दिल्ली में Electric Vichel चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर का होगा विस्तार, सरकार ने योजना को दी मंजूरी

इलेक्ट्रिक व्हीकल के चार्जिंग पॉइट का होगा निर्माण.

दिल्ली में इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग पॉइट का निर्माण अपार्टमेंट और ग्रुप हाउसिंग सोसाइटियों, अस्पतालों और मॉल और थिएटर जैसे कमर्शियल स्थानों पर किया जाएगा.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली में लोगों को इलेक्ट्रिक व्हीकल्स का ज्यादा इस्तेमाल करने के लिए जागरूक किया जाएगा, जिसके तहत दिल्ली के मॉल, सिनेमा हॉल और आवासीय परिसरों में जल्द ही इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग सिस्टम लगाए जाएंगे. राज्य सरकार ने सोमवार को शहर में ईवी चार्जिंग नेटवर्क के विस्तार के लिए सिंगल विंडो सुविधा को मंजूरी दे दी है. डायलॉग एंड डेवलपमेंट कमीशन की वाइस चेयरमैन जैस्मिन शाह ने कहा की दिल्ली सरकार ने सिंगल विंडो के तहत इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन की स्थापना को मंजूरी दे दी है. यह उन अनुरोधों के जवाब में है जो हमें विशेष रूप से अपार्टमेंट सोसाइटियों, आरडब्ल्यूए, मॉल मालिकों और अन्य लोगों से प्राप्त हो रहे हैं.

    पावर डिस्कॉम के प्रतिनिधियों ने पहले ही एक योजना प्रस्तुत की थी, जो दिल्ली के निवासियों को अपने परिसर में ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से या फोन कॉल करके ईवी चार्जिंग स्टेशन की स्थापना का अनुरोध करने में मदद करेगी. योजना के अनुसार, पहले 30,000 चार्जिंग पॉइंट के लिए ₹6,000 प्रति चार्जिंग पॉइंट तक के चार्जिंग उपकरण खरीदने पर 100 प्रतिशत अनुदान मिलेगा. ये दिल्ली सरकार की इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी के अनुसार है.

    यह भी पढ़ें: Himachal Pradesh में रोज 5 हजार वाहन कर रहे हैं एंट्री, कोविड नियम में ढील के बाद बढ़ी संख्या, जानिए सभी कानून

     

    योजना के अनुसार, सिंगल विंडो सुविधा से अपार्टमेंट और ग्रुप हाउसिंग सोसाइटियों, अस्पतालों और मॉल और थिएटर जैसे कमर्शियल स्थानों पर ईवी चार्जर्स को तेजी से स्थापित करने में मदद मिलेगी. शाह ने मीडिया को बताया कि, दिल्ली जल्द ही दुनिया का एकमात्र शहर होगा जहां कोई भी ईवी चार्जर स्थापित कर सकता है और एक फोन कॉल या ऑनलाइन आवेदन करके सरकारी सब्सिडी प्राप्त कर सकता है.

    यह भी पढ़ें: TVS Apache खरीदने पर होगी 10 हजार रुपये की बचत, कैशबैक के साथ मिलेगा ये ऑफर

    बिजली वितरण कंपनियों द्वारा विक्रेताओं के एक पैनल को मंजूरी दी जाएगी, जो इन ईवी चार्जिंग स्टेशन को स्थापित करेंगे. दिल्ली सरकार का उद्देश्य ईवी टैरिफ के आधार पर उपभोक्ता और मीटर स्थापना करने वाली कंपनी को सब्सिडी प्रदान करना भी है. ईवी चार्जिंग मानकों पर केंद्र की समिति के प्रमुख साजिद मुबाशिर ने कहा कि हम  प्रोटोटाइप के साथ इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग की स्थापना के अंतिम चरण में हैं. उन्होंने यह भी कहा कि इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए आने वाले कम लागत वाले स्मार्ट एसी चार्जर की कीमत व्यावसायिक रूप से उत्पादित होने पर लगभग 3,500 रुपये होगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.