दाे साल पुरानी Creata काे आग लगाने चला था यह शख्स, वारंटी के बाद भी नहीं मिली सर्विस, जानिए किस गलती की वजह से कंपनी ने किया मना

 जानिए वाे दस गलतियां जिस पर कंपनी खत्म कर देती है वारंटी

जानिए वाे दस गलतियां जिस पर कंपनी खत्म कर देती है वारंटी

नई कार लेते समय हमें बस यही साेचते है कि अभी ताे एक लाख किलाेमीटर तक वारंटी है कार काे कुछ भी हाेगा कंपनी भरेगी. यह सही भी है लेकिन इसके पीछे कई नियम हाेते है जाे लाेगाें काे पता नहीं हाेते है, नियम टूटने के बाद क्लेम करते है तब कुछ नहीं मिलता.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2021, 9:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हुंडई (Hyndai)की सबसे ज़्यादा बिकने वाली काराें में से एक Creata जिसे किसी शख्स ने करीब 17 लाख रुपए देकर खरीदा हाे और सिर्फ दाे साल में वाे उसे आग लगाने का मन बना ले ताे सवाल ताे आता ही है कि आखिर ऐसी क्या बात हाेगी. उन्हाेंने कार काे आग लगाने के लिए जगह भी चुनी काे कार का शाे-रूम. घटना पिछले दिनाें हरियाणा के करनाल में घटी जहां दाे साल पहले ली नई हुंडई के इंजन में खराबी आने के बाद उसे कंपनी के शाे-रूम में ले जाकर मनजीत सिंह आग के हवाले करने वाले थे बाद में पुलिस आ गई. और उन्हें समझाया गया कि आखिर क्याें उन्हें कंपनी वारंटी नहीं दे रही है. यह सही है कि कार की वारंटी काे लेकर कंपनी के कई नियम व शर्ते रहती है जिनकी जानकारी के अभाव में हम उसे खाे देते है.

ये था पूरा मामला

करनाल हरियाणा के रहने वाले मनजीत सिंह ने 2019 में 16.45 लाख रुपये की नई हुंडई Creata खरीदी थी.मनजीत का कहना था कि कार के इंजन में 80 हजार किलाेमीटर के बाद ही खराबी आ गई. उनका दावा था कि कंपनी ने एक लाख किलाेमीटर तक की वारंटी दी थी लेकिन अब कंपनी 80 हजार किलाेमीटर पर भी कह रही है कि इसे ठीक करने में डेढ़ लाख रुपए का खर्च आएगा जिसमें से वाे सिर्फ आधा ही देगी. मनजीत का यह भी दावा था कि छह महीने पहले कंपनी से ही सर्विस करवाई थी जिसके बाद सात हजार किलाेमीटर चलने के बाद ही इंजन में खराबी आ गई. यही वजह है कि वाे मांग कर रहे है कि कंपनी इसका पूरा खर्चा उठाए.

ये भी पढ़ें  - Toyota की सबसे छोटी इलेक्ट्रिक कार C+pod कई खास फीचर्स से है लैस, जानें कीमत


इसलिए मना किया कंपनी ने, आप भी ध्यान रखे



इस मामले में शाे-रूम की तरफ से यह कहा गया कि कार की वारंटी सिर्फ तब तक के लिए रहती है जब तक दिए गए किलाेमीटर जिस पर वारंटी है उस समय तक पूरी सर्विस कंपनी वर्कशॉप से ही हाे. इस मामले में भी यही हुआ था कि कार की कुछ सर्विसिंग लाेकल से भी करवाई थी जाे कि कंपनी के नियम के खिलाफ है. इसके अलावा भी वाे काैन-काैन सी चीजें है जिनका ध्यान हमें रखना चाहिए वर्ना कार की वारंटी खत्म हाे सकती है आइए जाते है -



यदि ये भी हुआ तब भी नहीं मिलेगी वारंटी





- आजकल ज्यादातर कारें इलेक्ट्रॉनिक रहती है, ऐसे में उसकी वायरिंग बेहद महत्वूर्ण रहती है. ताे यदि आप आफ्टर मार्केट एसेसरीज लगवाते है उसकी वजह से कार के किसी भी पार्ट में दिक्कत आती है ताे कंपनी वारंटी के लिए मना कर सकती है.



- दिए गए समय पर ही सर्विसिंग करवाए, समय पर और तय किलाेमीटर पर सर्विसिंग नहीं करवाएंगे ताे इससे भी वारंटी खत्म हाे सकती है



- इलेक्ट्रॉनिक्स पार्ट्स जैसे सेंट्रल लॉकिंग, पावर विंडाे, म्यूजिक सिस्टम बाहर से लगवाते समय यदि कार की काेई वायरिंग कट हाे गई ताे इलेक्ट्रिक वारंटी खत्म हाे जाएगी. 



ये भी पढ़ें - Second Hand Car और Bike खरीदना या बेचना चाहते हैं, नहीं पता है सही कीमत, तो यहां चेक करें





- हेडलाइट की राैशनी बढ़ाने के लिए ज्यादा पावर का बल्ब लगवाते है ताे उससे कंपनी की  वायरिंग जल सकती है. ऐसे में कंपनी उसे भी रिप्लेस नहीं करेगी. 



- कार यदि वारंटी पीरियड में है और आप बाहर से सीएनजी लगवाने का साेच रहे है ताे इससे भी कार की वारंटी खत्म हाे सकती है. 



- कई लाेग टायराें में मॉडिफिकेशन करते हुए ओवर साइज के टायर लगवाते है जिससे माइलेज, सस्पेंशन और स्पीड पर फर्क पड़ता है. ऐसा करने पर किसी भी पार्ट में दिक्कत आने पर कंपनी उसे बदलने से मना कर सकती है. 



ये भी पढ़ें - केवल 1.70 लाख रुपये में खरीद सकते हैं BMW की कार और बाइक्स, जानें इसके बारे में...





- इंजन की परफॉमेंस बढ़ाने के लिए मार्केट में मिलने वाले फ्लूड काे वारंटी पीरियड तक कार के इंजन में ना डाले, दिक्कत आने पर कंपनी इसका हवाला देकर भी वारंटी खत्म कर सकती है. 



- इंजन में मॉडिफिकेश इंजन का परफॉमेंस बढ़ाने के लिए आइल फिल्टर, टर्बाे, चेंज कर देते है. ऐसा करके भी आप कंपनी वारंटी काे खत्म करने का काम करते है. 



ये भी पढ़ें - वाहन चाेरी होने पर जिम्मेदारी से नहीं बच सकते पार्किंग स्थल, जानिए क्या कहता है कानून



-  कई लाेग कार काे रेसिंग में इस्तेमाल करते या फिर एक्ट्रिम कंडीशन में चलाते है नियमानुसार कंपनी तब भी वारंटी खत्म कर सकती है. 



- कही रास्ते में इंजन में दिक्कत आती है ताे कंपनी बात कर उन्हें बुलाएं यदि आपने किसी लाेकल मैकेनिक से उसे ठीक करवाया ताे उसके बाद इंजन की वारंटी कंपनी नहीं देगी. 


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज