• Home
  • »
  • News
  • »
  • auto
  • »
  • COST OF THIS ESSENTIAL PART OF ELECTRIC VEHICLE WILL BE ONLY 3500 RUPEES VEHICLES WILL BE CHEAPER THAN THIS KNOW EVERYTHING KANND

इलेक्ट्रिक व्हीकल के इस जरूरी पार्ट की कीमत होगी सिर्फ 3500 रुपये, सस्ते होंगे वाहन, जानें सबकुछ

इलेक्ट्रिक कार के चार्जर की सरकार ने कीमत की तय.

EV चार्जिंग इकोसिस्टम के विकास को सुविधाजनक बनाने के लिए, विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (DST), भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार (PSA) का कार्यालय, NITI Aayog टीम के साथ इस चुनौती को लेकर काम कर रहा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारत सरकार एक नया लो-कॉस्ट AC चार्जिंग पॉइंट रोल आउट करने के लिए तैयार है, जो चार्जिंग पॉइंट स्थापित करने की शुरुआती लागत को कम करके इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने में मदद करेगा. इससे कम लागत वाले ईवी चार्जिंग प्वाइंट के लिए 3,500 रुपये का मूल्य निर्धारित किया है. कम लागत वाली ईवी चार्जिंग पहल का उद्देश्य अनिवार्य रूप से भारत में टियर 2 और 3 शहरों, कस्बों और गांवों में ईवी, खासकर दोपहिया और तिपहिया वाहनों के फायदों को अपनाने और विस्तार करने में सक्षम बनाना है.

    दोपहिया और तिपहिया वाहन देश में मोटराइज्ड परिवहन का सबसे किफायती रूप हैं. वे कुल वाहन बिक्री का लगभग 84% हिस्सा हैं. इन दो सेगमेंट्स में सबसे तेजी से ईवी को अपनाने की उम्मीद है. 2025 तक उम्मीद है कि हर साल 4 मिलियन वाहनों को बेचा जा सकता है, जो 2030 तक बढ़कर लगभग 10 मिलियन हो जाएगा. इसलिए, सरकार के अनुसार, इस क्षेत्र को पूरा करने के लिए कोई भी चार्जिंग समाधान अत्यधिक स्केलेबल होना चाहिए, जनता द्वारा आसानी से सुलभ होना चाहिए, इंटरऑपरेबिलिटी का समर्थन करना चाहिए और किफायती होना चाहिए.

    यह भी पढ़ें: टेस्ला से स्टंट करते हुए पुलिस ने पकड़ा भारतीय युवक! छूटा तो फिर खरीदी नई कार और किया वहीं स्टंट, फिर गिरफ्तार

    EV चार्जिंग इकोसिस्टम के विकास को सुविधाजनक बनाने के लिए, विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (DST), भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार (PSA) का कार्यालय, NITI Aayog टीम के साथ इस चुनौती को लेकर काम कर रहा है. एक कमेटी जिसमें स्टेकहोल्डर्स, ईवी मैन्युफैक्चरर्स, ऑटो और इलेक्ट्रॉनिक कॉम्पोनेंट सप्लायर, पावर यूटिलिटी और कम्युनिकेशन सर्विस प्रोवाइडर हैं, ये सभी मिलकर फास्ट ट्रैक मोड में काम कर रहे हैं, जिसमें स्पेस, प्रोटोटाइप प्रोडक्ट्स की टेस्टिंग शामिल है. इन्हें औपचारिक रूप से बीआईएस द्वारा जारी किया जाना है.

    यह भी पढ़ें: Renault, Nissan, Kia और Hyundai की ये एसयूवी मिलेगी केवल 7 लाख रुपये में, जानिए सबकुछ

    इस ग्रुप ने इस चार्जिंग पाइंट के लिए 3500 रुपए की कीमत रखी है. जिसमें स्मार्ट एसी चार्ज पाइंट मिलता है और इसे आप स्मार्टफोन से भी ऑपरेट कर सकते हैं. यह कम लागत वाला एसी चार्ज पॉइंट (एलएसी) ई-स्कूटर और ई-ऑटो रिक्शा चार्ज करने के लिए 3 किलोवाट तक का पावर देता है.

    कई भारतीय निर्माता पहले से ही इस चार्ज प्वाइंट डिवाइस को भारतीय मानकों के अनुसार बनाने के लिए तैयार हैं, जिसका लक्ष्य मूल्य 3,500 रुपये से कम है. LAC डिवाइस को अत्यधिक स्केलेबल और किसी भी स्थान पर तैनात किया जा सकता है, जहां एक 220V 15A सिंगल फेज लाइन उपलब्ध है, मुख्य रूप से मेट्रो और रेलवे स्टेशनों, शॉपिंग मॉल, अस्पतालों, ऑफिस कॉम्प्लेक्स, अपार्टमेंट और यहां तक ​​कि किराना और अन्य दुकानों की पार्किंग में उपलब्ध होता है.
    Published by:Kanhaiya Pachauri
    First published: