• Home
  • »
  • News
  • »
  • auto
  • »
  • इंदौर में बनकर तैयार हुआ एशिया का सबसे लंबा रेसिंग ट्रैक, यहां होगा कारों का स्पीड टेस्ट, जानिए सबकुछ

इंदौर में बनकर तैयार हुआ एशिया का सबसे लंबा रेसिंग ट्रैक, यहां होगा कारों का स्पीड टेस्ट, जानिए सबकुछ

इंदौर में तैयार हुआ कार टेस्टिंग रेसिंग ट्रैक.

इंदौर में तैयार हुआ कार टेस्टिंग रेसिंग ट्रैक.

2960 एकड़ में फैले इस हाई स्पीड कार टेस्टिंग ट्रैक को बनाने में 3 साल का समय लगा. जिसमें करीब 800 मजदूर और इंजीनियर ने अपना योगदान दिया. अगर इस टेस्टिंग ट्रैक की लागत की बात करें तो ये कुल 512 करोड़ रुपये में बनकर तैयार हुआ है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. इंदौर के पास पीथपुर में दुनिया का पांचवा और एशिया का सबसे लंबा हाई स्पीड कार टेस्टिंग ट्रैक तैयार किया गया है. जहां लग्जरी और एसयूवी हवा से बात करेंगी. इस ट्रैक का निर्माण कारों की स्पीड को चेंक करने के लिए बनाया गया है. जहां किसी भी कार को 350 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ाया जा सकता है. इस ट्रैक की सबसे बड़ी खासियत ये है कि आप कर्व (मोड़) पर भी अपनी कार को 308 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से बड़ी आसानी से मोड़ सकते है. ये टेस्टिंग ट्रेक कुल 2960 एकड़ में बनाया गया है. जहां देश की ऑटो मोबाइल इंडस्ट्री अपने वाहनों की रफ्तार चेंक करेंगी.

    कैसा है ये टेस्टिंग ट्रैक - यहां 14 तरीके के टेस्टिंग ट्रैक हैं, जहां टू व्हीलर, कार के साथ भारी कमर्शियल वाहनों की भी टेस्टिंग होगी. 11.3 किमी लंबा यह ट्रैक 16 मीटर चौड़ा है. सपाट, ऊबड़-खाबड़, गीले, पथरीले, संकरे और घुमावदार ट्रैक पर वाहनों की टेस्टिंग होगी, जिसके बाद ही उसे अप्रूवल मिलेगा. इसका शेप ओवल यानी अंडे जैसा है. ठीक ऐसे ही ट्रैक जर्मनी, अमेरिका और इटली में भी बनाए गए हैं.

    यह भी पढ़ें: केवल 2,222 रुपये की EMI पर घर लाए TVS Jupiter, जानिए पूरा ऑफर

    इतने रुपये आई लागत - 2960 एकड़ में फैले इस हाई स्पीड कार टेस्टिंग ट्रैक को बनाने में 3 साल का समय लगा. जिसमें करीब 800 मजदूर और इंजीनियर ने अपना योगदान दिया. अगर इस टेस्टिंग ट्रैक की लागत की बात करें तो ये कुल 512 करोड़ रुपये में बनकर तैयार हुआ है.

    यह भी पढ़ें: Bajaj Auto ने Pulsar 180 और Avenger की कीमत बढ़ाई, जानिए इसकी नई प्राइस

    इन कारों की होगी टेस्टिंग -  हाईस्पीड कैटेगरी की कारों जैसे मर्सिडीज, टेस्ला, ऑडी, फेरारी, लेम्बोर्गिनी और ‌‌BMW की टेस्टिंग यहां होती है. अब हाई स्पीड टू व्हीलर और भारी कमर्शियल वाहनों की टेस्टिंग भी होगी. इस ट्रैक को यहां बनाने की सबसे बड़ी वजह है कि, पीथपुर में करीब ऑटोमोबाइल कंपनियों के 100 प्लांट है. जहां वॉल्वो, आयशर, हिंदुस्तान मोटर्स, एवटेक, महिंद्रा, फोर्स मोटर्स जैसी कंपनी अपने वाहन का निर्माण करती है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज