DTC और आईजीएल के बीच हुआ करार, अब हर साल राजस्व में इतने करोड़ रुपये की होगी बचत

दिल्ली परिवहन निगम ने इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड के साथ सीएनजी ईंधन की आपूर्ति के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किया.

दिल्ली परिवहन निगम ने इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड के साथ सीएनजी ईंधन की आपूर्ति के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किया.

दिल्ली परिवहन निगम (DTC) ने बुधवार को इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (IGL) के साथ सीएनजी (CNG) ईंधन की आपूर्ति के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किया. इस समझौते के अनुसार अब आईजीएल दिल्ली में डीटीसी बसों के साथ-साथ निजी वाहनों को भी सीएनजी की आपूर्ति करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 7:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली परिवहन निगम (DTC) ने बुधवार को इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (IGL) के साथ सीएनजी (CNG) ईंधन की आपूर्ति के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किया. इस समझौते के अनुसार अब आईजीएल दिल्ली में डीटीसी बसों के साथ-साथ निजी वाहनों को भी सीएनजी की आपूर्ति करेगा. दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत (Kailash Gahlot) की उपस्थिति में इस समझौते पर डीटीसी के प्रबंध निदेशक विजय कुमार बिधुरी और आइजीएल के प्रबंध निदेशक ए के जैना ने हस्ताक्षर किए. डीटीसी बसों के लिए सीएनजी की थोक खरीद पर आइजीएल द्वारा डीटीसी को दी जा रही छूट बढ़ाकर अब 6.5 प्रतिशत कर दी गई है, जिससे डीटीसी के राजस्व में 9.6 करोड़ रुपये प्रतिवर्ष की बचत होगी.

डीटीसी और आईजीएल के साथ 10 सालों तक करार

दिल्ली सरकर के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि यह समझौता 10 वर्षों तक लागू रहेगा. दिल्ली में बसों और अन्य वाहनों के लिए पर्यावरणीय अनुकूल स्वच्छ सीएनजी ईंधन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने की दिशा में ये समझौता एक महत्वपूर्ण कदम है. साथ ही दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में बिगड़ती वायु गुणवत्ता को देखते हुए दिल्ली सरकार का यह फैसले काफी अहम है.

DTC, IGL, Delhi Government, Arvind Kejriwal, AAP Government, Delhi Transport Corporation, DTC, Public Transport, E-Buses, Cluster Buses, दिल्ली परिवहन निगम, डीटीसी बस, सीएनजी सप्लाई, आईजीएल के साथ समझौता, कैलाश गहलोत, दिल्ली सरकार
डीटीसी बसों के लिए सीएनजी की थोक खरीद पर आइजीएल द्वारा डीटीसी को दी जा रही छूट बढ़ाकर अब 6.5 प्रतिशत कर दी गई है.

डीटीसी के निजी वाहनों को भी अब मिलेगा सीएनजी

इसके अलावा, दिल्ली में निजी वाहनों को हरित सीएनजी ईंधन की आपूर्ति के लिए हाइब्रिड सीएनजी सेवा केंद्रों द्वारा उपयोग भूमि के शुल्क दरों में वृद्धि से 2 करोड़ रुपए सालाना का राजस्व होगा. इस अवसर पर परिवहन मंत्री गहलोत ने कहा कि आईजीएल डीटीसी बसों और अन्य वाहनों के लिए सीएनजी की आपूर्ति उसी पेशेवर तरीके से करता रहेगा जैसा कि पहले करता रहा है. आईजीएल के साथ डीटीसी का संबंध इस समझौते के साथ और परिपक्व हो जाएगा.

ये भी पढ़ें: केजरीवाल सरकार का बड़ा ऐलान, अब दिल्ली में ई-रिक्शा लर्निंग लाइसेंस के लिए अपॉइंटमेंट की जरूरत नहीं



बता दें कि दिल्ली की सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को केजरीवाल सरकार पटरी पर लाने के लिए तरह-तरह के प्रयोग कर रही है. हाल ही में केजरीवाल सरकार ने दिल्लीवालों को लेकर एक बड़ा फैसला लिया था. दिल्ली में डीटीसी की 1000 बसें और खरीदी जा रही हैं. डीटीसी ने 1000 एसी लो फ्लोर सीएनजी (BS-VI) बसों की खरीद के लिए टेंडर जारी किया है. डीटीसी के रिकॉर्ड अनुसार उसके पास 3600 बसें हैं. इसके अतिरिक्त 2400 निजी क्लस्टर सेवा की बसें है. दिल्ली में कुल कुल मिला के 4200 बसें चलती हैं, जबकि जरूरत है 11000 ‍बसों की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज