• Home
  • »
  • News
  • »
  • ajab-gajab
  • »
  • भारत में फैल चुकी है कोरोना से भी खतरनाक महामारी! 12 साल के बच्चे ने फैला दी तबाही

भारत में फैल चुकी है कोरोना से भी खतरनाक महामारी! 12 साल के बच्चे ने फैला दी तबाही

WHO की रिपोर्ट्स के मुताबिक़, इस महामारी से बच पाना इंसान के लिए नामुमकिन है (इमेज- इंटरनेट)

WHO की रिपोर्ट्स के मुताबिक़, इस महामारी से बच पाना इंसान के लिए नामुमकिन है (इमेज- इंटरनेट)

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (World Health Organisation) के लेटेस्ट रिपोर्ट पर अगर यकीन करें,तो दुनिया में कोरोना से भी ज्यादा खतरनाक महामारी (New Global Pandemic) फ़ैल चुकी है. इसकी शुरुआत भारत से हो गई है और एक बच्चे ने मौत से पहले इसे सैकड़ों (Nipah Virus) लोगों में फैला दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    दुनिया साल 2019 के अंत से कोरोना माहमारी (CoronaVirus) से जूझ रही है. इस वायरस में तेजी भले ही साल 2020 में आई, लेकिन इसके मामले 2019 में ही आने लगे हैं. 2021 में इसका वैक्सीन (Covid Vaccine) आया और अब कई लोग वैक्सीन ले चुके हैं. ये वैक्सीन कितने इफेक्टिव हैं, इसपर अभी भी बहस चल रही है. हालांकि, एक्सपर्ट्स के सुझाव के आधार पर लोग वैक्सीन लगवा रहे हैं. इस बीच अब एक और चिंता की खबर सामने आ रही है. जानकारी के मुताबिक़, दुनिया में अब कोरोना से भी ज्यादा खतरानक वायरस फ़ैल चुका है.

    निपाह वायरस (Nipah Virus) को लेकर फरवरी के महीने में ही चेतावनी जारी कर दी गई थी. अब भारत के केरल (Kerala) में एक 12 साल के बच्चे की मौत इस वायरस की वजह से कंफर्म हुई है. चिंता की बात ये है कि मौत से पहले इस बच्चे के कॉन्टैक्ट में सैकड़ों लोग आ चुके हैं कोरोना की तरह ही निपाह वायरस भी एक से दूसरे में फैलता है. WHO के मुताबिक़, निपाह वायरस कोरोना से 75 प्रतिशत ज्यादा तेजी से फैलता है. मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक़, निपाह वायरस कोरोना से भी कई गुना तेजी से अपना रूप बदलता है. ऐसे में इसका इलाज ढूंढ पाना नामुमकिन हो जाता है.

    तबाह कर देगी ये महामारी
    सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (Centre For Disease Control And Prevention) द्वारा जारी बयान के मुताबैक, निपाह की वजह से जो तबाही आएगी, उसे कंट्रोल करना नामुमकिन होगा. भारत के केरल राज्य में 12 साल के बच्चे की मौत निपाह से होना कंफर्म हुआ है. रिपोर्ट्स के मुताबिक़, मौत से पहले बच्चा दो अन्य अस्पतालों में एडमिट हुआ था, जहां उसके कॉन्टैक्ट में सैकड़ों लोग आए थे. केरल स्टेट हेल्थ मिनिस्टर वीणा जॉर्ज ने बताया कि मरने वाले के परिवार के आठ लोगों की टेस्ट नेगेटिव आई है, जो राहत की बात है. हालांकि, निपाह वायरस अपना असर कई महीनों बाद दिखाता है.

    nipah virus in india

    सूअरों से इंसान में आया है निपाह
    निपाह वायरस का पहला मामला 1999 में मलेशिया से सामने आया था. कहा जाता है कि ये वायरस सूअर से इंसान में आया था. इसके लक्षण काफी चिंताजनक हैं. इससे पीड़ित इंसान को उल्टियां होती है. साथ ही उसे चक्कर आते हैं और दिमाग में सूजन हो जाती है. इस वायरस के लक्षण दिखने में 45 दिन लगते हैं. यानी अगर आप निपाह वायरस की चपेट में आ गए हैं, तो इसका असर महीने से भी ज्यादा बाद दिखेगा. तब तक तो आप कई लोगों में ये वायरस फैला देंगे. अभी तक इस वायरस का कोई इलाज नहीं मिला है. चूंकि, निपाह वायरस काफी जल्दी रूप बदलता है, ऐसे में ये कोरोना से भी ज्यादा तबाही मचा सकता है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज