अपना शहर चुनें

States

चीन के एक गांव में लग जाती है पानी में आग, जल उठता है नल से बहता पानी; देखें वीडियो

(फोटो: Twitter/People's Daily, China@PDChina)
(फोटो: Twitter/People's Daily, China@PDChina)

सोमवार को अधिकारियों ने एक्सपर्ट्स के हवाले से बताया कि ग्राउंड वॉटर में कम मात्रा में प्राकृतिक गैस (Natural Gas) के लीक होने की वजह से पानी ज्वलनशील बन रहा था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2020, 11:27 AM IST
  • Share this:
बीजिंग. हम आग लगने के बाद सबसे पहले पानी की तलाश करते हैं. फायर ब्रिगेड (Fire Brigade) भी पानी की तेज बौछारों से आग को शांत करते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि पानी में भी आग लग सकती है. सुनने में यह सभी नियमों के खिलाफ लगता है और है भी, लेकिन चीन से एक ऐसा वीडियो सामने आया है, जहां नल से बहते पानी में आग (Fire in Water) लग गई. सोशल मीडिया (Social Media) पर इस वीडियो को जमकर शेयर किया जा रहा है.

दरअसल, उत्तर-पूर्वी चीन के लियाओनिंग प्रांत के पंजिन शहर में एक वीडियो फिल्माया गया. इस वीडियो में शख्स ने नल से बहते हुए पानी के सामने लाइटर जलाया. इसके बाद ही अचानक आग भड़क गई, जो पूरे सिंक में फैल गई. यह वीडियो वेन नाम की महिला ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था. कुछ समय बाद ही यह वीडियो वायरल (Viral Video) हो गया और स्थानीय अथॉरिटीज को एक्शन लेने पर मजबूर होना पड़ा.

आखिर पानी में कैसे लग गई आग?
वीडियो पोस्ट करने वाली महिला ने कहा कि इसकी वजह से उनका परिवार तीन से चार सालों से परेशान है. कवर न्यूज से बातचीत में उन्होंने कहा, 'काफी समय से हाथ धोने या पानी से बर्तन साफ करने के बाद हमारे हाथ सूखे जैसे नहीं लगते थे. उनमें एक चिपचिपापन महसूस होता था, जो हम हटा नहीं सकते थे.' वेन ने बताया कि उनके पिता ने मामले की शिकायत पानी की सप्लाई करने वाली स्थानीय कंपनी से की, लेकिन स्टाफ ने उन्हें कहा कि यह उनके हाथ में नहीं है. उन्होंने बताया कि यह परेशानी गांव के सैकड़ों परिवारों की है.





सोमवार को अधिकारियों ने एक्सपर्ट्स के हवाले से बताया कि ग्राउंड वॉटर में कम मात्रा में प्राकृतिक गैस के लीक होने की वजह से पानी ज्वलनशील बन रहा था. गांववालों का कहना है कि यह परेशानी सालों से बनी हुई है. जबकि, अथॉरिटीज का कहना है कि उन्होंने वॉटर स्टेशन की मरम्मत के चलते हाल ही में ग्राउंडवॉटर से सप्लाई की शुरुआत की है. वहीं, सरकार का कहना है कि संबंधित स्टाफ इसके लिए जिम्मेदार ठहराए जाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज