Home /News /auto /

इस तरह पेट्रोल-डीजल कार को इलेक्ट्रिक में बदलकर लाखों रुपए बचाएं; लागत भी बेहद कम

इस तरह पेट्रोल-डीजल कार को इलेक्ट्रिक में बदलकर लाखों रुपए बचाएं; लागत भी बेहद कम

भारत में ऑटज्ञे निर्माता कंपनियां तेजी से ई-वाहनों का रुख कर रही हैं.

भारत में ऑटज्ञे निर्माता कंपनियां तेजी से ई-वाहनों का रुख कर रही हैं.

जिन लोगों के पास पहले से कार वे भी अपनी कार को इलेक्ट्रिक कार में कन्वर्ट करा सकते हैं. हालांकि, इलेक्ट्रिक किट में आने वाला खर्च बहुत ज्यादा होता है, लेकिन आप एक बार रुपए खर्च कर भविष्य में इससे लाखों रुपए आसानी से बचा सकते हैं.

    नई दिल्ली. देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतें आसमान पर पहुंच गई हैं. इसलिए लोग अब किफायती ईंधन वाले व्हीकलों की ओर रुख कर रहे हैं. ऐसे में लोग पेट्रोल-डीजल की जगह इलेक्ट्रिक कार खरीदना पसंद कर रहे हैं.  हालांकि जिन लोगों के पास पहले से कार वे भी अपनी कार को इलेक्ट्रिक कार में कन्वर्ट करा सकते हैं. हालांकि, इलेक्ट्रिक किट में आने वाला खर्च बहुत ज्यादा होता है, लेकिन आप एक बार रुपए खर्च कर भविष्य में इससे लाखों रुपए आसानी से बचा सकते हैं. क्योंकि इलेक्ट्रिक व्हीकल को चलाने की लागत और मेंटेनेंस काफी कम होता है.

    खैर, ऐसी कंपनियां हैं जो आपकी फ्यूल कार को 4 से 5 लाख रुपए की लागत में इलेक्ट्रिक कार में बदल सकते हैं. इसमें आने वाला खर्च मोटे तौर पर मोटर की क्षमता और बैटरी क्षमता पर ज्यादा डिपेंड करता है. एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 12 किलो वाट की लिथियम-आयन बैटरी और 20 किलोवाट की इलेक्ट्रिक मोटर की कीमत 4 लाख रुपए तक हो सकती है.

    ये भी पढ़ें- झटका! महंगी हुईं Toyota Innova, Fortuner और Legender, जानें कितने रुपये ज्यादा करने पड़ेंगे खर्च

    यहां करा सकते हैं कन्वर्ट
    फ्यूल कार को इलेक्ट्रिक कार में कन्वर्ट करने से जुड़ी ज्यादातर कंपनियां हैदराबाद में हैं. इनमें ईट्रायो (etrio) और नॉर्थवेएमएस (northwayms) प्रमुख हैं. ये दोनों कंपनियां किसी भी पेट्रोल या डीजल कार को इलेक्ट्रिक कार में कन्वर्ट करती हैं. इसके अलावा दिल्ली में भी कई ऐसी कंपनियां हैं, जो फ्यूल व्हीकल को इलेक्ट्रिक व्हीकल में बदलने का काम करती हैं. आप वैगनआर, ऑल्टो, डिजायर, i10, स्पार्क या दूसरी कोई भी पेट्रोल या डीजल कार इलेक्ट्रिक में कन्वर्ट करा सकते हैं. कारों में इस्तेमाल होने वाली इलेक्ट्रिक किट लगभग एक जैसी होती है. हालांकि रेंज और पावर बढ़ाने के लिए बैटरी और मोटर में फर्क आ सकता है.

    पेट्रोल-डीजल से चलाने में आता है बहुत खर्च
    कन्वर्ट के बाद कार को चलाने में आने वाले खर्च की बात करें तो उसमें आपको काफी अंतर देखने मिलेगा. उदाहरण के लिए Tata Nexon को लेते हैं, जो पेट्रोल, डीजल और इलेक्ट्रिक पर भी चलती है. Nexon का इलेक्ट्रिक वर्जन दिसंबर 2019 में पेश किया गया था. Nexon का फ्यूल वर्जन पेट्रोल और डीजल में 16 से 22 किलोमीटर का माइलेज देता है. पेट्रोल की कीमत ₹ 100 प्रति लीटर और माइलेज 16 किमी/ली पर देखते हुए, कार की लागत लगभग 6.25 पैसे प्रति किलोमीटर होगी. डीजल ₹95 लीटर और माइलेज 22 किमी/लीटर के साथ, लागत ₹4.31 प्रति किलोमीटर आती है.

    ये भी पढ़ें- क्या आपने देखी है गिरगिट की तरह रंग बदलने वाली कार; BMW की इस कार के बारे में जानें सबकुछ

    इस तरह बचेंगे लाखों रुपए
    अब Nexon के इलेक्ट्रिक वर्जन के साथ अगर हम 6 रु,/यूनिट को बिजली की लागत के रूप में मानते हैं तो इसे पूरी तरह चार्ज करने के लिए ₹181.2 खर्च होंगे. फिर यह लगभग 300 किमी तक दौड़ेगी. इस तरह इसकी कीमत प्रति किलोमीटर 60 पैसे के करीब होगी. इस तरह आप दो या तीन साल में इलेक्ट्रिक किट लगवाने में आने वाले खर्च के बराबर सेविंग कर पाएंगे.

    Tags: Auto News, Autofocus, Car Bike News, Electric Car

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर