ये है दुनिया का सबसे खतरनाक पौधा, छूते ही जल के अलग हो जाती है चमड़ी

दुनिया का सबसे खतरनाक पौधा

ब्रिटेन (Britain) में सबसे खतरनाक पौधे (Most dangerous plant) जाइंट हॉगवीड (Giant hogweed) के संपर्क में आने से स्कूली बच्चों के शरीर पर फफोले पड़ गए, उनका शरीर जल गया.

  • Share this:
    दुनियाभर में कई ऐसे पेड़-पौधे हैं, जिनके बारे में हममें से ज्यादातर लोगों को कुछ भी जानकारी नहीं है. इनमें से कुछ पौधे चमत्कारिक औषधीय गुण (miraculous medicinal plants) वाले होते हैं, तो कुछ पौधे बेहद ही जहरीले (Poisonous Tree) होते हैं. ऐसे में आज हम आपको ब्रिटेन (Britain) में पाए जाने वाले एक ऐसे ही पौधे के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका नाम जॉइंट हॉगवीड (Giant Hogweed) है. यह पौधा दुनिया के सबसे खतरनाक पौधों (Dangerous Plant) में शुमार है.

    बता दें कि विशाल हॉगवीड का यह पौधा काकेशस (Caucasus) समूह से जुड़ा है. 1817 में ब्रिटेन में इसका इस्तेमाल एक सजावटी पौधे (ornamental plant) के रूप में किया जाता था. लेकिन 2015 में इस पौधे को लेकर सनसनीखेज खुलासा हुआ था. पौधे को लेकर मर्सी बेसिन रिवर ट्रस्ट (Mersey Basin Rivers Trust) के माइक डड्डी (Mike Duddy) ने कहा था कि ब्रिटेन में पाया जाने वाला हॉगवीड सबसे खतरनाक पौधा है.

    दिखने में ये छोटे-छोटे सफेद फूलों वाला सामान्य पौधा नजर आता है. लेकिन इसको छूने से कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. इसके जयादा देर संपर्क में आने से इंसान अंधा भी हो सकता है. बता दें कि इस पौधे के संपर्क में आने से वेस्ट मिडलैंड्स (West Midlands) के वर्ड्सली (Wordsley) के रहने वाले 12 साल के अल्फी और 10 साल के हेनरी बुरी तरह जख्मी हो गए. इन बच्चों की मां निक्की ने बताया कि मुझे लगता है बच्चे खेलते हुए पौधे के पास से गुजरे होंगे. हालांकि, शुरुआत में देखने से कुछ भी गलत नजर नहीं आया, लेकिन बाद में जब अल्फी ने शर्ट उतारी तो उसके कंधे और हाथ लाल हो गए थे, वहीं दूसरे बेटे हेनरी ने के कंधे पर फफोले और पैचेस थे. दोनों बच्चों को डॉक्टर ने दिन में तीन बार स्टेरॉयड क्रीम का उपयोग करने और 1 सप्ताह तक एंटीहिस्टामाइन (Anti-histamine) का इस्तेमाल करने की सलाह दी.

    43 वर्षीय निक्की ने कहा कि हमें नहीं पता कि इसे साफ करने में कितना समय लगेगा. मैंने जो पढ़ा है, उसके अनुसार शुरुआती निशान को मिटने में लंबा समय लग सकता है. डॉक्टर ने इन छालों को धूप से बचाकर रखने की सलाह दी है क्योंकि सूरज की रोशनी के संपर्क में आने पर फिर से छाले हो सकते हैं. दरअसल, इस पौधे में कई जानलेवा कैमिकल पाए जाते हैं जिनमें फोटोसेंसिटीसिंग फौरनान्कोमेरियन (Photosensitizing furocoumarins)प्रमुख है. यह केमिकल शरीर के संपर्क में आने पर स्किन को जलाने लगता है जिससे पूरे शरीर पर फफोले पड़ जाते हैं. यह त्वचा की उन कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाता है जो हमारी त्वचा को सूरज की किरणों से जलने से बचाती हैं.

    इस पौधे के संपर्क में आने का एक और मामला ब्रिटेन के स्टॉर नदी (River Stour) के पास आया था, जिसमें 11 साल के जेडन पिंचेस (Jayden Pinches) इस पौधे के संपर्क में आने से झुलस गया था. जेडन की मां इउलैलिया सिंटेस (Eulalia Sintes) ने कहा कि जब वह वापस लौटा तो बिल्कुल ठीक था, लेकिन अगली सुबह जेडन के हाथ और गर्दन पर छाले ही छाले थे. मुझे उम्मीद है कि समय के साथ साफ हो जाएंगे.

    अब दोनों माता-पिता बाकी पैरेंट्स को पौधे के बारे में आगाह कर रहे हैं. मिस सिंटेस ने कहा, 'पौधा कैसा दिखता है? मैं लोगों को यह बताने की कोशिश करती हूं. लोगों को इसके बारे में पता होना चाहिए, ताकि वे खुद अपनी फैमिली को इस पौधे से दूर रख सकें.' वहीं, इस पौधे के प्रति जागरुकता फैलाने वाले वुडलैंड ट्रस्ट (Woodland Trust) से जुड़े लोगों ने कहा कि अगर आप इस पौधे के संपर्क में आते हैं, तो आपको उस जगह को अच्छी तरह से धोना चाहिए और इसे कुछ दिनों के लिए धूप से दूर रखना चाहिए.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.