कुत्ते के मालिकाना हक को लेकर दो लोगों में हुआ झगड़ा, अब पुलिस कराएगी DNA टेस्ट

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

कुत्ते पर हक जमाने वाला एक शख्स पत्रकार है तो दूसरा ABVP का नेता. पुलिस ने बताया कि ये कुत्ता दोनों नामों से आवाज़ देने पर सिर हिलाता है. साथ ही इसका दोनों मालिकों के साथ दोस्ताना व्यवहार है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 22, 2020, 7:39 AM IST
  • Share this:
हौशंगाबाद. इंसानों की पहचान के लिए कई बार डीएनए (DNA) टेस्ट कराए जाते हैं, लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि कुत्तों के भी DNA टेस्ट कराए गए हों. शायद नहीं. लेकिन एक लैब्राडोर डॉग को लेकर दो परिवारों में ऐसा झगड़ा शुरू हो गया कि अब पुलिस को DNA टेस्ट कराने पर मजबूर होना पड़ा है. ये मामला मध्य प्रदेश के हौशंगाबाद का है. कुत्ते पर हक जमाने वाला एक शख्स पत्रकार है तो दूसरा ABVP का नेता. लिहाजा इस मामले को सुलझाने के लिए पुलिस को ऐड़ी चोटी का ज़ोर लगाना पड़ रहा है.

क्या है पूरा मामला?
अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक करीब तीन महीने पहले पत्रकार शादाब खान ने हौशंगाबाद देहात पुलिस स्टेशन में अपने डॉग 'कोको' के खोने को लेकर शिकायत दर्ज करवाई. 18 नवंबर को वो एक बार फिर से पुलिस के पास पहुंचे और बताया कि उन्हें अपना कुत्ता मिल गया है, लेकिन उनका कुत्ता ABVP के नेता क्रातिक शिवहरे के घर में है. अगले दिन शिवहरे पुलिस के पास पहुंचे और उन्होंने दावा किया कि वो कुत्ता उनका है, जिसका नाम उन्होंने टाइगर रखा है. उन्होंने पुलिस को ये भी कहा कि ये कुत्ता उन्होंने कुछ हफ्ते पहले इटारसी से खरीदा था. बाद में पुलिस ने बताया कि ये कुत्ता दोनों नामों से आवाज़ देने पर सिर हिलाता है. साथ ही इसका दोनों मालिकों के साथ दोस्ताना व्यवहार है.

DNA टेस्ट करवाने का फैसला
दोनों में कोई भी पक्ष मानने को तैयार नहीं था. लिहाजा पुलिस ने DNA टेस्ट करवाने का फैसला किया. शादाब खान ने कहा उनके कुत्ते के मां- बाप पचमढ़ी में हैं, जबकि शिवहरे ने बताया कि उनके डॉग के पेरेंट्स इटारसी में हैं. ऐसे में पुलिस ने ब्लड सैंपल लेने के लिए दोनों जगहों पर अपनी टीमें भेजी. फिलहाल ये कुत्ता शिवहरे के पास है. दोनों का दावा है कि DNA टेस्ट से सच सामने आ जाएगी.



ये भी पढ़ें-Corona का प्रकोप, राजस्थान के कई जिलों में नाइट कर्फ्यू, 500 रु. होगा जुर्माना

क्या है दोनों का पक्ष
खान ने कहा, 'मैंने अपने सारे डॉटक्यूमेंट्स जमा करा दिए हैं. मैंने वैक्सिनेशन के कार्ड भी दिखा दिए हैं. मैंने DNA टेस्ट पर ज़ोर दिया है. उधर शिवहरे का कहना है कि खान बिना मेरी इजाजत के मेरे कुत्ते को लेकर भाग गया. अब दोनों पक्षों को DNA टेस्ट के नतीजों का इंतज़ार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज