चार साल के इस बच्चे को याद है पिछले जन्म की हर छोटी-छोटी बातें

ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 8, 2017, 10:20 AM IST
चार साल के इस बच्चे को याद है पिछले जन्म की हर छोटी-छोटी बातें
Photo: Pradesh18.com
ETV UP/Uttarakhand
Updated: January 8, 2017, 10:20 AM IST
भले ही विज्ञान पुनर्जन्म की बात को मनगढ़ंत कहकर खारिज करता रहा हो, लेकिन भूटान के राज घराने के बालक रिनपोछे ने पिछले जन्म की कहानी बता कर सनसनी फैला दी थी.

अब वही कहानी उत्तर प्रदेश में बौद्ध तपोस्थली श्रावस्ती में दोहरायी जा रही है. जिले के शिव बालकपुरवा में चार साल के सूर्य प्रकाश बबलू ने पुनर्जन्म की कहानी अपनी तोतली जुबान से सुनाकर विज्ञान को चुनौती दे डाली है.

देखने के लिए लोगों का तांता लगा
पुनर्जन्म की बात पूरे इलाके में फैलने से बबलू को देखने के लिए लोगों का तांता लगा हुआ है. उसकी कहानी सुनकर लोग दांतों तले अंगुली दबाने को विवश हैं.

ये भी पढ़ें- अजमेर में दो सिर वाले बच्चे का जन्म, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो


बबलू का घर श्रावस्ती जिले में भिन्गा कोतवाली क्षेत्र के शिव बालक पुरवा में है. चार साल के इस बच्चे का कहना है कि पिछले जन्म में वह दिल्ली से आगे मनवाला गांव के निवासी शिवशंकर का बेटा चन्द्रमूड़ी है. यह परिवार लोनिया बिरादरी है.

शिवशंकर के तीन संतान थे, जिनमें दो बेटे थे. इनके नाम शिवनाथ और भोला थे. उसकी एक बेटी सूर्यमुखी भी थी.

पिछले जन्म में किसान था
बबलू का कहना है कि वह पिछले जन्म में किसान था. उसके पास 10 बीघा जमीन थी. उसके पास 9 कमरों का पक्का मकान था और साथ में ट्रैक्टर भी. वह अपने भाइयों में सबसे बड़ा था.

बबलू ने बताया कि 90 साल की उम्र में उसकी मौत हो गई. मौत के दस साल बाद उसने यहां नया जन्म लिया.

ये भी पढ़ें- इस परिवार की चार पीढ़ी को जन्म के साथ ही मिल रही हैं 24 अंगुलियां


बबलू के पिता का कहना है कि उसके बेटे ने करीब दस दिनों से पिछले जन्म की बात बतानी शुरू की है. बबलू अभी चार साल का है वह अपनी मां का दूध पीता है.

पिछले जन्म की बातें सुन मां भी हैरान 
दस दिन पहले वह शाम को मां से दूध पिलाने की जिद कर रहा था, लेकिन काम की व्यस्तता के चलते उन्हें टाल दिया. बिस्तर पर लेटने की बात कहकर वह काम में व्यस्त हो गई.

जब उसकी मां बिस्तर पर गई तो बबलू जाग रहा था. मां ने उन्हें उसे डांटते हुए कहा कि तुम अभी तक सोए नहीं. इस बात से बबलू नाराज हो गया और अपनी मां को अपनी मां न होने की बात कहकर पिछले जन्म की बात बताने लगा.

ये भी पढ़ें- ये हैं शाहजहांपुर के ‘करण-अर्जुन’, पिछले जन्म में डूबकर हुई थी मौत


रात को मां ने बबलू की बात को गुस्सा समझ कर टाल दिया. दूसरे दिन सुबह फिर उसने पिछले जन्म की बात करनी शुरू कर दी. तब उन्होंने उससे पिछले जन्म की बात पूछनी शुरू कर दी, तब वह धीरे-धीरे करके पिछले जन्म की सारी बातें बताने लगा.

बबलू के पिता ने बताया कि अब वे बबलू की बातें की सच्चाई जानने के लिए दिल्ली के निकट के इलाको में मनवाला गांव होने की पता करा रहे हैं. इससे पता चल सकेगा कि आखिर बबलू ये बातें क्यों बता रहा है.
First published: January 8, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर