लाइव टीवी

अगर दिल्ली में यहां कटा है चालान तो मिल सकते हैं पैसे वापस, कोर्ट पहुंचा मामला

भाषा
Updated: October 23, 2019, 4:10 PM IST
अगर दिल्ली में यहां कटा है चालान तो मिल सकते हैं पैसे वापस, कोर्ट पहुंचा मामला
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस

याचिकाकर्ता पवन प्रकाश पाठक ने कहा कि 15 अक्टूबर को दिल्ली यातायात पुलिस ने एक बयान जारी कर कहा कि उन्होंने लगभग 1.5 लाख चालान वापस लेने का फैसला किया है

  • Share this:
नई दिल्ली: दिल्ली हाईकोर्ट ने मंगलवार को केंद्र और आम आदमी पार्टी सरकार से उस याचिका पर जवाब मांगा, जिसमें अनुरोध किया गया है कि नेशनल हाईवे-24 पर अगस्त से 10 अक्टूबर के बीच तेज गति से गाड़ी चलाने के लिए जारी चालान की राशि उन लोगों को वापस की जाए जो 70 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम सीमा से कम गति से गाड़ी चला रहे थे. मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति सी हरि शंकर की पीठ ने एक याचिका पर गृह मंत्रालय और दिल्ली सरकार को नोटिस जारी किया.

नोटिस बोर्ड लगाने में हुई गड़बड़ी
याचिका में कहा गया है कि नोटिस बोर्ड लगाने में राज्य की गड़बड़ी के कारण पुलिस विभाग द्वारा चालान जारी किए गए थे. बोर्ड में बताया गया था कि वाहनों की अधिकतम गति सीमा 70 किमी प्रति घंटा थी, जबकि 60 किमी प्रति घंटे की गति को पार करने पर चालान जारी किए जा रहे थे. याचिकाकर्ता पवन प्रकाश पाठक ने कहा कि 15 अक्टूबर को दिल्ली यातायात पुलिस ने एक बयान जारी कर कहा कि उन्होंने लगभग 1.5 लाख चालान वापस लेने का फैसला किया है, जिनमें से अधिकतर उन लोगों को जारी किए गए, जिन्हें अगस्त से 10 अक्टूबर तक राष्ट्रीय राजमार्ग-24 पर निर्धारित गति से तेज रफ्तार से गाड़ी चलाते हुए पकड़ा गया था.

हालांकि इस संबंध में कोई स्पष्टता नहीं है कि पुलिस द्वारा जुर्माने के रूप में ली गई राशि का क्या होगा. याचिका में यह अनुरोध भी किया गया है कि सड़क दुर्घटनाओं की वैज्ञानिक तरीके से जांच और और इसके निवारण के उपायों पर गौर करने के लिए दिल्ली सड़क सुरक्षा नीति के तहत एक समिति गठित की जाए.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 4:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...