महंगे होंगे 2-व्हीलर्स, बिक्री में गिरावट की सबसे बड़ी वजह आर्थिक मंदी: Honda

News18Hindi
Updated: September 11, 2019, 11:30 PM IST
महंगे होंगे 2-व्हीलर्स, बिक्री में गिरावट की सबसे बड़ी वजह आर्थिक मंदी: Honda
होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (Honda Motorcycle and Scooter India) ने देश में दोपहिया वाहनों की बिक्री में गिरावट के लिए अर्थव्यवस्था की सुस्ती को बड़ी वजह बताया है.

होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (Honda Motorcycle and Scooter India) ने देश में दोपहिया वाहनों की बिक्री में गिरावट के लिए अर्थव्यवस्था की सुस्ती को बड़ी वजह बताया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 11, 2019, 11:30 PM IST
  • Share this:
एक तरफ जहां देश की प्रमुख टू-व्हीलर कंपनी बजाज (Bajaj) का कहना है कि ऑटो सेक्टर (Auto Sector) में सुस्ती के लिए आर्थिक मंदी (Economic Slowdown) से ज्यादा ओवर प्रोडक्शन जिम्मेदार है. वहीं दूसरी ओर होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया ने देश में दोपहिया वाहनों की बिक्री में गिरावट के लिए अर्थव्यवस्था की सुस्ती को बड़ी वजह बताया है.

वाहनों के दाम और बढ़ेंगे
होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (HMSI) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अधिकारी एवं प्रबंध निदेशक मिनोरु कातो ने कहा कि अगले साल से BS6 उत्सर्जन मानक लागू होने के बाद वाहनों के दाम और बढ़ेंगे. इससे इंडस्ट्री के लिए चुनौती भी बढ़ेगी. कातो ने कहा कि सितंबर, 2018 से बीमा प्रीमियम में हुई बढ़ोतरी, उपभोक्ताओं का जीएसटी (GST) में कटौती का इंतजार और BS4 के वाहनों में भारी छूट की उम्मीद ऐसे अन्य कारण हैं, जिनकी वजह से वाहनों की बिक्री घट रही है.

BS6 वाला पहला स्कूटर लॉन्च किया

उन्होंने HMSI के पहले BS6 मानक वाले मॉडल एक्टिवा-125 (Activa 125) स्कूटर पेश किए जाने के मौके पर कहा कि इंडस्ट्री उम्मीद कर रही थी कि जब उपभोक्ता बीमा प्रीमियम में बढ़ोतरी के फायदे के बारे में जान जाएंगे, तो बिक्री में सुधार होगा. उन्होंने कहा कि अब उपभोक्ता जीएसटी में कटौती का इंतजार कर रहे हैं. भारतीय अर्थव्यवस्था में सुस्ती की वजह से भी मांग घटी है. कंपनी के BS6 मानक वाले एक्टिवा स्कूटर की शोरूम कीमत 67,490 रुपए है.

22 साल की सबसे बड़ी गिरावट
देश में लगातार 10वें महीने पैसेंजर व्हीकल की बिक्री (August Auto Sales) कम हुई है. SIAM की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, अगस्त में पैसेंजर व्हीकल (Passenger Vehicles Sales) की बिक्री पिछले साल इसी महीने की तुलना में 31.57 फीसदी घटकर 1,96,524 वाहन रह गई. वहीं अगस्त 2018 में 2,87,198 वाहनों की बिक्री हुई थी. ऑटो सेल्स में आई ये 22 साल की सबसे बड़ी गिरावट है. देश के ऑटो सेक्टर की हालत लगातार बिगड़ती जा रही है. सियाम की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, साल 1997-98 के बाद ऑटो सेल्स में किसी भी महीने में आई अब तक की सबसे बड़ी गिरावट है. वहीं, इस दौरान बाइक बिक्री बिक्री गिरकर 3 साल के निचले स्तर पर आ गई है.
Loading...

(भाषा से इनपुट)

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 11, 2019, 8:53 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...