Home /News /auto /

कोरोना वायरस की वजह से भारत में कम हो सकती है गाड़ियों की मैन्युफैक्चरिंग- रिपोर्ट

कोरोना वायरस की वजह से भारत में कम हो सकती है गाड़ियों की मैन्युफैक्चरिंग- रिपोर्ट

भारत का हेल्थ केयर सिस्टम (Health Care System in India) इसे रोकने के लिए अभी पूरी तरह से तैयार भी नहीं है. एजेंसी ने कहा कि अगर भारत में कोरोना वायरस आ गया तो चीन की तुलना में ये ज्यादा तेज़ी से फैलेगा.

भारत का हेल्थ केयर सिस्टम (Health Care System in India) इसे रोकने के लिए अभी पूरी तरह से तैयार भी नहीं है. एजेंसी ने कहा कि अगर भारत में कोरोना वायरस आ गया तो चीन की तुलना में ये ज्यादा तेज़ी से फैलेगा.

भारत का हेल्थ केयर सिस्टम (Health Care System in India) इसे रोकने के लिए अभी पूरी तरह से तैयार भी नहीं है. एजेंसी ने कहा कि अगर भारत में कोरोना वायरस आ गया तो चीन की तुलना में ये ज्यादा तेज़ी से फैलेगा.

    फिच सोल्यूशन (Fitch Solution) की एक रिपोर्ट में बुधवार को कहा गया कि साल 2020 में वाहनों के प्रोडक्शन (Vehicle Production in India) में 8.3 फीसदी की कमी आ सकती है जिससे इंडस्ट्री में सप्लाई में कमी होने की संभावना है. यह कमी चीन में फैले कोरोना वायरस की वजह से हो रही है. एजेंसी का कहना है कि अगर कोरोना वायरस (Corona Virus) भारत में फैलता है तो देश में बनने वाले वाहनों में कमी आ सकती है. रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन में वायरस को फैलने से रोकने के लिए प्रोडक्शन को रोक दिया गया है ताकि लोग एक जगह पर इकट्ठे नहीं हो. क्योंकि इससे कोरोना वायरस के फैलने का ज्यादा खतरा रहता है.

    भारत का हेल्थ केयर सिस्टम (Health Care System in India) इसे रोकने के लिए अभी पूरी तरह से तैयार भी नहीं है. एजेंसी ने कहा कि अगर भारत में कोरोना वायरस आ गया तो चीन की तुलना में ये ज्यादा तेज़ी से फैलेगा. वहीं, चूंकि चीन भारत को काफी ऑटो पार्ट्स की सप्लाई करता है इसलिए चीन में प्रोडक्शन कम होने से भारत में कार मैन्युफैक्चरिंग में कमी आ सकती है. इसलिए भारत में कार निर्माण में 8.3 फीसदी की कमी आ सकती है.

    एजेंसी ने कहा कि घरेलू बाज़ार में भी कम मांग होने के नाते गाड़ियों की मैन्युफैक्चरिंग और भी कम हो सकती है. बता दें कि चीन भारत को 30 से 40 फीसदी तक के ऑटो कम्पोनेंट की सप्लाई करता है जो कि भारत की ईवी सेगमेंट की दो से तीन गुनी ज्यादा है. इससे यह भी पता चलता है कि चीन में ऑटोपार्ट्स में स्लोडाउन आने के बाद इंडिया के मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में किस तरह की कमी आ सकती है. फिच ने यह भी कहा कि हालांकि, इस साल के बजट में इलेक्ट्रिक वीकल को बढ़ावा देने की पॉलिसी अपनाई गई है इसके चलते ऑटो सेक्टर को थोड़ा सा बूस्ट मिल  मिल सकता है.

    Tags: Auto, Auto Expo 2020, Auto News, Corona Virus

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर