• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • पैसों के लिए दो कुत्तों से जबरदस्ती पैदा करवाया अनोखा बच्चा, देखते ही मालिक ने फेंक दिया घर से बाहर

पैसों के लिए दो कुत्तों से जबरदस्ती पैदा करवाया अनोखा बच्चा, देखते ही मालिक ने फेंक दिया घर से बाहर

पैसों के लिए कई लोग दो ब्रीड के कुत्तों को मेट कर तीसरी ही प्रजाति के बच्चों को पैदा करवाते हैं

पैसों के लिए कई लोग दो ब्रीड के कुत्तों को मेट कर तीसरी ही प्रजाति के बच्चों को पैदा करवाते हैं

यूएस (United States) के टेनेसी के नैशविल (Nashville) में पैदा हुए टीकप को उसके मालिक ने जबरदस्ती दो अलग-अलग प्रजाति के कुत्तों से ब्रीड करवाया (Puppy Of Two Breed) था. शख्स का इरादा था दुनिया के सबसे छोटे कुत्ते (Worlds Smallest Dog) को पैदा करवाना. लेकिन जब इस बच्चे ने जन्म लिया तो उसकी हालत देखकर शख्स ने उसे बाहर फेंक दिया.

  • Share this:
    इंसान कितना स्वार्थी हो गया है, इसके कई सबूत सामने आते रहते हैं. आए दिन इंसान के स्वार्थपूर्ण हरकतों की कई घटनाएं सामने आती हैं. सोशल मीडिया पर इन दिनों टेनेसी के एक पपी टीकप (TeaCup) की खूब चर्चा हो रही है. इस मासूम बच्चे को दो अलग-अलग ब्रीड के कुत्तों को मेट कर पैदा करवाया गया था. टीकप Schnauzer और Wheaten Terrier के मिलन से पैदा हुआ था. उसे पैदा करवाने का मुख्य उद्देश्य था दुनिया की सबसे छोटी प्रजाति के कुत्ते को दुनिया में लाना. लेकिन ये आइडिया फेल हो गया और टीकप बिना आंखों के पैदा हो गया. वो इतना कमजोर था कि उसके मालिक ने उसे मरने के लिए फेंक दिया.

    टीकप जन्म से ही बेहद कमजोर थी. बताया जा रहा है कि जब उसका जन्म हुआ था तब उसका वजन मात्र 450 ग्राम था. वो सांस नहीं ले पाती थी ना ही बोतल से दूध पी पाती थी. उसे पालने में मालिक को काफी दिक्कत हो रही थी, जिसके बाद उसे फेंक दिया गया. हालांकि, रेस्क्यूअर्स की नजर टीकप पर पड़ गई और उसे बचा लिया गया. काफी देखभाल के बाद टीकप अब थोड़ी ठीक हुई है. इस वक्त उसका वजन कुछ बढ़ा है. एनिमल रेस्क्यू टीम्स (Animal Rescue Teams) ने दो ब्रीड के डॉग्स को मेट कर पैदा हुए बच्चों के खतरे से लोगों को अवगत किया. टीकप की तस्वीरें शेयर कर उन्होंने बताया कि कैसे कुछ लोगों के शौक की वजह से बच्चों पर बुरा प्रभाव पड़ता है.

    खतरनाक होती है ऐसी ब्रीडिंग
    Big Fluffy Dog Rescue ने टीकप की तस्वीरें शेयर की है. उन्होंने बताया कि दो अलग-अलग ब्रीड से पैदा हुई टीकप ना सिर्फ जन्म से अंधी थी बल्कि उसका यूट्रस और ब्लेडर भी आपस में जुड़ा है. उसे कई सारे हेल्थ इश्यू हैं. शुरुआत के एक महीने तो उसका वजन मात्र 450 ग्राम था. वो कुछ खाती नहीं थी. इसके मालिक ने नए और कीमती ब्रीड के लालच में उसे पैदा करवाया लेकिन उसकी हालत देख फेंक दिया. ऐसे में रेस्क्यू टीम अब उसे संभाल रहा है. टीम ने बताया कि ऐसी ब्रीडिंग काफी खतरनाक होती है.

    सीख रही है जीना
    एनिमल रेस्क्यू टीम के मुताबिक, टीकप अपनी जिंदगी अब जीना सीख रही है. हालांकि, अपने सबसे हेल्दी फॉर्म में भी टीकप साढ़े तीन किलो से ज्यादा वेट नहीं करेगी. वो चलते हुए चीजों से टकरा जाती है. हालंकि, अब धीरे-धीरे वो माहौल में ढल रही है. टीम ने लोगों से ऐसे यूनिक ब्रीड की जगह नेचुरल ब्रीड को अडॉप्ट करने की सलाह दी है. उन्होंने बताया कि ये खतरनाक है और इससे कई बार ऐसे बच्चे पैदा हो जाते हैं जिन्हें पालना काफी मुश्किल होता है. अब 18 हफ्ते की हो चुकी टीकप अपने नए मालिक का इन्तजार कर रही है. लेकिन फिलहाल वो रेस्क्यू टीम के साथ ही रह रही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज