ऑटो कंपनियों की परेशानी बढ़ी, इस वजह से डीलर्स नहीं ले रहे नई गाड़ी

BS-6 लागू होने से पहले ऑटो (auto) कंपनियों के सामने अब इस बात की परेशानी खड़ी हो गई है कि मैन्युफैक्चर्ड गाड़ियों को कहां रखा जाए.

Subhesh Sharma | News18Hindi
Updated: August 10, 2019, 6:24 PM IST
ऑटो कंपनियों की परेशानी बढ़ी, इस वजह से डीलर्स नहीं ले रहे नई गाड़ी
ऑटो सेक्टर
Subhesh Sharma | News18Hindi
Updated: August 10, 2019, 6:24 PM IST
BS-6 लागू होने से पहले ऑटो (auto) कंपनियों के सामने अब इस बात की परेशानी खड़ी हो गई है कि मैन्युफैक्चर्ड गाड़ियों को कहां रखा जाए. बिक्री घटने और पुरानी इनवेंट्री पड़े होने की वजह से अब तो डीलर्स ने भी नई गाड़ी लेने से साफ मना कर दिया है.

पुरानी गाड़ी बिक नहीं रही
देश के अधिकतर ऑटो डीलर्स इनदिनों बड़ी समस्या से गुजर रहे हैं. एक तो पुरानी गाड़ी बिक नहीं रही और कंपनी नई गाड़ी के लिए दबाव डाल रही हैं. समस्या सिर्फ ऑटो डीलर्स ही नहीं हैं, परेशान ऑटो कंपनियां भी हैं. SIAM के मुताबिक कंपनियां अप्रैल 2020 की डेडलाइन से पहले BS-6 गाड़ियां बनाने में लगी है लेकिन पुरानी BS-4 गाड़ियों की बिक्री नहीं होने से मुश्किल और बढ़ गई है.

ये भी पढ़ें: अब इस कार कंपनी ने सैकड़ों लोगों को नौकरी से निकाला, जानें क्या रही वजह?

मंदी के दौर से गुजरता ऑटो सेक्टर
मंदी के दौर से गुजरता ऑटो सेक्टर


300 डीलरशिप हुए बंद
डीलरों के एसोसिएशन FADA के मुताबिक, नई गाड़ियों का कुल रजिस्ट्रेशन हर महीने 5 परसेंट कम हो रहा है और कमर्शियल गाड़ियों में यह करीब 20 परसेंट है. और तो और हर डीलरशिप में 2-3 महीने की इनवेंट्री भी पड़ी हुई है. इनवेंट्री बढ़ने से डीलर्स का वेयरहाउस और मेंटनेंस खर्च भी बढ़ता जा रहा है. हालात इतने खराब हो चुके हैं कि पिछले कुछ महीनों में 300 डीलरशिप बंद हो चुके हैं और इतने ही बंद होने के कगार पर हैं.
Loading...

(सोर्स: मनीकंट्रोल हिंदी)

ये भी पढ़ें: कार खरीदारों के लिए खुशखबरी, गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन फीस नहीं बढ़ाएगी सरकार

ये भी पढ़ें: ...तो क्या नहीं बंद होंगी पेट्रोल-डीजल गाड़ियां, इस वजह से मिल सकती है ढील!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 10, 2019, 5:46 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...