Home /News /ajab-gajab /

Shocking : बीमारियों के इलाज का अजीबोगरीब तरीका, मरीज़ों के शरीर पर लगा दी जाती है आग !

Shocking : बीमारियों के इलाज का अजीबोगरीब तरीका, मरीज़ों के शरीर पर लगा दी जाती है आग !

चीन में छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी बीमारी का इलाज इसी फायर थेरेपी (Chinese Fire Therapy) से किया जाता है. (Credit-  Mandere/Twitter)

चीन में छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी बीमारी का इलाज इसी फायर थेरेपी (Chinese Fire Therapy) से किया जाता है. (Credit- Mandere/Twitter)

Fire Therapy : ज़रा सोचिए आपको शरीर के किसी हिस्से में दर्द हो और डॉक्टर उस हिस्से (Weird Medical Treatments) पर आग लगा दें, तो कैसा होगा? सुनकर ही आप चौंक गए होंगे, लेकिन चीन (Chinese Medical Treatment) में बीमारियों के इलाज का ये तरीका आम है. यहां छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी बीमारी का इलाज इसी फायर थेरेपी (Chinese Fire Therapy) से हो जाता है. मरीज़ों के एक्यूपंक्चर वाली जगहों पर सूइयां चुभाई जाती हैं और आग के ज़रिये उनमें सेक ही जाती है. आपको सुनकर भयानक लग रहा होगा, लेकिन चीन में ये सदियों (Traditional Fire therapy) से किया जाने वाला इलाज है.

अधिक पढ़ें ...

    दुनिया में शारीरिक रोगों का इलाज (Weird Medical Treatments) करने वाली तमाम पद्धतियां हैं. ज्यादातर लोग एलोपैथिक दवाओं (Allopathic Treatment) का इस्तेमाल करते हैं, तो कुछ लोग आज भी होमियोपैथिक (Homeopathic Treatment) और आयुर्वेदिक पद्धति (Ayurvedic Treatment) से बीमारियां ठीक करने में भरोसा करते हैं. हालांकि आपने अब तक किसी ऐसे मेडिकल ट्रीटमेंट (Unique method of treatment) के बारे में नहीं सुना होगा, जिसमें मरीज़ के शरीर पर सीधा आग (Fire Therapy) लगा दी जाती हो.

    चीन में ये अजीबोगरीब इलाज (Chinese Medical Treatment) की पद्धति अपनाई जाती है. इसे फायर थेरेपी (Chinese Fire Therapy) कहा जाता है. इस अनोखी थेरेपी के ज़रिये शरीर की तमाम छोटी-बड़ी बीमारियों का इलाज किया जाता है. दावा किया जाता है कि फायर थेरेपी के ज़रिये डिप्रेशन और बदहजमी से लेकर कैंसर जैसी बीमारियों का भी इलाज संभव है.

    सदियों से हो रहा है इलाज
    बताया जाता है कि चीन में फायर थेरेपी कोई नई चीज़ नहीं है, बल्कि पिछले 100 सालों से ये पद्धति अपनाई जा रही है. ये अनोखा ट्रीटमेंट तमाम असाध्य बीमारियों को भी ठीक करने की क्षमता रखता है. दुनिया में अकेला चीन ही इस तरह की थेरेपी पर विश्वास करता है. दावा किया गया है कि इससे कई गंभीर बीमारियां ठीक भी की जा चुकी हैं. चीन की पारंपरिक इलाज की पद्धति में गर्म और ठंडे के बीच का संतुलन शरीर पर किया जाता है. चाइनीज़ में इसे ‘क्वि’ और ‘शी’ कहा जाता है, जिसे ज़िंदगी को चलाने वाला तत्व मानते हैं. चीन के अलावा ऑकलैंड और इजिप्ट में भी इस थेरेपी को परफॉर्म किया जाता है.

    ये भी पढ़ें- Shocking : पल भर में रूप बदल लेती है महिला, नहीं पहचान पाता कोई भी !

    कैसे की जाती है फायर थेरेपी?
    यूं तो फायर थेरेपी चीन की पारंपरिक इलाज की पद्धति है, लेकिन अब वहां की हर्बल मेडिसिन कंपनी कुआन जियान भी इसे प्रमोट कर रही है. इसमें एक गीली तौलिया पर थोड़ी एल्कोहॉल डाली जाती है. इसे सीधा मरीज़ की त्वाचा पर रखा जाता है और आग लगा दी जाती है. माना जाता है कि इसकी गर्मी से शरीर को फायदा पहुंचता है. थेरेपी में कुछ हर्बल पेस्ट पर मरीज़ के शरीर पर लगाया जाता है और एक्यूपंचर प्वाइंट पर नीडल के ज़रिये भी हीट पहुंचाई जाती है. जो बीमारियां ठीक कराने के लिए लोग ये थेरेपी कराते हैं, उनमें जोड़ों का दर्द, कंधे का दर्द, सर्वाइकल, अर्थराइटिस शामिल हैं. हालांकि इससे अन्य बीमारियां ठीक होने का भी दावा किया जाता है.

    Tags: Bizarre story, China, Medical

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर