एक विवाह ऐसा भी: दूल्हे ने ऐसे पूरी की दुल्हन की 'रामायण' स्टाइल शर्त

उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में एक जोड़े ने अनोखी शादी रचाई और नई-नवेली दुल्हन ने शादी विवाह की पुरानी संस्कृति और रीत-रिवाज के साथ करने की शर्त रख दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 22, 2019, 12:12 PM IST
  • Share this:
उत्तर प्रदेश के गोंडा में दुल्हन ने शादी से पहले दूल्हे के सामने एक अनोखी शर्त रखी. नई नवेली दुल्हन शेफाली ने एक अनोखी पेशकश की और बोली की दूल्हा पहले धनुष तोड़े फिर शादी करूंगी. इसके बाद मंडप में पहुंचे दूल्हे ने वहां रखे एक धनुष को उठाया और उसे तोड़ दिया. इससे पहले दूल्हन एक पालकी में सवार हुई जिसे कुछ लोग अपने कंधे पर रख कर उसे मंडप तक लेकर आए. इस दौरान वहां मौजूद लोग दुल्हन पर फूलों की बारिश करते दिखाई दिए.

ये भी देखें- VIDEO: छपरा में छाए जयशंकर, कबाड़ से ऐसे बनाई ई-साइकिल

उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में एक जोड़े ने अनोखी शादी रचाई और नई नवेली दुल्हन ने शादी विवाह की पुरानी संस्कृति और रीत-रिवाज के साथ करने की शर्त रख दी. बस फिर क्या था परिजनों ने बाकायदा स्वयंवर रचाकर धनुष की व्यवस्था की, फिर दूल्हे ने धनुष तोड़ा और दुल्हन ने वरमाला डाली जिससे शादी संपन्न हुई.



दुल्हन ने बताया की उसको अपनी संस्कृति और रीति रिवाज से प्रेम है. तो वहीं इस अवसर पर दूल्हे ने बताया कि लड़की ने कहा था कि धनुष तोड़कर ही वरमाला डालू, अगर धनुष न तोड़ पाता तो वह मुझे न अपनाती. पुलवामा में शहीद सैनिकों के बारे में दूल्हे ने बताया कि मुझे अपनी शादी की खुशी तब ज्यादा होगी जब दोबारा सर्जिकल स्ट्राइक होगी. दुल्हन ने बताया कि हमारी शादी राम और सीता जैसी हो और मेरे पति मुझे धनुष तोड़ कर अपनाएं, मुझे अपनी संस्कृति को फॉलो करना चाहिए.



लोग अपनी शादी को यादगार बनाने के लिए अलग अलग तरीक़े अपनाते हैं, और यही वजह है कि शेफाली ने भी अपनी शादी को यादगार बनाने के लिए स्वयंवर रचाया और धूम धाम से शादी की.

ऐसी ही अजब-ग़ज़ब कहानियों और VIDEOS के लिए क्लिक करें 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading