Home /News /ajab-gajab /

childrens umbrella video brings back old memories on the internet

एक ही छाते से बचते दिखे कई सारे बच्चे, इंटरनेट पर वायरल हो रहा ये खूबसूरत वीडियो

छाते में फिट होने की कोशिश कर रहे बच्चें

छाते में फिट होने की कोशिश कर रहे बच्चें

इस छोटी सी वीडियो में लगभग छह बच्चों को एक ही छतरी के नीचे चलते हुए देखा जा सकता है. इसमें तीन बच्चे स्कूल यूनिफॉर्म पहने नजर आ रहे हैं. एक छोटा लड़का स्लेट पकड़े नजर आ रहा है. बच्चे एक ही छाते में खुद को एडज्ट करते हुए बारिश की बूंदा बूंदी के बीच धीरे-धीरे आगे बढ़ रहे है.

अधिक पढ़ें ...

एक छाते में फिट होने की कोशिश कर रहे बच्चों के एक ग्रुप को सड़क के किनारे चलते हुए देख एक शानदार वीडियो ने इंटरनेट पर लोगों का दिल जीत लिया है.
इस वीडियो को इंडियन एडमिनिस्ट्रेव सर्विस के अधिकारी अवनीश शरण ने ट्विटर पर शेयर किया. जिस तरह से बच्चों को सड़क पर घूमते हुए देखा जाता है, इस वीडियो से कई यूजर्स की पुरानी यादें ताजा हो गईं और बचपन के दिन याद आ गए.
इस छोटी सी वीडियो में लगभग छह बच्चों को एक ही छतरी के नीचे चलते हुए देखा जा सकता है. इसमें तीन बच्चे स्कूल यूनिफॉर्म पहने नजर आ रहे हैं. एक छोटा लड़का स्लेट पकड़े नजर आ रहा है. बच्चे एक ही छाते में खुद को एडज्ट करते हुए बारिश की बूंदा बूंदी के बीच धीरे-धीरे आगे बढ़ रहे है.

एक यूजर ने लिखा- ‘यह वीडियो मुझे मेरे बचपन के दिनों की याद दिलाता है. उनके चेहरे की मासूमियत, खुशी अनमोल है.’ एक दूसरे यूजर ने बच्चों के ग्रुप को देखते हुए लिखा- ‘यह एक दूसरे की देखभाल कर रहे हैं. इनको एक दूसरे से कोई शिकायत नहीं है और कोई इगो नहीं है.’
एक तीसरे यूजर ने कहा, ‘मैं यहां हूं, मैं एक छाता रखने वाले बच्चों में से एक था और हम सभी इसका इस्तेमाल करते थे. यह मेरी बचपन की याद है.’ एक चौथे यूजर ने लिखा- ‘यह वीडियो मेरे बचपन के दिनों की याद दिलाती है. लगभग 2 किमी पैदल चलना. कीचड़ भरे गांव की सड़क पर 4 दोस्तों के साथ 1 छाता साझा करते हुए चला करता था. बस अंतर इतना है कि उस समय हमारे पास चप्पल नहीं थे.’

इस वीडियो को कहा शूट किया गया है, इसकी जानकारी अभी नहीं है. लेकिन समाचार लिखे जाने तक इस वीडियो को 7.5 लाख व्यूज मिल चुके हैं.

Tags: Viral video

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर