होम /न्यूज /अजब गजब /

बोतल का ढक्कन खोलने से लेकर इंजेक्शन तक लगाएगा रोबोट ! उठा लेगा 30 किलो का वज़न भी

बोतल का ढक्कन खोलने से लेकर इंजेक्शन तक लगाएगा रोबोट ! उठा लेगा 30 किलो का वज़न भी

वैज्ञानिकों (Scientists Developed Nimble Robot) ने एक ऐसे रोबोट को विकसित किया है, जो हमारी ज़िंदगी के छोटे-छोटे काम बड़ी आसानी से निपटा सकता है. (Credit- YouTube)

वैज्ञानिकों (Scientists Developed Nimble Robot) ने एक ऐसे रोबोट को विकसित किया है, जो हमारी ज़िंदगी के छोटे-छोटे काम बड़ी आसानी से निपटा सकता है. (Credit- YouTube)

अमेरिका (United States News) के लास वेगास (Las Vegas) में होने वाले इलेक्ट्रॉनिक शो (2022 Consumer Electronics Show ) में इस रोबोट को प्रदर्शित किया जाएगा, जो बोतल खोलने के से लेकर इंजेक्शन लगाने तक का काम परफेक्ट तरीके से कर सकता है.

अधिक पढ़ें ...

    टेक्नोलॉजी (New Technology) की दुनिया में हर दिन कुछ न कुछ ऐसा नया होता है, जो हमारी ज़िंदगी को पहले से बेहतर बना सकता है. इसी सिलसिले में वैज्ञानिकों (Scientists Developed Nimble Robot) ने एक ऐसे रोबोट को विकसित किया है, जो छोटे-छोटे काम बड़ी आसानी से निपटा सकता है. इस रोबोट को साल 2022 के कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स शो (2022 Consumer Electronics Show ) में दुनिया के सामने पेश किया जाएगा.

    Beomni 1.0 नाम के इस रोबोट को पहली बार दुनिया के सामने रखा जाएगा. रोबोट की खासियत ये है कि ये बोतल का ढक्कन खोलने और इंजेक्शन लगाने जैसे काम भी अच्छी तरह से कर सकता है. ये इतना ज्यादा मजबूत है कि 30 किलोग्राम के वजन को भी उठाकर ले जा सकता है.

    इंसान की मदद के लिए बना रोबोट
    अब तक टीवी पर विलेन के तौर पर दिखने वाले साइबरमेन को वैज्ञानिकों ने इंसानों की मदद के लिए तैयार किया है. Beomni 1.0 नाम का रोबोट इनमें से ही एक है. Daily Mail की रिपोर्ट के मुताबिक रोबोट इतना चतुर है कि बोतल का ढक्कन खोल सकता है, नमक को चुटकी से उठाकर सर्व कर सकता है और ज़रूरत पड़ने पर 30 किलोग्राम तक के वज़न को हटा सकता है. पहले इसे इंसानों के द्वारा ऑपरेट किया जाएगा और फिर इसका आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वाला दिमाग खुद चीज़ों को सीख लेगा. ये रोबोट इंजेक्शन भी लगा सकता है और टेम्परेचर लेने की भी ट्रेनिंग इसे दी गई है.

    ये भी पढ़ें- खूबसूरत क्लासमेट को इम्प्रेस करने के लिए सीखी फ्रेंच, पता लगा जर्मन थी लड़की ! 

    अस्पतालों के लिए वरदान बनेगा रोबोट
    रोबोट के ट्रायल के दौरान इसने सारे काम ठीक तरीके से किए और मरीज़ों के साथ नाचकर भी दिखाया. इसके हाथ इंसानों की तरह डिज़ाइन किए गए हैं. ये मड और स्नो में भी काम कर सकता है और वेयरहाउस में फल भी उठा सकता है. Beomni 1.0 अमेरिकन वैज्ञानिक डॉक्टर हैरी क्लूर का बनाया हुआ है. इस रोबोट की शुरुआती कीमत £110,000 यानि भारतीय मुद्रा में 1 करोड़ 10 लाख रखी गई है, जो मांग के बाद और गिरने की उम्मीद है. इसके मेकर्स का दावा है कि रोबोट को लोगों की नौकरी खाने के लिए बल्कि उन सेक्टर्स में मदद के लिए बनाया गया है, जहां स्टाफ की कमी है.

    Tags: New Invention, Science news, Technology

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर