भारत में नहीं आएंगी Driverless कारें, सरकार लाएगी ये सर्विस

News18Hindi
Updated: July 25, 2017, 2:33 PM IST
भारत में नहीं आएंगी Driverless कारें, सरकार लाएगी ये सर्विस
नितिन गडकरी का मानना है कि ड्राइवरलेस कार आने से देश में लाखों लोगों की नौकरी खतरे में पड़ जाएगी.
News18Hindi
Updated: July 25, 2017, 2:33 PM IST
भारत की सड़को पर Driverless कारों को लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने आपत्ती जताई है. उन्होंने कहा कि दुनिया भर में भले ही ड्राइवरलेस कारों को लेकर काफी उत्साह बढ़ रहा हो, लेकिन भारत में फिलहाल ऐसी कारों के लिए कोई जगह नहीं होगी.

नितिन गडकरी का मानना है कि ड्राइवरलेस कार आने से देश में लाखों लोगों की नौकरी खतरे में पड़ जाएगी. इसलिए वह भारत में लोगों की नौकरी को बचाने के लिए इस तरह की कारों को अनुमति नहीं देंगे. इसलिए Ola और Uber को टक्कर देने के लिए जल्द ही सरकार ऐप बेस्ड कैब सर्विस शुरू करने का प्लान कर रही है.

उन्होंने कहा कि आज लाखों लोगों को नौकरियां ट्रकर्स और टैक्सी एग्रीगेटर्स के जरिए ट्रांसपोर्ट मार्केट में आ रही हैं. ऐसे में ड्राइवरलेस कार जैसी टेक्नॉलजी लोगों को बेरोज़गार बना सकती है. हालांकि ऐप लाने की योजना फिलहाल बेहद शुरुआती दौर में है, लेकिन हम इस पर गंभीरता से काम कर रहे हैं.

बता दें कि ग्लोबली, Tesla Motors, Baidu, Google. Uber, Mercedes, Ford और General Motors जैसी कार बनाने और टेक्नोलॉजी कंपनिया Driverless कारों की दुनियाभर में टेस्टिंग कर रही है. साथ ही Tesla के Elon Musk ने 2017 की आखीर तक न्यू यॉर्क में ड्राइवरलेस कार लाने का वादा किया है.
First published: July 25, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर