सोशल डिस्‍टेंसिंग फॉलो करने के लिए लड़के ने बनाया 'रोबोट', करवाता है शॉपिंग

सोशल डिस्‍टेंसिंग फॉलो करने के लिए लड़के ने बनाया 'रोबोट', करवाता है शॉपिंग
इस रोबोट का इस्तेमाल स्‍मार्टफोन से इंटरनेट के जरिए भी किया जा सकता है.

पेशे से कंप्‍यूटर इंजीनियर वेलयुथम को इस रोबोट (Robot) का निर्माण करने में महज 3 हजार रुपये की लागत आई है. उन्होंने कहा कि इस रोबोट का निर्माण सिर्फ 2 दिनों ही हुआ है.

  • Share this:
कोयंबटूर. कोरोना लॉकडाउन (Corona Lockdown) के बीच ढील देने के बाद शराब की दुकानों पर लगी भीड़ तो आपको याद ही होगी. हालांकि अब भी शराब की दुकान के बाहर लंबी लाइन लग रही है और सोशल डिस्‍टेंसिंग (Social Distancing) के नियमों का उल्‍लंघन हो रहा है.सभी दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए तमिलनाडु (Tamil Nadu) के एक इंजीनियर कार्तिक ने एक खास तरह का रोबोट (Robot) बनाया है. ये रोबोट दुकानों की लाइन में लगता है.

रोबोट बनाने में खर्च हुए इतने पैसे
पेशे से कंप्‍यूटर इंजीनियर वेलयुथम को इस रोबोट का निर्माण करने में महज 3 हजार रुपये की लागत आई है. उन्होंने कहा कि इस रोबोट का निर्माण सिर्फ 2 दिनों ही हुआ है. वेलयुथम ने AFP से बातचीत में कहा, "मैंने अपने रोबोट के ट्रायल के लिए शराब की दुकान पर इसलिए भेजा ताकि लोगों को इस बात के प्रति जागरूक किया जा सके कि इसका इस्तेमाल भीड़भाड़ वाली जगहों पर भी आसानी से किया जा सकता है.

ये रोबोट न सिर्फ सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखने में मदद करेगा. बल्कि लोगों को कोरोना वायरस के प्रभाव से भी बचाने में सहायक साबित होगा.



रोबोट में गियर मोटर का किया गया है इस्तेमाल


उन्‍होंने कहा, 'इस रोबोट का निर्माण करने के लिए मैंने इसमें गियर मोटर का इस्तेमाल किया है. ताकि इसे आसानी से कंट्रोल किया जा सके और इसमें स्पीडब्रेकर भी है.' उन्होंने बताया कि इसका सफल परीक्षण सड़कों पर किया जा चुका है. इसमें किसी तरह की कोई प्रॉब्लम नहीं है और ये आसानी से चलता है.

स्मार्टफोन के जरिए हो सकता है कंट्रोल
वेलयुथम ने कहा, इस रोबोट को चलाना बहुत ही आसान है. इसे स्मार्टफोन के जरिए आसानी से कंट्रोल किया जा सकता है. ये रोबोट दुकानकार को वीडियोकॉल के जरिए बताता है कि उसे क्या चाहिए. इतना ही इस रोबोट के जरिए खरीदारी का भुगतान मोबाइल वालेट या ईपेमेंट सिस्‍टम के जरिए किया जा सकता है. उन्होंने बताया कि ये मशीन 50 किलो तक का भार आसानी से उठा सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading