ब्लू व्हेल गेम टास्क पूरा करने के लिए लगा ली फांसी, लिखा- ब्लैक पैंथर अब आजाद है

ब्लू व्हेल' गेम के चलते कई लोगों के आत्महत्या करने के मामले पहले भी सामने आए हैं.

News18Hindi
Updated: July 22, 2019, 3:51 PM IST
News18Hindi
Updated: July 22, 2019, 3:51 PM IST
महाराष्ट्र स्थित पुणे में 20 वर्षीय एक युवक ने 'ब्लू व्हेल' गेम का टास्क पूरा करने के दौरान में फांसी लगा ली. पुलिस ने बताया कि युवक की पहचान शहर के लोनीखंड इलाके के कॉमर्स
की पढ़ाई कर रहे छात्र दिवाकर माली के तौर पर हुई है.

अधिकारी ने बताया कि बुधवार शाम को फांसी लगाने से पहले उसने एक चिट्ठी लिखी था जिसमें लिखा था कि 'पिंजरे में कैद 'ब्लैक पैंथर' अब आजाद है और अब वह हर बंधन से मुक्त है. अंत.'

अधिकारी के अनुसार यह चिट्ठी संभवत: उसके ऑनलाइन खेल से संबंधित था जिसमें माली खुद को 'ब्लैक पैंथर' बता रहा था. माली की मां ने भी उसकी फोन की लत के बारे में बताया और बाकी अभिभावकों से अपने बच्चों के फोन के इस्तेमाल पर रोक लगाने की अपील की.

क्या है ब्लू व्हेल

ब्लू व्हेल चैलेंज एक ऑनलाइन गेम है जिसमें खिलाड़ियों को एक निर्धारित समय सीमा में कार्य पूरा करने के लिए कहा जाता है, जिनमें से कई में आत्महत्याभी शामिल है. विश्व स्वास्थ्य संगठन के इंटरनेशनल क्लासिफिकेशन ऑफ़ डिसीज़ ने 'गेमिंग डिसऑर्डर' को गेमिंग व्यवहार (डिजिटल-गेमिंग या वीडियो-गेमिंग) के एक पैटर्न के रूप में कहा है, जो बिगड़ा हुआ नियंत्रण और अन्य गतिविधियों पर गेम खेलने की प्राथमिकता को दिखाता है.

नागपुर में भी हुआ था मामला
Loading...

इससे पहले  नागपुर मे एक 17 साल की छात्रा ने कथित रुप से ब्लू व्हेल चैलैंज गेम की वजह से मौत को गले लगा लिया था.

ये भी पढ़ें: ब्लूव्हेल गेम के जाल में फंसा 22 वर्षीय इंजीनियर, फांसी लगाकर की आत्महत्या

मानसी के माता पिता नागपुर के नरेंद्र नगर रहने वाले हैं और वायुसेना में सेवानिवृत होने के बाद अशोक जोनवाल एक कंपनी चलाते है. किसी को विश्वास ही नहीं हो रहा है कि शहर के एक नामचीन स्कूल मे पढने वाली उनकी सत्रह साल की बेटी ने अपने बेडरूम मे पहले अपना हाथ काटा फिर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. ये बात जब घर वालो को पता चली तब मानसी के हथेली पर कट हेर टू एक्सिट ये लिखा था.
First published: July 20, 2019, 3:37 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...