होम /न्यूज /अजब गजब /Year Ender 2022: कहीं SDM दूल्हा लापता-कहीं जबरन भरवाया सिंदूर...2022 की अजीबो-गरीब शादियां

Year Ender 2022: कहीं SDM दूल्हा लापता-कहीं जबरन भरवाया सिंदूर...2022 की अजीबो-गरीब शादियां

2022 में सामने आईं शादी की कई अजीब घटनाएं

2022 में सामने आईं शादी की कई अजीब घटनाएं

Weird Marriages of 2022: हर साल कुछ ऐसी घटनाएं होती हैं जो चर्चा का विषय बन जाती हैं. अब चूंकि साल 2022 गुजर रहा है, तो ...अधिक पढ़ें

  • Local18
  • Last Updated :

    साल 2022 गुजर रहा है. हर साल अपने साथ कुछ खट्टी-मीठी यादें समेटे रहता है. हर कोई पीछे मुड़कर अपने बीते वक्त को याद करता है. कुछ कहानियां हर्षोल्लास की होती हैं, तो कुछ किस्से अजीबो-गरीब बन जाते हैं. ऐसे ही कुछ मामलों के बारे में आपको हम बता रहे हैं जो शादियों से जुड़े हैं.

    वाराणसी में मंडप नहीं पहुंचा दूल्हा

    वाराणसी के लक्सा थाना क्षेत्र के मैरिज लॉन में सुर्ख लाल जोड़े में सजी-धजी दुल्हन, दूल्हे का इंतजार करती रही, लेकिन एक फोन ने सभी के होश उड़ा दिये. शादी का खुशनुमा माहौल अचानक मातम में बदल गया. दरअसल, वर पक्ष की ओर से लड़की वालों को जानकारी दी गई कि एसडीएम दूल्हा (लड़का) लापता हो गया है. फोन पर दूल्हे के लापता होने की खबर सुनकर वधू पक्ष के होश उड़ गए और बारात के स्वागत के लिए हुई सारी तैयारियां धरी की धरी रह गईं.

    आपके शहर से (वाराणसी)

    वाराणसी
    वाराणसी

    बाद में जानकारी सामने आई कि ये शादी इससे पहले तीन बार स्थगित हो चुकी थी. इस बार एक कथाकथित ताऊ के दबाव में 14 दिसंबर को लक्सा थाना क्षेत्र के उत्सव वाटिका में विवाह के लिए दोनों पक्ष राजी हुए थे. इस बार अंजाम पहले की तरह ही हुआ.

    न पंडित-न शहनाई और हो गई शादी

    बिहार के सीवान में एक प्रेमी को प्रेमिका से मिलना महंगा पड़ गया. मेल-मिलाप के दौरान ही दोनों पकड़े गए. स्थानीय लोगों ने इस प्रेमी युगल की शादी नजदीकी मंदिर में जबरन करवा दी. न कोई मंत्रोचार हुआ और न शहनाई बजी. यह मामला सीवान जिले के आसाव थाना क्षेत्र के देहुरा गांव का है. दोनों लंबे समय से एक दूसरे से प्रेम करते थे. प्रेमी अपनी प्रेमिका सलोनी से मिलने के लिए उसके गांव गया था. इस दौरान गांववालों ने उसे पकड़ लिया. दरअसल, प्रेमिका की शादी कहीं और तय कर दी गई थी. जब इसकी जानकारी प्रेमी को लगी तो वह लड़की से शादी करने का दबाव बनाने लगा और उससे मिलने के लिए उसके गांव पहुंचे. यहां गांववालों ने उसे पकड़ लिया और दोनों की शादी करा दी.

    मैं इस शादी को नहीं मानता

    बिहार के समस्तीपुर में से भी ऐसा ही मामला सामने आया. यहां एक युवक को अपनी प्रेमिका से छुप छुपकर मिलना महंगा पड़ गया. मामला जिले के खानपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत जहांगीर पुर पंचायत के डेकारी गांव का है. ग्रामीणों के अनुसार, प्रेमी युगल कई महीनों से एक दूसरे से छुप-छुप कर मिला करते थे. इसकी भनक ग्रामीणों को लगी तो वे ताक में लग गए. जब युवक अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर पहुंचा तो गांववालों ने पकड़ लिया. इसके बाद गांववालों ने जबरन दोनों की शादी करवा दी. इसके बाद युवक ने कहा कि मेरी शादी ज़बरदस्ती हुई है, मेरी मर्जी है कि मैं लड़की को रखूं या छोड़ दूं. मैं इस शादी को नहीं मानता हूं.

    शराब पीकर न आवें…

    मध्‍य प्रदेश के भिंड जिले में हथियार साथ में रखना लोग अपनी शान समझते हैं. शादियों के दौरान शराब के नशे में हर्ष फायर करना भी आम बात है. ऐसे मेहमानों से भिंड के एक परिवार ने तौबा कर ली और शादी के कार्ड पर साफ शब्दों में लिखवा दिया कि- हाथ जोड़कर निवेदन है कि हर्ष फायर न करें और शराब पीकर न आवें.

    ‘मैं बालिग हूं, मैं अपनी मर्जी से शादी की है’

    एमपी के बैतूल की रहने वाली लड़की की दोस्ती एक साल पहले इंस्टाग्राम पर शिवपुरी जिले के बैराड़ थाना क्षेत्र के जारिया गांव के युवक से हुई थी. उनकी यह दोस्ती धीरे-धीरे प्यार में बदल गई. इसके बाद दोनों ने साथ जीने मरने की कसमें खाते हुए शादी का फैसला कर लिया. युवती के परिजनों को जैसे ही बेटी के प्रेम प्रसंग का पता चला, तो उन्होंने दूसरी जगह उसकी शादी तय कर दी.

    इसके बाद युवती घर छोड़कर युवक के पास शिवपुरी के जरिया गांव पहुंच गई और दोनों ने शादी कर ली. लड़की को उसके घरवालों ने बहुत समझाने की कोशिश की लेकिन लड़की ने साफ दिया कि वो बालिग है और उसने सोच-समझकर ही ये फैसला किया है. अब वो अपने फैसले से पीछे नहीं हटेगी.

    Tags: Marriage Law, Marriage news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें