पत्नी को छोड़ सास से शादी की शादी, ब्रिटेन को बदलना पड़ा 500 साल पुराना कानून

मिश्रा ने बताया कि
मिश्रा ने बताया कि "दोषी ठहराए गए परिवार के सदस्य मृतक के घर एक बाहरी महिला के आने-जाने से खफा थे. (सांकेतिक फोटो)

ये मामला बाद में मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने उठाना शुरू किया. इसके बाद इस मामले सात यूरोपीय जजों की पीठ ने विचार किया और फैसला ​दिया कि अनुच्छेद 12 को हटा दिया जाए जो एक जोड़े को शादी करने से रोकता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 19, 2020, 2:38 PM IST
  • Share this:
लंदन. आपने वो गाना तो सुना ही होगा, न उम्र की सीमा हो न जन्म का हो बंधन, जब प्यार करे कोई तो देखे केवल मन. लंदन में एक ऐसे ही मामले में एक शख्स ने अपनी पत्नी को तलाक देकर अपनी सांस से शादी कर ली. यही नहीं इस शादी को मंजूरी देने के लिए ब्रिटेन को अपने 500 साल पुराने कानून को बदलना पड़ा.

बता दें कि क्लाइव ब्लडेन 65 और ब्रेंडा 77 करीब 33 साल से एक दूसरे के साथ रह रहे हैं. क्लाइव ने तीस साल पहले अपनी पत्नी को छोड़ दिया था और अपनी सास के साथ रहने लगा था. साल 1997 में दोनों ने साथ में शादी करने का फैसला किया. शादी की घोषणा के बाद ब्लडेन को गिरफ्तार कर लिया गया. बता दें कि ब्रिटेन के नैतिक कानून के तहत अभिभावक और बच्चों के बीच यौन संबंध अपराध माना जाता है. इसके लिए ब्रिटेन में 7 साल तक की सजा का प्रावधान है.

क्लाइव ने इस कानून को बदलने के लिए कोर्ट में याचिका दायर दी थी लेकिन यूरोपियन कोर्ट ने उसकी सजा को बढ़ाकर 10 साल कर दिया था. क्लाइव ने मिरर को बताया कि हर किसी को लग रहा था कि कोर्ट के इस फैसले के बाद मैं ब्रेंडा का साथ छोड़ दूंगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ. क्लाइव ने बताया कि मेरी बेटी को लगता है कि मैंने उसकी मां को धोखा दिया है.
इसे भी पढ़ें :- नहर से लकड़ी निकाल रहे शख्स के पास पहुंचा मगरमच्छ, झपटा और फिर... देखें Viral Video



ये मामला बाद में मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने उठाना शुरू किया. इसके बाद इस मामले सात यूरोपीय जजों की पीठ ने विचार किया और फैसला ​दिया कि अनुच्छेद 12 को हटा दिया जाए जो एक जोड़े को शादी करने से रोकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज