Home /News /ajab-gajab /

हवाई जहाज में पायलट और को-पायलट को क्यों खिलाया जाता है अलग-अलग खाना? जानें इसके पीछे का कारण

हवाई जहाज में पायलट और को-पायलट को क्यों खिलाया जाता है अलग-अलग खाना? जानें इसके पीछे का कारण

पायलट और को-पायलट को सुरक्षा कारणों से अलग-अलग खाना सर्व किया जाता है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पायलट और को-पायलट को सुरक्षा कारणों से अलग-अलग खाना सर्व किया जाता है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

ऐसी कई घटनाएं इतिहास में दर्ज हैं जिसमें प्लेन का खाना खाने के कारण लोगों को फूड पॉइजनिंग (Pilots Food Poisoning) की परेशानी हो गई है. इस समस्या से बचने के लिए अब बेहद सतर्क कदम उठाया जाता है. पायलट और को-पायलट को अलग-अलग खाना खिलाया (Pilots and Co-Pilots Served Different Food) जाता है जिससे अगर फूड पॉइजनिंग की नौबत भी आए तो दोनों में से एक पायलट सुरक्षित रहे. कई एयरलाइन्स तो अपने पायलट्स के लिए यात्रियों से अलग खाना बनाकर सर्व करती हैं.

अधिक पढ़ें ...

    अगर आपने कभी हवाई जहाज में यात्रा की होगी तो ये गौर किया होगा कि एक प्लेन में दो पायलट्स (Pilots in Aeroplane) होते हैं. ट्रेन के ड्राइवर की ही तरह प्लेन में भी दो पायलट बैठाने का करण होता है यात्रियों की सुरक्षा और सुविधाजनक यात्रा. पर क्या आप जानते हैं कि प्लेन के दोनों पायलट्स को एक ही खाना (Pilots served different foods in Plane) नहीं दिया जाता. उन्हें हमेशा ही अलग-अलग भोजन (Different meals for Pilot and Co-Pilot) दिया जाता है. इसके पीछे जो कारण वो काफी रोचक है.

    साल 1984 में लंदन से न्यूयॉर्क के बीच चलने वाली कॉनकॉर्ड सुपरसॉनिक फ्लाइट पर चौंकाने वाली घटना घटी थी. फ्लाइट पर सवार 120 यात्री और क्रू के सभी सदस्यों को गंदा खाना खाने के चलते फूड पॉइजनिंग (food poisoning in aeroplane) हो गई थी. इसके बाद उन्हें बुखार, उल्टी, और डायरिया हो गया था. न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक फूड पॉइजनिंग से एक शख्स की तो मौत भी हो गई थी. पायलट्स को भी काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा था. द टेलिग्राफ की एक रिपोर्ट के अनुसार ब्रिटिश रेजिस्टर्ड एयरलाइन में साल 2009 में फूड पॉइजनिंग के 32 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 2007 में 39 मामले आए थे.

    फूड पॉइजनिंग से बचने के लिए देते हैं अलग खाना
    ऐसी कई घटनाएं दर्ज हैं जिसमें प्लेन का खाना खाने के कारण लोगों को फूड पॉइजनिंग (Pilots Food Poisoning) की परेशानी हो गई है. इस समस्या से बचने के लिए अब बेहद सतर्क कदम उठाया जाता है. पायलट और को-पायलट को अलग-अलग खाना खिलाया जाता है जिससे अगर फूड पॉइजनिंग की नौबत भी आए तो दोनों में से एक पायलट सुरक्षित रहे.

    कई एयरलाइन्स पायलट्स के लिए बनाती हैं अलग खाना
    साल 2012 में सीएनएन द्वारा किए गए एक कोरियन पायलट के इंटरव्यू में भी इस बात का खुलासा हुआ था. रिपोर्ट के मुताबिक उसने बताया था कि दोनों पायलट को फूड पॉइजनिंग से बचाने के लिए अलग-अलग खाना दिया जाता है. आमतौर पर पायलट को फर्स्ट क्लास का खाना दिया जाता है तो को पायलट को बिजनेस क्लास का खाना मुहैया कराया जाता है. यही नहीं, कुछ रिपोर्ट्स की मानें तो कई एयरलाइन्स कॉकपिट के क्रू के लिए पूरी तरह से अलग खाना बनाती हैं. पायलट को अलग से उनका खाना एयरलाइन की तरफ से दिया जाता है जो यात्रियों के खाने से अलग और सादा होता है.

    Tags: Ajab Gajab news, OMG News

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर