• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • 60 साल पहले ही मुस्लिम शख्स को लग गया था कोरोना वैक्सीन! दादा की मौत के सालों बाद पोते ने किया खुलासा 

60 साल पहले ही मुस्लिम शख्स को लग गया था कोरोना वैक्सीन! दादा की मौत के सालों बाद पोते ने किया खुलासा 

भारत के कश्मीर में रहने  वाले एक शख्स ने दावा किया है कि 60 साल पहले मर चुके उसके दादा को कोरोना की दोनों डोज लग चुकी थी

भारत के कश्मीर में रहने वाले एक शख्स ने दावा किया है कि 60 साल पहले मर चुके उसके दादा को कोरोना की दोनों डोज लग चुकी थी

खबर की हेडिंग पढ़ आप भी हैरत में होंगे कि अगर कोरोना वायरस (Corona Virus) की शुरुआत 2019 में हुई, तो आखिर किसी शख्स को आज से 60 साल पहले वायरस की वैक्सीन कैसे लगी? वो भी तब जब महामारी (Pandemic) के फैलने के करीब सालभर बाद मार्केट में वैक्सीन (Corona Vaccine) लाई गई. लेकिन ऐसा हुआ है भारत के कश्मीर (Kashmir) में. जानिए पूरा मामला...

  • Share this:
    कोरोना वायरस को कोविड 19 (Covid19) के नाम से भी जाना जाता है. नाम के पीछे लगा 19 इस बात का संकेत है कि इसकी शुरुआत 2019 में हुई. लेकिन भारत के कश्मीर (Kashmir) में रहने वाले एक शख्स को आज से 60 साल पहले ही कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लग गए थे (Man Got Covid Jab 60 Years Ago). आप सोच रहे होंगे कि भला ये कैसे पॉसिबल है, तो आपको बता दें कि ऐसा हुआ है और बाकायदा इस बात का सबूत रजिस्ट्रेशन के रूप में कोविन ऐप पर मौजूद है. शख्स के पोते ने इस पूरे मामले का खुलासा किया.

    कश्मीर में रहने वाले एक शख्स 33 साल के मुदासीर सिद्दीक़ (Mudasir Siddiq) तब हैरान रह गए जब उन्होंने देखा कि कोविन एप (CoWIN App) पर उसके दादा के नाम से वैक्सीनेशन की रजिस्ट्री की गई है. साथ ही उसके दादा को वैक्सीन की दोनों डोज पड़ चुकी है. मुदासीर हैरान इसलिए रह गया क्यूंकि उसके दादा की मौत आज से 60 साल पहले ही हो चुकी थी. मौत के सालों बाद उनका नाम वैक्सीनेशन एप पर मिलना वो भी दोनों डोज के साथ शॉकिंग था. इसके बाद मुदासीर ने इसकी जानकारी मीडिया को दी.

    कोविन एप पर थी रजिस्ट्री
    33 साल का मुदासीर श्रीनगर में रहता है. उसने अपने मरे हुए दादा अली मोहम्मद भट्ट (Ali Mohammad Bhat) की प्रोफ़ाइल कोविन एप पर देखी. ये एप भारत में वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन के लिए इस्तेमाल की जा रही है. वेबसाइट से पता चला कि आज से 60 साल पहले मर चुके अली मोहम्मद को कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके हैं. ये देखने के बाद मुदासीर हैरान रह गया. उसे यकीन ही नहीं हुआ कि ऐसा कैसे पॉसिबल है? हद तो ये थी कि मुदासीर के दादा को वैक्सीन उसके मोबाइल नंबर से रजिस्ट्रेशन पर पड़ी थी.

    कोविशील्ड की लगी थी डोज
    शख्स ने पाया कि उसके दादा को कोविशील्ड की दोनों डोज लगी थी. रजिस्ट्रेशन मुदासीर के मोबाइल नंबर से हुई थी लेकिन उसमें 60 साल पहले मर चुके दादा का आधार नंबर भी डाला गया था. हैरत की बात ये है कि उस समय आधार कार्ड का नामो निशान नहीं था. मुदासीर के मुताबिक, अगर ये टेक्नीकल फाल्ट है तो भला एप को उसके दादा का नाम कैसे पता? उन लोगों ने तो इसकी रजिस्ट्री की ही नहीं थी. मामला सामने आने के बाद एप पर गलत रिकार्ड्स का आरोप लगाया जा रहा है.

    कश्मीर में ऐसा है कोरोना का हाल
    बात अगर भारत के इस राज्य में कोरोना के हाल की करें, तो अभी तक कश्मीर में संक्रमितों की कुल संख्या 3 लाख 18 हजार सामने आई है. इसमें से अभी तक 4 हजार 350 मौतें रजिस्टर हुई है. वहीं अभी तक 5.15 मिलियन लोगों को वैक्सीन दी गई है जिसमें से 4.3 मिलियन को सिर्फ पहला डोज दिया गया है. बाकी अपने दूसरे डोज के इंतजार में हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज