बजाज ऑटो कर सकती है सैलरी में 10% की कटौती, छंटनी का इरादा नहीं

बजाज ऑटो कर सकती है सैलरी में 10% की कटौती, छंटनी का इरादा नहीं
छंटनी का इरादा नहीं

COVID-19: बजाज ऑटो ने कहा है अगर 21 अप्रैल तक कंपनी की फैक्ट्रियों में उत्पादन शुरू नहीं हो जाता तो कंपनी अपने कर्मचारियों के वेतन में 10 फीसदी की कटौती कर सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 16, 2020, 1:56 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत की तीसरी सबसे बड़ी दुपहिया वाहन बनाने वाली कंपनी बजाज ऑटो ने कहा है अगर 21 अप्रैल तक कंपनी की फैक्ट्रियों में उत्पादन शुरू नहीं हो जाता तो कंपनी अपने कर्मचारियों के वेतन में 10 फीसदी की कटौती कर सकती है. प्रस्तावित कटौती लगभग आधे अप्रैल के लिए होगी और 3 मई को लॉकडाउन हटने के साथ ही समाप्त हो जाएगी. बजाज ऑटो के ही एक सूत्र ने बताया है कि अगर 21 अप्रैल से उत्पादन शुरू हो जाता है तो कोई वेतन कटौती नहीं होगी. लेकिन अगर 21 अप्रैल से उत्पादन नहीं शुरु हो पाता तो 10 फीसदी वेतन कटौती की योजना लागू होगी. ऐसा होने पर कंपनी के कर्मचारियों को करीब 2000-2,500 रुपये की चपत लगेगी.

घरेलू मामले के मंत्रालय की तरफ से 15 अप्रैल को जारी दिशानिर्देशों के मुताबिक सरकार ने इंडस्ट्री को ग्रामीण इलाकों में स्थित फैक्ट्रियों में कामकाज शुरू करने की अनुमति दे दी है. इसके अलावा स्पेशल इकोनॉमिक जोन और एक्सपोर्ट ओरिएंटेड यूनिटों, इंडस्ट्रियल इस्टेट और इंडस्ट्रियल टाउनशिप्स में एक्सेस कंट्रोल रखने वाली कंपनियों को भी 20 अप्रैल से कामकाज करने की छूट मिली है.

ये भी पढ़ें: लॉकडाउन खत्म होने के बाद बढ़ सकती है सस्ती कार और मोटरसाइकिल की डिमांड



बता दें कि पल्सर और केटीएम बाइक बनाने वाली बजाज ऑटो का पिछले सालों में वेतन और दूसरे मुद्दों को लेकर लेबर यूनियंस के साथ कई बार पंगा हुआ है. लेकिन कोरोना क्राइसिस के दौरान कंपनी के इस निर्णय में लेबर यूनियन भी कंपनी के साथ है. सूत्रों के मुताबिक कंपनी में अभी तक कोई छंटनी नहीं हुई है, ऐसा करने की अभी कोई योजना भी नहीं हैं.
CNBC-TV18 की रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी के एचआर डिपार्टमेंट के एक ई-मेल से पता चला है कि कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्ट राजीव बजाज लॉकडाउन की अवधि के लिए कोई वेतन नहीं लेंगे. बता दें कि मार्च महीने में अपोलो टायर और जेके टायर ने कोविड-19 की वजह से बिगड़े हालात से निपटने के लिए अपने वरिष्ठ प्रबंधन के वेतन में कटौती का एलान किया था.

मार्च में बजाज ऑटो की घरेलू टू-व्हीलर बिक्री 55 फीसदी गिरी
बता दें कि 23 मार्च को घोषित लॉकडाउन की वजह से मार्च में बजाज ऑटो की घरेलू टू-व्हीलर बिक्री 55 फीसदी गिरकर 98,412 यूनिट रही है. मार्च में कंपनी की कुल बिक्री 38 फीसदी की गिरावट के साथ 242,575 यूनिट रही है. वित्त वर्ष 2020 में कंपनी की कुल वाहन बिक्री सालाना आधार पर 8 फीसदी घटकर 46.1 लाख यूनिट रही. इसमें टू-व्हीलर बिक्री, क्वाड्रिसाइकिल बिक्री, थ्री-व्हीलर बिक्री, घरेलू और विदेशी दोनों बाजारों में हुई बिक्री सभी शामिल हैं.

ये भी पढ़ें: 5 लाख रुपये से कम कीमत में लॉन्च हो सकती है Maruti की ये तीन कार, मिलेंगे दमदार फीचर्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading