यूपी में 23 अप्रैल से ड्राइविंग लाइसेंस बनना बंद, 15 मई के बाद नए सिरे से जारी होगा टाइम स्लॉट

ड्राइविंग लाइसेंस

ड्राइविंग लाइसेंस

यूपी के परिवहन आयुक्त द्वारा 23 अप्रैल 2021 से 1 मई 2021 तक सभी प्रकार के ड्राइविंग लाइसेंस (Driving Licence) के बनाए जाने पर रोक लगा दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 7:47 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश समेत पूरे भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) की दूसरी लहर बेहद भयावह रूप ले रही है. कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच उत्तर प्रदेश के परिवहन विभाग ने एक बड़ा कदम उठाया है. यूपी में एक मई तक डीएल यानी ड्राइविंग लाइसेंस (Driving Licence) बनाने पर प्रतिबंध लगा दिया है. इस दौरान डीएल (DL) के संबंध में कोई भी काम नहीं होगा.

यूपी के परिवहन आयुक्त द्वारा 23 अप्रैल 2021 से 1 मई 2021 तक सभी प्रकार के ड्राइविंग लाइसेंस के बनाए जाने पर रोक लगा दिया गया है. इसके साथ ही 23 अप्रैल से 1 मई तक बुक हुए लाइसेंस के स्लॉट को 15 मई के बाद की तिथियों मे रिशेड्यूल करने का निर्देश जारी किया गया है.

परिवहन कार्यालय गाजियाबाद ने जारी किया रिशेड्यूल तारीख

परिवहन आयुक्त के आदेश के परिवहन कार्यालय गाजियाबाद में 23 अप्रैल से 1 मई तक किसी भी प्रकार के ड्राइविंग लाइसेंस संबंधित कोई कार्य संपादित नहीं किया जाएगा. साथ ही उक्त तिथियों में बुक हुए स्लॉट  को 17 मई से निम्न तालिका के अनुसार लर्निंग लाइसेंस, परमानेंट लाइसेंस एवं नवीनीकरण लाइसेंस की तारीखों को रिशेड्यूल किया गया है.
UP में 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 34379 नए केस, 195 की मौत

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में चौबीस घंटों में चौबीस घंटों में कोरोना के 34379 नए केस सामने आए हैं. वहीं बीते 24 घंटे में 195 लोगों ने दम तोड़ दिया है. यूपी के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पिछले चौबीस घंटों में 16514 लोग डिस्चार्ज हो चुके हैं. इस समय 2 लाख 59 हजार 810 लोग एक्टिव केस हैं. अब तक कुल 706414 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. वहीं कुल मौतों की संख्या 10541 है.

उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटे में 1,96,889 सैंपल की जांच की गई. अब तक प्रदेश में 3 करोड़ 90 लाख 89 हजार 449 सैंपल की जांच हो चुकी है. इस समय होम आइसोलेशन में दो लाख 5 हजार लोग हैं. बाकी सरकारी, निजी अस्पतालों में इलाज करा रहे है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज