• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • Perseid meteor shower: धरती की तरफ आएंगे सैकड़ों 'शूटिंग स्टार्स', अगस्त में आसमान में दिखाई देगा अद्भुत नजारा

Perseid meteor shower: धरती की तरफ आएंगे सैकड़ों 'शूटिंग स्टार्स', अगस्त में आसमान में दिखाई देगा अद्भुत नजारा

मध्य अगस्त में देखने को मिलेगी सबसे सुंदर उल्का वर्षा (Image- Stojan Stojanovski)

मध्य अगस्त में देखने को मिलेगी सबसे सुंदर उल्का वर्षा (Image- Stojan Stojanovski)

पेर्सीड्स मेटिओर शॉवर (Perseid meteor shower) हर साल यह मध्य जुलाई से मध्य अगस्त के बीच देखा जा सकता है. जानकारी के मुताबिक अगस्त में यह इवेंट अपनी पीक पर होता है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि उस दौरान धूमकेतु स्विफ्ट-टटल (Comet Swift-Tuttle) के रास्ते से गुजरती है. जानिए, इसे कैसे और कहां देख सकते हैं.

  • Share this:
    कई सारे लोगों को आसमान में तारे निहारना बहुत पसंद होता है. कई लोग तो टेलिस्कोप की मदद से पृथ्वी के बाहर की दुनिया को देखने की कोशिश भी करते हैं. ऐसे ही लोगों के लिए आसमान में एक 'शो' शुरु हो चुका है. इसे पेर्सीड्स मेटिओर शॉवर (Perseid meteor shower) के नाम से जाना जाता है. आपको बता दें कि हर साल यह मध्य जुलाई से मध्य अगस्त तक इसे देखा जा सकता है. हांलाकि, जानकारी के मुताबिक अगस्त में यह इवेंट अपनी पीक पर होता है.

    आपको बता दें कि पेर्सीड्स मेटिओर शॉवर सबसे लोकप्रिय उल्का वर्षा माना जाता है. जानकारी के मुताबिक यह अभी से शुरु हो गया है लेकिन Earthsky.org के अनुसार, लोग इस साल 11-13 अगस्त के बीच इसके पीक टाइम के दौरान सबसे सबसे सुंदर नजारा देख पाएंगे. बता दें कि हर साल, पृथ्वी 17 जुलाई से 24 अगस्त तक धूमकेतु स्विफ्ट-टटल (Comet Swift-Tuttle) के रास्ते से गुजरती है, जब पृथ्वी सबसे घने, धूल भरे क्षेत्र से गुजरती है यानि 11-13 अगस्त, उस समय सबसे कम समय में सबसे अधिक उल्का देखे जाते हैं. गौरतलब है कि साल 2016 में 150-200 उल्का प्रति घंटे के बीच देखे गए थे.



    कहां देखी जा सकती है उल्का वर्षा?

    Earthsky.org के अनुसार, इस साल, आप शॉवर के चरम पर प्रति घंटे 60 उल्का देखने की उम्मीद कर सकते हैं. स्काईवॉचर्स के लिए चंद्रमा की चांदनी एक बड़ी समस्या है क्योंकि उसकी वजह से आसमान में यह 'शूटिंग स्टार्स' ढंग से नहीं दिखाई दे पाते. Perseids को अच्छे से देखने के लिए, सबसे अंधेरे वाले स्थान पर जाने और सीधे अपने ऊपर जितना संभव हो उतना आकाश देखने के लिए पीछे झुकने के लिए कहा जाता है. जानकारी के मुताबिक उल्काओं को देखने का सबसे अच्छा समय भोर से पहले का समय है. आपको जानकारी दे दें कि उल्काओं को देखने के लिए ऊपर उत्तर की ओर देखने के लिए कहा जाता है. दक्षिणी लेटिट्यूड (Southern Latitude) पर रहने वाले लोग अधिक उल्का देखने के लिए उत्तर-पूर्व की ओर देख सकते हैं

    यह भी पढ़ें- बच्चों की मौत के बाद मां-बाप का दुख कम करने के लिए बनाई जाती हैं ऐसी डॉल्स, दिखती है बिल्कुल असली

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज