दिवाली के मौके पर Electric कार और स्कूटर खरीदने पर 3 दिन में मिलेगा सब्सिडी का पैसा, जानिए कैसे

नई इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी से नए कार खरीदारों के लिए ईवी खरीदना आसान हो जाएगा
नई इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी से नए कार खरीदारों के लिए ईवी खरीदना आसान हो जाएगा

दिल्ली सरकार की नई इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी से नए कार खरीदारों के लिए ईवी खरीदना आसान हो जाएगा. दिल्ली वालों को ईवी पर सब्सिडी मिलेगी और भी 3 दिन के अंदर. इससे सीधे-सीधे आपकी ईवी की कीमत काफी कम हो जाएगी. फिर चाहे आप इलेक्ट्रिक कार खरीदें या फिर कोई दोपहिया वाहन. आइए जानते हैं नई पॉलिसी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 29, 2020, 2:28 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आम के आम और गुठलियों के दाम. कहने को तो यह सिर्फ एक कहावत है. लेकिन दिल्ली सरकार इसे हकीकत में बदल रही है. अगर आप अपना कोई भी वाहन स्क्रेप कराते हैं तो वाहन की कीमत के साथ आपको सब्सिडी भी मिलेगी. और यह सब्सिडी देगी दिल्ली सरकार. वो भी घर बैठे सिर्फ एक बेवसाइट की मदद से. लेकिन यह फायदा उठाने के लिए आपको एक काम भी करना होगा. यह काम है इलेक्ट्रीक व्हीकल खरीदने का. अगर आप ऐसा करते हैं तो एक बार फिर से सरकार आपको सब्सिडी देगी, यह सब्सिडी होगी इलेक्ट्रीक व्हीकल खरीदने पर. है ना आम के साथ गुठलियों के भी दाम.

किन-किन इलेक्ट्रिक गाड़ियों पर कितनी छूट का ऐलान किया है.

बाइक (2-wheelers) पर 30 हजार की छूट.कार (4-wheelers) पर डेढ़ लाख (Rs 1.5 lakh) की छूट. ऑटो (Auto rickshaw) पर 30 हजार तक तक की छूट. ई-रिक्शा (E-rickshaw) पर 30 हजार रुपये तक की छूट. मालवाहक वाहनों (Freight carriers) पर 30 हजार तक की छूट मिलेगी.



दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह छूट केंद्र से मिलने वाली छूट के अतिरिक्त होगी. इसके अलावा स्कीम में स्क्रैपिंग इनसेंटिव भी दी जाएगी. मुख्यमंत्री केजरीवाल के मुताबिक, दिल्ली में उन्होंने बड़े पैमाने पर लोगों से मिलकर इस विषय पर चर्चा करने के बाद इस पॉलिसी का प्लान तैयार किया है. उनका कहना है कि बीते 2-3 साल के बीच कड़ी मेहनत के बाद सभी लोगों से चर्चा करके दिल्ली की Electric Vehicle Policy तैयार की गई है. आज सुबह इस पॉलिस को नोटिफाई कर दिया गया है.


दो-दो सब्सिडी लेने के लिए खरीदने होंगे यह वाहन-दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहनों के 100 से ज्यादा मॉडल को दिल्ली सरकार स्वीकृत कर चुकी है. अभी तक 36 निर्माताओं ने इलेक्ट्रिक व्हीकल नीति के तहत खुद पंजीकृत कर लिया है. पूरे नेटवर्क में 98 डीलर जुड़ चुके हैं. दिल्ली सरकार की तरफ से स्वीकृत 100 मॉडल में 14 दो पहिया वाहन, ई रिक्शा के 45 मॉडल और चार पहिया वाहनों के मॉडल 12 हैं. पूरी प्रक्रिया को ऑनलाइन और बहुत ही सरल किया है. सब्सिडी का दावा करने के लिए आपको सिर्फ तीन चीजें देनी होगी. पहला, सेल्स इनवॉइस, दूसरा आधार कार्ड और तीसरा कैंसल चेक की एक कॉपी.

इन 100 वाहनों के मॉडल होंगे चार्ज

-14 इलेक्ट्रिक दो पहिया वाहन (हीरो इलेक्ट्रिक, ओकिनावा, एम्पीयर, जितेंद्र न्यू ईवी टेक और ली-आयनों इलेक्ट्रिक).

- 12 इलेक्ट्रिक चार पहिया वाहन (टाटा-महिंद्रा).

- चार इलेक्ट्रिक ऑटो (2 महिंद्रा, 1 पिआगो और 1 सारथी).

- ई-रिक्शा के 45 मॉडल.

- 17 ई-कार्ट मॉडल.

इस बेवसाइट से मिलेगा सब्सिडी के साथ फायदा भी-दिल्ली सरकार ने दोनों तरह की सब्सिडी का फायदा देने के लिए एक बेवसाइट तैयार की है. यह बेवसाइट ev.delhi.gov.in के नाम से है. वाहन को स्क्रेप कराने और नया ईवी वाहन खरीदने वाला शख्स इस बेवसाइट से सरकार की ओर से दी जा रहीं सुविधाओं का फायदा उठा सकता है. इतना ही नहीं सब्सिडी के साथ ही सरकार नए ईवी पर रोड टैक्स और रजिस्ट्रेशन फीस भी माफ कर रही है. लेकिन यह छूट 15 लाख रुपये से कम की कीमत वाले वाहन पर ही मिलेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज