Home /News /auto /

china files more patent application for cell vehicles dnsh

फ्यूल सेल वाहनों को पेटेंट करवाने के लिए लगी दौड़, चीन सूची में सबसे ऊपर: रिपोर्ट

फ्यूल सेल वाहनों के पेटेंट की दौड़ बढ़ी

फ्यूल सेल वाहनों के पेटेंट की दौड़ बढ़ी

हाइड्रोजन फ्यूल सेल वाहन सबसे बड़ी परिवहन चुनौतियों का समाधान बन कर उभरा है. इस कारण हाइड्रोजन फ्यूल सेल टेक्नोलॉजी इनोवेशन में एक महत्वपूर्ण उछाल दर्ज किया गया है.

नई दिल्ली. जैसे-जैसे दुनिया जीरो इमिशन सोल्यूशन की ओर बढ़ रही है. हाइड्रोजन फ्यूल सेल वाहन सबसे बड़ी परिवहन चुनौतियों का समाधान बन रहे हैं. इस वजह से 2016 के बाद से हाइड्रोजन फ्यूल सेल टेक्नोलॉजी इनोवेशन में एक महत्वपूर्ण उछाल आया है. इस बात की जानकारी एक नई रिपोर्ट से सामने आई है.

वर्ल्ड इन्टलेक्चूअल प्रोपर्टी ऑर्गानाइजेशन (WIPO)की लेटेस्ट फाइंडिंग के अनुसार चीन, जापान और जर्मनी ने प्रौद्योगिकी के लिए सबसे अधिक पेटेंट एप्लीकेशन दी हैं. यह तकनीक वैश्विक जलवायु परिवर्तन में योगदान करने वाले उत्सर्जन को पैदा किए बिना वाहनों को शक्ति प्रदान कर सकते हैं.

पेटेंट आवेदन में बढ़ोतरी
WIPO की रिपोर्ट में कहा गया है कि 2016 और 2020 के बीच हाइड्रोजन फ्यूल सेल क्षेत्र में पेटेंट आवेदन दाखिल करने में लगभग 23.4% की वृद्धि हुई है. 2020 में चीन में स्थित इनोवेटर्स 7,261 आवेदनों के साथ शीर्ष फाइलर थे. इसके बाद जापान , जर्मनी , कोरिया गणराज्य और संयुक्त राज्य अमेरिका ने इसके लिए आवेदन किया था.

पांच देशों ने की सबसे ज्यादा फाइलिंग
रिपोर्ट में कहा गया है कि सामान्य रूप से फ्यूल सेल की तुलना में इलेक्ट्रिक वाहनों से संबंधित अधिक पेटेंट फाइलिंग हुई हैं. इनमें शीर्ष पांच आविष्कारक देशों से सबसे अधिक से पेटेंट दाखिल किए गए हैं. रिपोर्ट से पता चलता है कि वैश्विक परिवहन क्षेत्र के कारण एक चौथाई कार्बन डाइऑक्साइड फैलता है.

यह भी पढ़ें- महाराष्ट्र: सेमीकंडक्टर और कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स उद्योग में निवेश करेगी Foxconn

नई तकनीक स्वीकार कर रहे हैं लोग
इलेक्ट्रिक वाहनों के तेजी से बिकने से पता चलता है कि ग्राहक तकनीकी प्रगति को स्वीकार करने के लिए तैयार हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि फ्यूल सेल, जो हाइड्रोजन और ऑक्सीजन को बिजली से पावर व्हीकल में परिवर्तित करते हैं, वह केवल पानी और गर्मी का उत्सर्जन करते हैं.

जलवायु परिवर्तन एक गंभीर वैश्विक चुनौती
डब्ल्यूआईपीओ के महानिदेशक डैरेन टैंग ने कहा कि जलवायु परिवर्तन एक गंभीर वैश्विक चुनौती है, जिसके लिए हर जगह से इनोवेशन की आवश्यकता है और हाइड्रोजन फ्यूल सेल जैसी नई स्वच्छ टेक्नोलॉजी आने वाली पीढ़ियों के लिए एक स्वस्थ प्लानेट बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगी. जलवायु परिवर्तन की मांग है कि हम यह सुनिश्चित करने के लिए इनोवेशन-सेंट्रिक नीतियों, प्रोत्साहनों और निवेश को बढ़ाएं और हाइड्रोजन फ्यूल सेल और अन्य स्वच्छ प्रौद्योगिकियां उपभोक्ताओं तक जल्दी पहुंचें.

Tags: China, Electric Vehicles

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर