• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • विश्व युद्ध के भी सालों पहले से मौजूद है दुनिया का सबसे पुराना अंगूर का पेड़! उम्र जानकर चौंक जाएंगे आप

विश्व युद्ध के भी सालों पहले से मौजूद है दुनिया का सबसे पुराना अंगूर का पेड़! उम्र जानकर चौंक जाएंगे आप

स्लोवेनिया के शहर मारिबोर में दुनिया का सबसे पुराना अंगूर का पेड़ मौजूद है. (Wikimedia Commons)

स्लोवेनिया के शहर मारिबोर में दुनिया का सबसे पुराना अंगूर का पेड़ मौजूद है. (Wikimedia Commons)

क्या आप बता सकते हैं कि दुनिया के सबसे पुराने अंगूर (World's Oldest Grapevine) के पेड़ की उम्र कितनी है? स्लोवेनिया (Slovenia). यहां के शहर मारिबोर (Maribor) में दुनिया के सबसे पुराने अंगूर का पेड़ (Oldest Grapes Tree) मौजूद है. जानिए कितनी है इसकी उम्र.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    आपने अंगूर (Grapes) तो जरूर खाया होगा. मुमकिन है कि आपने अंगूर की बेल (Grapevine) में लगे अंगूरों को भी देखा होगा. अंगूर दुनिया में काफी शौक से खाए जाने वाला फल है. सिर्फ फल के रूप में ही नहीं इसका इस्तेमाल वाइन (Wine) बनाने में भी किया जाता है. भारत में महाराष्ट्र (Maharashtra) और कर्नाटक (Karnataka) जैसे राज्य अंगूर की खेती (Grapevine farming) में टॉप पर हैं. मगर आज हम आपको अंगूर की खेती से जुड़ी जानकारी नहीं दे रहे. आज हम आपको अंगूर के पेड़ से जुड़ी एक ऐसी अनोखी बात बताने जा रहे हैं जिसे जानकर आप चौंक जाएंगे. क्या आप बता सकते हैं कि दुनिया के सबसे पुराने अंगूर (World’s Oldest Grapevine) के पेड़ की उम्र कितनी है?

    आप अंदाजा लगाएंगे 10, 20, 40 या 50 साल. ये भी मुमकिन है कि ज्यादा बताने के लिए आप 100 साल भी जवाब दे दें. मगर सच तो ये है कि दुनिया की सबसे पुरानी अंगूर की बेल 500 साल (500 year old grapevine) पुरानी है. जी हां, आपने सही पढ़ा, ये पेड़ विश्व युद्ध (World War) समेत दुनिया की कई महत्वपूर्ण घटनाओं से भी पुराना है. सेंट्रल यूरोप में एक देश है स्लोवेनिया (Slovenia). यहां के शहर मारिबोर (Maribor) में दुनिया की सबसे पुरानी अंगूर (Oldest Grapes) की बेल मौजूद है. आपको जानकर हैरानी होगी कि ये पेड़ साल 1570 के वक्त का है और उससे भी ज्यादा हैरानी ये है कि इस पेड़ की बेल में आज भी अंगूर उगते हैं.

    पेड़ के अंगूरों से बनती है खास वाइन
    ये पुराना पेड़ दुनिया का एक मात्र ऐसा पौधा है जिसका अपना संग्रहालय है. ‘द ओल्ड वाइन हाउस’ (The Old Vine House) नाम की ये एतेहासिक इमारत के चारों ओर अंगूर की बेल फैली हुई है जिससे साल में करीब 35 से 55 किलो अंगूर पैदा होता है. इन अंगूरों से करीब 15 से 35 लीटर वाइन बनाई जाती है जिन्हें 2.5 डेसीलीटर यानी 0.25 लीटर की बोतल में भर कर बेचा जाता है. इन बोतलों को फेमस आर्टिस्ट ऑस्कर कोगोज (Oskar Kogoj) ने डिजाइन किया है. इस वाइन की साल में सिर्फ 100 बोतल प्रोड्यूस की जाती है जिन्हें स्पेशल प्रोटोकॉल के तहत गिफ्ट के तौर पर दिया जाता है. ओल्ड वाइन (Old Vine) के नाम से मशहूर इस अंगूर के पेड़ की बेल पर जामेटोवका (Zametovka) नाम की अंगूर की प्रजाति पैदा होती है.

    नेताओं से अभिनेताओं तक को गिफ्ट की गई अंगूर की वाइन
    गौरतलब है कि दुनिया का सबसे पुराना अंगूर का पेड़ मिडिल एज के वक्त मारिबोर में लगाया गया था जब शहर पर तुर्क साम्राज्य (Ottoman invasion) का हमला हुआ था. अंगूर के इस पेड़ ने कई लड़ाइयां देखीं, अंगूर की बेल पर आग भी लगी और कीड़ों ने आसपास के बेल को नष्ट कर दिया मगर इस पेड़ की अंगूर की बेल को कुछ भी नहीं हुआ. हैरानी की बात है कि द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान मारिबोर शहर पर बम भी गिराया गया जिससे शहर का काफी हिस्सा तहस-नहस हो गया मगर इस पेड़ को फिर भी कुछ नहीं हुआ. आपको बता दें कि इस पेड़ से बननी वाली वाइन को अब तक दलाई लामा, बिल क्लिंटन, पोप जॉन पॉल द्वितीय और एक्टर ब्रैड पिट को भी गिफ्ट के तौर पर दिया जा चुका है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज