Home /News /ajab-gajab /

woman eating good food in free without spending money pratp

महीने भर से 'मुफ्त' में भरपेट खाना खा रही है महिला, राशन पर नहीं खर्च किया एक भी रुपया !

महिला ने ऐसा जुगाड़ (Woman Eating For Free) निकाला, जिससे वो महीनेभर तक अपना पेट मुफ्त में भरती रही. (Credit- Pixabay/सांकेतिक तस्वीर)

महिला ने ऐसा जुगाड़ (Woman Eating For Free) निकाला, जिससे वो महीनेभर तक अपना पेट मुफ्त में भरती रही. (Credit- Pixabay/सांकेतिक तस्वीर)

Woman Eating For Free : 62 साल की महिला जिल बेनेट (Jill Bennett ) महीने भर तक बिना एक भी पैसे खर्च किए खाना खाती रहीं. दिलचस्प बात ये रही कि उन्होंने इस दौरान पौष्टिक और ताजा खाना भी खाया.

Woman Eating Free Food : इंसान के लिए ज़िंदगी में 2 रोटी का जुगाड़ करना ही सबसे बड़ी चुनौती होती है. इसके लिए लोग जीतोड़ मेहनत करते हैं, पैसे कमाते हैं और फिर थाली में खाना आता है. हालांकि 62 साल की एक महिला ने ऐसा जुगाड़ (Woman Eating For Free) निकाला, जिससे वो महीनेभर तक अपना पेट मुफ्त में भरती रही. उसका दावा है कि उसने इस दौरान ताज़ा और पौष्टिक खाना (Woman Had Food From Supermarket Waste) खाया, वो भी जेब से पैसे खर्च किए बिना.

महिला का नाम जिल बेनेट (Jill Bennett ) है और वो इंग्लैंड के नॉर्थैम्पटन की रहने वाली है. बेनेट का दावा है कि उसने महीने भर तक हज़ारों रुपये के फूड आइटम बिना पैसे खर्च किए हुए खाए. खाने का ये सामान ताज़ा और अच्छा होता था, भले ही सुपरमार्केट के कर्मचारी इसे कचरे में डाल दिया करते थे. महिला का ये जुगाड़ सुनकर लोगों को खासी हैरानी हुई है. डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने ये सामान न सिर्फ खुद इस्तेमाल किया बल्कि ज़रूरतमंदों को भी दान दिया.

सुपरमार्केट के कचरे से उठाती रही सामान
जिल बेनेट (Jill Bennett ) का दावा है कि उन्होंने एक दिन सुपरमार्केट के कर्मचारी को कचरे के डिब्बे से ताज़े फल, सब्जियां, मीट और खाना उठाते हुए देखा. इसके बाद ही उन्होंने तय किया कि वे भी ऐसा ही करेंगी. वे रोज़ सामान के फेंके जाने का इंतज़ार करती थीं और कचरे के डिब्बे से फ्रेश खाने को उठा ले जाती थीं. उन्हें ये देखकर हैरानी हुई कि कचरे में 200 पाउंड यानि 20 हज़ार रुपये से भी ज्यादा खाने का सामान मिला. वे वहीं से चीज़ें बटोरकर घर ले जातीं और अपना पेट भरतीं. इस तरह एक महीने में उन्होंने सारा खाना सुपरमार्केट के वेस्ट से ही निकालकर खाया है.

ये भी पढ़ें- 60 की उम्र में 30 की दिखती हैं दादी ! फिटनेस देख हमउम्र लोगों को होने लगती है जलन …

खाने की बर्बादी देख हुईं दंग
जिल का कहना है कि वे रोज़ाना एक ही सुपरमार्केट से फेंके गए सामान से चीज़ें उठाकर लाती हैं और उन्हें ये देखकर हैरानी होती है कि कितना सामान बर्बाद किया जा रहा है. लोगों को खाने के लिए खाना नहीं मिल रहा है और इस तरह खाना फेंका जा रहा है. वे रोज़ाना साढ़े तीन बजे शाम को सुपरमार्केट के बाहर पहुंचती थीं और खाना लेकर आती थीं. इस तरह उन्होंने महीने भर में करीब 10 हज़ार रुपये बचा लिए, जो राशन पर खर्च होते.

Tags: Ajab Gajab news, Viral news, Weird news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर