल पहले रेलवे स्टेशन पर बिछड़ गया था.

  • Share this:

दुनिया में बात अगर चाइल्ड ट्रैफिकिंग (Child Trafficking) की करें, तो इसमें चीन काफी आगे है. यहां चाइल्ड ट्रैफिकिंग के कई मामले सामने आते हैं. इंडस्ट्रियल सेक्टर (Industrial Sector) होने की वजह से यहां फैक्ट्री में बच्चों को बतौर मजदूर काम करवाया जाता है. इसके लिए कई गिरोह चीन में बच्चों को किडनैप करते हैं. ऐसे मामलों में आधे से ज्यादा बच्चे कभी अपने पेरेंट्स से नहीं मिल पाते. लेकिन कुछ मामले ऐसे सामने आते हैं जब कई दशकों बाद भावुक मिलन का नजारा देखने को मिलता है.

चीन में एक 90 साल के शख्स का वीडियो वायरल हो रहा है. ये शख्स अपने बेटे से मिला वो भी पूरे 58 साल बाद. इतने साल तक अपने बेटे को तलाशते इस पिता की आंखें जैसे ही बेटे पर पड़ी, वो फूट-फूटकर रो पड़ा. बाप-बेटे की जोड़ी 58 साल पहले रेलवे स्टेशन पर बिछड़ गई थी. इसके बाद पिता ने बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी. लेकिन उसका बेटा उसे नहीं मिल पाया. अब 58 साल बाद बाप-बेटे का मिलन हो पाया है.

छोटा सा बेटा हुआ इतना बड़ा

बाप की पहचान जहां लुओ के नाम से हुई वही बेटे का नाम फू बताया गया. जब फू मात्र दो साल का था तभी वो अपने पिता से स्टेशन पर बिछड़ गया था. अब अब दोनों एक-दूसरे से मिले तब लुओ 90 साल का हो चुका है. ये मिलन हुआ चीन के शान्डोंग प्रांत में. जहां सिटी पब्लिक डिपार्टमेंट ने इस मिलन का वोडियो शेयर किया. क्लिप में देखा जा सकता है कि सालों बाद बेटे को देखकर भी पिता पहचान गया.
किडनैप कर बेच दिया गया था बेटा

फू भी इतने सालों बाद अपने पिता से मिलकर खुश है. उसने बताया कि जब वो दो साल का था तब उसे स्टेशन पर किसी ने चुरा लिया था. लुओ ने स्टेशन पर थोड़ी देर के लिए अपने बेटे का हाथ छोड़ा था और उतनी ही देर में उसे किसी ने चुरा लिया. इसके बाद बच्चा चोर गिरोह ने उसे एक कपल को बेच दिया था. लुओ अपने बेटे को भूल नहीं पाया और सालों तक उसकी गुमशगुदगी के ऐड देता रहा. इसके बाद 2015 में DNA टेस्टिंग तकनीक के जरिये आखिरकार फू को ढूंढ लिया गया.

चीन में चाइल्ड ट्रैफिकिंग के गंभीर हालात



फू ने बताया कि उसे अडॉप्ट करने वाले मां बाप को ये जानकारी नहीं थी कि उसे चुराकर लाया गया था. अब अपने पिता से मिलकर उसे बेहद ख़ुशी है. बता दें कि चीन में चाइल्ड ट्रैफिकिंग के मामले तेजी से बढ़े हैं. मिनिस्ट्री ऑफ पब्लिक सिक्युरिटी ने ह्यूमन ट्रैफिकिंग को रोकने के लिए सख्त कदम उठाए हैं. साथ ही एक मुहीम के तहत अभी तक 1680 बच्चों को उनके मां-बाप से दुबारा मिलवाया है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज