VIDEO: इस सुपरफास्ट ट्रेन के फर्स्ट AC कोच में भरा पानी, ट्रेन बन गई स्वीमिंग पूल

इसका वीडियो सामने आते ही सोशल मीडिया के यूजर्स ने इस पर जमकर मजे लेने शुरू कर दिए. कुछ यूजर्स ने ट्रेन में पानी भरते ही इसे मॉनसून स्पेशल ट्रेन करार दे दिया.

News18Hindi
Updated: July 4, 2019, 9:34 AM IST
VIDEO: इस सुपरफास्ट ट्रेन के फर्स्ट AC कोच में भरा पानी,  ट्रेन बन गई स्वीमिंग पूल
कुछ यूजर्स ने कहा कि ये कोच कांग्रेस के कार्यकाल में बनाए गए थे, इसलिए ट्रेन में पानी भरने के पीछे कांग्रेस का हाथ है.
News18Hindi
Updated: July 4, 2019, 9:34 AM IST
मुंबई में भारी बारिश से हो रही तबाही और लोगों के घरों में पानी भरने की खबरों की बीच संगमित्रा सुपरफास्ट ट्रेन के फर्स्ट एसी कोच में पानी भरने की खबर सोशल मीडिया में वायरल हो गई है. बेंगलुरु-पटना के बीच चलने वाली इस ट्रेन की सबसे उच्च श्रेणी की डिब्बे में अचानक पानी भरने से ट्रेन के संचालन पर कई सवाल उठ रहे हैं. क्योंकि ऐसा होने के चलते काफी समय तक यात्रियों को खड़े-खड़े यात्रा करनी पड़ी, उस वक्त ट्रेन की स्पीड करीब 100 किलोमीटर प्रतिघंटा थी.

ऐसे में एसी फर्स्ट के यात्रियों ने ना केवल ट्रेन के कोच में भरे पानी के चलते हुई असुविधा के बारे में ट्व‌िटर पर लिखा. बल्कि अगले स्टेशन पर स्टेशन मास्टर से भी इसकी शिकायत की. हालांकि, यात्रियों का आरोप है कि इसकी शिकायत के बाद काफी समय बीतने पर भी कोई राहत नहीं भेजी गई.

एसी से निकला था पानी
एसी कोच में भरा पानी उस डिब्बे के एसी से निकला था. असल में एसी से लगातार पानी निकलता रहता है. लेकिन कुछ स्टेशनों के बाद इस पानी को ट्रेन से गिरा दिया जाता है. लेकिन ट्रेन के संचालनकर्ता ट्रेन से ये पानी गिराना भूल गए. ऐसे में जब पानी एक स्तर से ऊपर गया तो पानी वापस ट्रेन में भरने लगा.

एक यात्री ने 45 सेकेंड का वीडियो शेयर करते हुए बताया कि पानी कोच में पानी की धारा बाथरूम से बह रहा है. शिकायत के बाद भी डक्ट की मरम्मत के लिए मकैनिक नहीं आया. इसके बाद ट्रेन के दूसरे यात्रियों ने एक सुर में कहा कि पूरे कोच में पानी भर गया है. काफी देर से पानी भरता ही जा रहा है.

लोगों ने लिए मजे, बोले- नेहरू जी की गलती है
इसका वीडियो सामने आते ही सोशल मीडिया के यूजर्स ने इस पर जमकर मजे लेने शुरू कर दिए. कुछ यूजर्स ने ट्रेन में पानी भरते ही इसे मॉनसून स्पेशल ट्रेन करार दे दिया. लोगों ने अलग-अलग तरीके से बताया कि भारतीय रेल ने इस ट्रेन को मॉनसून स्पेशल ट्रेन के तौर पर चलाया है. अगर किसी को मानसून का आनंद उठाना हो तो वो इस ट्रेन की टिकटें ले सकता है.
Loading...

इसी तरह कुछ यूजर्स ने कहा कि ये कोच कांग्रेस के कार्यकाल में बनाए गए थे, इसलिए ट्रेन में पानी भरने के पीछे कांग्रेस का हाथ है. इतना ही नहीं, कुछ यूजर्स ने कहा भारत में जो भी हो रहा है उसके पीछे पंडित जवाहर लाल नेहरू का हाथ है. कुछ समय बाद ही कुछ लोगों ने इसे झरना ट्रेन बताते हुए इसे पंडित नेहरू की गलती बताया.











रेलवे वाटरफॉल बताकर कसा तंज
लोगों ने सोशल मीडिया में कहा कि यह रेलवे का वाटरफॉल है. इसका आनंद लेना चाहिए. जबकि कुछ लोगों ने इसे एसी डक्ट का पानी बताया और कहा कि कुछ स्टेशनों यह पानी रिलीज किया जाता है. लेकिन हो सकता है रेलवे स्टाफ इस ट्रेन से पानी हटाना भूल गया हो, इसी वजह ट्रेन में पानी को लेकर परेशानी हुई.
First published: July 4, 2019, 8:48 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...