Home /News /ajab-gajab /

indian runner duck looks like penguins run faster than other ducks stand upright ashas

पेंगुइन की तरह चलने वाली अनोखी बत्तख, 1 साल में देती है 350 अंडे, दौड़ने की गति देख हैरान रहते हैं लोग

बाईं तरफ इंडियन रनर बत्तख, दाईं तरफ आम बत्तख. (फोटो: Canva)

बाईं तरफ इंडियन रनर बत्तख, दाईं तरफ आम बत्तख. (फोटो: Canva)

आज हम जिस बत्तख (fastest duck which stands upright) की बात बताने जा रहे हैं वो बाकी से इस मामले में अलग है कि उसका शरीर आगे की तरफ झुका नहीं है, बल्कि किसी पेंगुइन (Penguin ducks) की तरह सीधा है. यानी जैसे इंसान दो पैरों पर पीठ सीधी किए रहते हैं, बिल्कुल वैसे ही.

अधिक पढ़ें ...

दुनिया में कई तरह के विचित्र प्राणी हैं जिनके बारे में जानकर लोग दंग हो जाते हैं. कुछ अपने रूप-रंग के कारण विचित्र बन जाते हैं तो कुछ अपनी अलग तरह शक्तियों से. कई बार तो इन जानवरों की नस्लें एक दूसरे से इतनी अलग होती हैं कि लोगों को लगता है वो अलग ही जीव हैं. आज हम एक ऐसे ही जीव के बारे में बताने जा रहे हैं. आपने बत्तख (Indian runner ducks) तो देखी ही होगी, आगी की तरफ झुकी हुई, धीरे कदमों से चलती और पानी में शांति से तैरती हुई.

मगर आज हम जिस बत्तख की बात बताने जा रहे हैं वो बाकी से इस मामले में अलग है कि उसका शरीर आगे की तरफ झुका नहीं है, बल्कि किसी पेंगुइन (Penguin ducks) की तरह सीधा है. यानी जैसे इंसान दो पैरों पर पीठ सीधी किए रहते हैं, बिल्कुल वैसे ही. और गति में भी ये बाकी बत्तखों (Indian runner ducks speed) से बेहद तेज है. हम जिस बत्तख की बात कर रहे हैं उसे इंडियन रनर बत्तख कहते हैं.

indian runner duck 1

इस बत्तख की ऐसी बनावट इसलिए होती है क्योंकि इसका पेल्विस पूंछ के भाग की तरह ज्यादा होता है. (फोटो: Canva)

इंडोनेशिया में पहली बार दिखी थी बत्तख
वैसे इस जीव का नाम गलत पड़ा. ये बत्तख भारत में नहीं, इंडोनेशिया (Indonesia) में पहली बार 1800 के दशक में दिखी थी. यूरोपीय लोगों ने इसे देखा था. वो भी तब इस बात से दंग हुए थे कि उनका शरीर बिल्कुल सीधा था. अब तो ये बत्तख हर महाद्वीप पर पाई जाती है मगर एशिया के बाहर आज भी लोग इन्हें हैरानी से देखते हैं.

1 साल में देती हैं 350 अंडे
जैसा कि हमने पहले बताया कि इनके खड़े होने का तरीका पेंगुइन की तरह से है. वहीं इनके भागने की स्पीड दूसरी बत्तखों से बेहद ज्यादा है. इसलिए इनके नाम के साथ रनर शब्द जुड़ा हुआ है. ये जीव न्यूट्रिशन से भरी कई तरह की चीजें खाते हैं और इंडोनेशिया और थाइलैंड में इन्हें चावल के खेतों में छोड़ दिया जाता है जिससे ये पेस्ट को खा सकतें. आपको बता दें कि इनका मांस काफी स्वादिष्ट बताया जाता है मगर मांस से ज्यादा इन्हें अंडों के लिए पाला जाता है क्योंकि ये 1 साल में 300 से 350 अंडे दे सकती हैं.

Tags: Ajab Gajab news, Weird news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर