Home /News /ajab-gajab /

8 बच्चों के साथ 2 कमरे के घर में रहने को मजबूर है महिला, बिस्तर पर सोने के लिए लगता है नंबर!

8 बच्चों के साथ 2 कमरे के घर में रहने को मजबूर है महिला, बिस्तर पर सोने के लिए लगता है नंबर!

महिला ने बताया कि उसके घर में चलने की भी जगह नहीं है, ना ही कपड़े रखने के लिए अलमारी या शेल्फ है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

महिला ने बताया कि उसके घर में चलने की भी जगह नहीं है, ना ही कपड़े रखने के लिए अलमारी या शेल्फ है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इंग्लैंड (England) के बेलफास्ट में रहने वाली जोलीन एलसॉप (Jolene Alsopp) प्रशासन से गुहार लगा रही हैं कि उनको बड़ा घर मुहैया करा दिया जाए. वो अपने घर में अपने 7 बच्चों और एक भांजे के साथ रहती हैं. घर में सिर्फ 2 कमरे हैं और कुल 9 लोगों को एक ही घर (9 people live in 2 rooms) में बड़ी ही मुश्किलों में रहना पड़ता है.

अधिक पढ़ें ...

    हर इंसान चाहता है कि उसका घर बड़ा हो और उसमें सारी सुख-सुविधाएं मौजूद हों. लोग घर को सुंदर बनाना चाहते हैं जिसमें वो आराम से रह सकें. मगर सभी को बड़ा और आलिशान घर नसीब नहीं होता है. कुछ लोगों को छोटे घरों में भी गुजारा करना पड़ता है. ऐसे में उनकी मुश्किलें काफी बढ़ जाती हैं. हाल ही में एक महिला ने अपनी मुश्किलों के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि वो 2 कमरे के घर में रहती हैं और उनके 7 बच्चे (7 children living in 2 rooms with mother) हैं. इसके साथ उनका एक भांजा भी रहता है. यानी कुल 9 लोग सिर्फ 2 कमरे में रहते हैं.

    इंग्लैंड (England) के बेलफास्ट में रहने वाली जोलीन एलसॉप (Jolene Alsopp) प्रशासन से गुहार लगा रही हैं कि उनको बड़ा घर मुहैया करा दिया जाए. वो अपने घर में अपने 7 बच्चों और एक भांजे के साथ रहती हैं. घर में सिर्फ 2 कमरे हैं और कुल 9 लोगों को एक ही घर में बड़ी ही मुश्किलों में रहना पड़ता है. घर में चलने फिरने की जगह नहीं है. सभी को जैसे-तैसे चलने की जगह मिलती है. जोलीन का पहला बच्चा 13 साल का है जबकि आखिरी बच्चा 7 महीने का है. नॉरदर्न आयरलैंड हाउसिंग एक्जिक्यूटिव (Northern Ireland Housing Executive) ने कहा कि वो जल्द से जल्द उनके लिए बड़ा घर मुहैया कराएंगे.

    35 साल की जोलीन ने डेली स्टार से बात करते हुए कहा- “हम पिछले 7 महीनों से इस घर में रह रहे हैं और हमारा यहां रहना नरक से बेकार हो गया है. मैं यहां इसलिए हूं क्योंकि मैं जब अपने सबसे छोटे बच्चे को जन्म दे रही थी तब मैं मानसिक ब्रेकडाउन से गुजर रही थी. इसके अलावा मेरी जिंदगी में कई पर्सनल इश्यू भी चल रहे थे. मेरा घर इतना छोटा है कि मैं बच्चों के बीच रात भर सो ही नहीं पाती हूं. बच्चों के साथ मुझे पूरे दिन अपने पैरों पर ही खड़े रहना पड़ता है. हम 9वीं मंजिल पर रहते हैं इसलिए बाहर निकलने की भी कोई जगह नहीं है.” उन्होंने बताया कि उनकी दो बड़ी बेटियों को सोफे पर सोना पड़ता है जबकि बाकी बच्चे बिस्तर पर सोते हैं. फिर रोटेशन में दूसरे बच्चे सोफे पर सोते हैं और बड़ी बेटियों को बिस्तर पर सोने का मौका मिलता है. उन्होंने बताया कि कमरे में ना ही कोई अलमारी है और ना ही किसी तरह के डिब्बे रखे हुए हैं. कमरे में कपड़े रखने की भी कोई जगह नहीं है. उन्होंने बताया कि उनका घर हमेशा ही ठंगा रहता है और वहां रहना बेहद मुश्किल है.

    Tags: Ajab Gajab news, OMG News

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर