लाइव टीवी

न्यूमेरोलॉजिस्ट संजय जुमानी ने अक्टूबर 2019 में ही कर दी थी कोरोना की भविष्यवाणी, कहीं ये बातें

News18Hindi
Updated: April 6, 2020, 8:24 PM IST
न्यूमेरोलॉजिस्ट संजय जुमानी ने अक्टूबर 2019 में ही कर दी थी कोरोना की भविष्यवाणी, कहीं ये बातें
इस सरकारी अस्पताल में संक्रमण के मामलों की संख्या 18 हो गई है

साल 2020 को लेकर अक्टूबर 2019 में ही न्यूमरोलॉजिस्ट संजय जुमानी ने भविष्यवाणी की थी कि चीन में एक भयानक बीमारी दस्तक दे सकती है जिसका प्रकोप पूरी दुनिया पर पड़ेगा.

  • Share this:
न्यूमेरोलॉजिस्ट संजय जुमानी ने कोविड-19 को लेकर कई तरह की बातें बताई हैं. उन्होंने अक्टूबर 2019 को ही कोरोना वायरस को लेकर भविष्यवाणी कर दी थी. उन्होंने उस समय कहा था कि आने वाले साल यानी 2020 में पूरी दुनिया पर एक बड़ा कहर बरपेगा जिसकी शुरुआत चीन से होगी. इस तबाही के चलते लोगों के साथ साथ शेयर बाजार और इकोनॉमी पर भी असर पड़ेगा. हाल ही में एक निजी न्यूज चैनल को दिए गए इंटरव्यू में न्यूमेरोलॉजिस्ट संजय जुमानी ने कोरोना संक्रमण से जुड़ी विशेष जानकारी दी है. आइए आपको बताते हैं उन्होंने कोरोना के बार में क्या कहा.

न्यूमेरोलॉजी में 4 नंबर राहू का है
साल 2020 को लेकर अक्टूबर 2019 में ही न्यूमेरोलॉजिस्ट संजय जुमानी ने भविष्यवाणी की थी कि चीन में एक भयानक बीमारी दस्तक दे सकती है जिसका प्रकोप पूरी दुनिया पर पड़ेगा. इसके लिए उन्होंने कहा था कि चीन 15 नंबर पर एड होता है और यह अंक न्यूमेरोलॉजी में अच्छा माना जाता है. यह लग्जरी से जुड़ा हुआ है. 15 नंबर पूरी दुनिया को इतने दिनों से लग्जरी गुड्स दे रहे हैं लेकिन अगर यह न्यूमरोलॉजी में 4 और 8 नंबर से एसोसिएट न हो तो बहुत अच्छा है. क्योंकि न्यूमेरोलॉजी में 4 नंबर राहू का है और 8 नंबर शनि का है.

चीन दुनिया की नजर में विलन बनेगा



इसके संबंध में उन्होंने अक्टूबर में एक्सप्लेनेशन दिया था और 24 दिसम्बर को वीडियो अपलोड किया था, उस वक्त तक किसी ने कोरोना वायरस का नाम तक नहीं सुना था. उस समय उन्होंने भविष्यवाणी की थी कि चीन दुनिया की नजर में विलन बनेगा और दुनिया की शांति में खलल डालने का काम करेगा. न्यूमरोलॉजी संजय जुमानी का कहना है कि 2020 से नंबर 4 आता है. उन्होंने उदाहरण भी दिया था कि 2015 यानी 8 नंबर के साल में चीन का बबल ब्रस्ट हुआ था जिसकी वजह से चीन की पूरी इकोनॉमी की हालत खराब हुई थी और अब फिर 2020 आ रहा है जिसमें समस्या हो सकती है.



नंबर ऑफ वॉर्निंग
उन्होंने कहा कि चीन ने साल 2002 यानी 4 नंबर के साल में दुनिया को सार्स वायरस दिया था और अब 2020 में कोरोना वायरस दिया है. उन्होंने पहले ही भविष्यवाणी की थी की चीन की वजह से 2020 में दुनिया की मार्केट्स भी क्रैश होंगी जो कि एक दम सही साबित हुई. साल 2020 का टोटल समझना बहुत जरूरी है क्योंकि 2020 लिखने से न्यूमरोलॉजी में 22 नंबर आता है. 22 नंबर का मतलब है 'ए गुड मैन हू इज सडनली सराउंडेड बाए अ डेंजर बाय एन एंग्री टाइगर वेटिंग टू अटैक हिम'. जब तक आप इस परिस्थिति को भांपकर उससे बचने की कोशिश करेंगे तब तक बहुत देर हो चुकी होगी. इसलिए इस नंबर से एक खतरनाक अर्थ निकलकर सामने आता है. इसे ए नंबर ऑफ वॉर्निंग भी कहा जा सकता है.

कोविड 19 की जगह कोविड 2019 लिखें
मैं यह नहीं कहता कि सालभर इसका प्रभाव नकारात्मक बना रहेगा. साल 2020 स्पेक्यूलेशन के लिए भी सही नहीं है इसलिए यह साल शेयर मार्केट्स के लिए भी उचित नहीं है. कोविड19 का एड होता है 40 नंबर और यह न्यूमरोलॉजी में 4 नंबर की ओर इशारा करता है जिसका अर्थ है तबाही. जब आदमी पूरी दुनिया से हटकर अकेला हो जाता है. संजय जुमानी ने गुजारिश की है कि कोविड 19 की जगह कोविड 2019 लिखें. कोविड 2019 होता है 33 जो कि एक पॉजीटिव नंबर है इससे खुशहाली बढ़ती है और लोगों का जीवन समृद्ध होता है.

वर्ल्ड रिकवरी 2021 से शुरू होगी
न्यूमरोलॉजी में 33 नंबर का मतलब होता है पीस, लव, हारमोनी, सक्सेस. अप्रैल के आखिर से भारत में हालात बदलने शुरू होंगे. मई में कई तरह की चीजों से प्रतिबंध हट जाएगा लेकिन विश्व को सुधरने में 2021 का इंतजार करना होगा. वर्ल्ड रिकवरी 2021 से शुरू होगी. 2021 का कुल होता है 5 जो न्यूमरोलॉजी के हिसाब से एक पॉजीटिव नंबर है. इसका मतलब होता है दोबारा से शुरुआत होना. यह मरकरी का नंबर है. मरकरी ब्रह्रमांड में काफी तेजी से घूमता है इसलिए रिकवरी भी काफी तेजी से होती है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए राशि से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 6, 2020, 8:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading