चीनी सेना की स्लीप ट्रेनिंग को ट्रोल कर रहे हैं भारतीय, बताया ओवर एक्टिंग दुकान

चीनी सेना की स्लीप ट्रेनिंग को ट्रोल कर रहे हैं भारतीय, बताया ओवर एक्टिंग दुकान
फोटो साभारः ट्विटर

सोशल मीडिया (Social Media) पर भारतीय यूजर्स चीनी सेना (Chinese Army) को ट्रोल कर रहे हैं. चीनी मीडिया के प्रमुख अखबारों में शामिल ग्लोबल टाइम्स द्वारा हाल ही में पोस्ट किए गए एक वीडियो पर भारतीयों ने अपने बॉलीवुड-स्तर के स्क्रिप्ट वाले वीडियो के लिए पेपर को ट्रोल किया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. गलवान घाटी (Galvan Valley) में चीन और भारतीय सेना (Indian army) के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद लोगों में काफी गुस्सा देखने को मिल रहा है. इस घटना के बाद ट्विटर पर #BoycottChineseGoods ट्रेंड करने लगा था. इस ट्रेंड में देश के कई हिस्सों में लोगों ने चाइनीज चीजों को तोड़कर सड़कों पर भी फेंका. अब सोशल मीडिया (Social Media) पर भारतीय यूजर्स चीनी सेना (Chinese Army) को ट्रोल कर रहे हैं. चीनी मीडिया के प्रमुख अखबारों में शामिल ग्लोबल टाइम्स द्वारा हाल ही में पोस्ट किए गए एक वीडियो पर भारतीयों ने अपने बॉलीवुड-स्तर के स्क्रिप्ट वाले वीडियो के लिए पेपर को ट्रोल किया है.

ग्लोबल टाइम्स द्वारा पोस्ट किए गए इस वीडियो में सैनिक प्रशिक्षण के बाद सोते हुए नजर आ रहे हैं. इस वीडियो में को शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा गया है कि प्रशिक्षण के बाद भी चीन की सेना के जवान हथियार नहीं उतारते हैं.
इसके बाद भारतीय यूजर्स ने चीनी सेना को ट्रोल करना शुरू कर दिया. सोशल मीडिया यूजर्स का कहना है कि ये लोग ओवर एक्टिंग की दुकान हैं. इतनी ज्यादा ओवरएक्टिंग? वह भी चीनी बंदूकों के लिए?ये भी पढ़ेंः- पत्थर पर रेंगता दिखा अजीबो-गरीब जानवर, लोग बोले सांप....लेकिन देखिए Viral Video वहीं, एक यूजर ने कहा ये चीनी सेना नहीं बल्कि टिकटॉक आर्मी है. कृष्णा नाम के यूजर का कहना है कि ये ओवरएक्टिंग है और इसके 50 रुपये काटे जाने चाहिए.ये भी पढ़ेंः- बैल की समझदारी का कायल हुआ सोशल मीडिया, यूजर्स ने कहा, 'ये आत्मनिर्भर है', देखें Video टिकटॉक के स्टार इससे अच्छे वीडियो बनाते हैं रे बाबा एक यूजर ने कहा, वाह-वाह क्या बात है कितनी ओवर एक्टिंग हैं, कितनी ज्यादा...

बता दें कि 17 जून को पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी चीन और भारत की सेना के आमने-सामने के संघर्ष में भारतीय सेना के एक अधिकारी समेत 19 जवान शहीद हो गए थे. 45 साल बाद ऐसा मौका है जब भारत और चीन की सीमा पर इस तरह का खूनी संघर्ष हुआ है. इस संघर्ष के बाद भारत और चीन मामले को सुलझाने में लगे हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading