Home /News /ajab-gajab /

पाकिस्तानियों का एक और घिनौना रुप आया सामने, बच्चों के साथ ऐसी बर्बरता कर कमा रहे पैसे

पाकिस्तानियों का एक और घिनौना रुप आया सामने, बच्चों के साथ ऐसी बर्बरता कर कमा रहे पैसे

परंपरा के नाम पर बच्चों का चेहरा बिगाड़ मंगवाते हैं भीख (इमेज- AFP)

परंपरा के नाम पर बच्चों का चेहरा बिगाड़ मंगवाते हैं भीख (इमेज- AFP)

पाकिस्तान (Pakistan) इन दिनों बढ़ती महंगाई की वजह से चर्चा में है. इस देश में कुछ भी नॉर्मल दिखाई नहीं दे रहा. इस बीच देश में रैट चिल्ड्रन (Rat Children) या चूहा की चर्चा ने जोर पकड़ा है. इन बच्चों को जानते हुए अपाहिज बना दिया जाता है. इसके बाद इनसे भीख मंगवाई जाती है.

अधिक पढ़ें ...

    भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान (Pakistan) में ऐसी कई चीजें होती हैं जिन्हें देखकर खून खौल जाता है. इस देश में परंपरा के नाम पर महिलाओं से लेकर बच्चों तक को टॉर्चर किया जाता है. अब इस देश की एक ऐसी परंपरा सोशल मीडिया (Social Media) पर शेयर की जा रही है जिसे जानकर लोगों का दिल दहल जाएगा. यहां कुछ बच्चों को जन्म के बाद जबरदस्ती लोहे के बने मास्क में बांध दिया जाता है. ऐसा करके उनके माथे को बड़ा होने से रोका जाता है. जब बच्चे का मुंह बिगड़ जाता है, तो उनसे भीख मंगवा कर पैसे कमाए जाते हैं.

    इन बच्चों का माथा विकृत होता है. साथ ही इनका सिर अजीब सा बना दिया जाता है. चेहरे को भी खराब कर दिया जाता है. बच्चे का चेहरा जितना ज्यादा बर्बाद हो, उसे उतना ही अच्छा माना जाता है. इन बच्चों को पाकिस्तान में चूहा या रैट चिल्ड्रन कहा जाता है. पाकिस्तान में ऐसा कहा जाता है कि अगर इन बच्चों को जिन्हें चूहा बुलाया जाता है अगर पैसे देने से इंकार किया, तो ये खराब किस्मत को न्योता देता है. इस डर से लोग इन बच्चों को पैसे देते हैं. इसी वजह से बच्चों को जानते हुए ऐसा बनाया जाता है.

    rat children of pakistan

    कई बच्चों को उनके मां-बाप ही भीख मांगने के लिए छोड़ देते हैं

    पाकिस्तान में पहले बीमारी की वजह से ऐसे चेहरे के साथ पैदा हुए बच्चों को पैसे मिलते थे. लेकिन अब कई क्रिमिनल गैंग और कुछ लालची मां-बाप ही अपने नॉर्मल बच्चे को भी जन्म के तुरंत बाद लोहे के मास्क से बांधकर उनका चेहरा बर्बाद कर देते हैं. कुछ गैंग्स तो बच्चों को किडनैप कर उन्हें वीभत्स तरीके से रैट चिल्ड्रन बनाकर उनसे भीख मंगवाते हैं. ऐसे में सवाल उठता है कि ये परंपरा शुरू कहां से हुई?

    rat children of pakistan

    माना जाता है कि अगर इन बच्चों को भीख नहीं दी जाए तो ये खराब किस्मत को न्योता देता है

    इस वीभत्स परंपरा को 17वीं शताब्दी से पाकिस्तान में ढोया जा रहा है. कहा जाता है कि उस सदी में एक मुस्लिम धर्म गुरु था जो बच्चों के माथे पर सजावट के लिए हेलमेट लगाता था. इस हेलमेट को उसकी केयर के रूप में देखा जाता था. बदले में ये बच्चे उसके लिए भीख मांगा करते थे. ये धर्म गुरु कई बांझ माता-पिता को बच्चों का आशीर्वाद इस शर्त पर देता था कि उन्हें अपना पहला बच्चा दान करना पड़ेगा. आज के समय में पाकिस्तान के सड़कों पर ऐसे कई बच्चे आपको नजर आ जाएंगे. हालांकि, अब इनमें से ज्यादातर बच्चे किडनैप कर या माता-पिता के लालच की वजह से अपने बर्बाद चेहरों के साथ भीख मांगने को मजबूर हैं.

    Tags: Muslim traditions, Pakistan, Shocking news, Weird news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर