कभी सोचा है कि Milestones अलग-अलग रंग के क्यों होते हैं? यहां जवाब है

Milestones आखिर क्यों होते है अलग-अलग रंग के.

Milestones आखिर क्यों होते है अलग-अलग रंग के.

भारत में कुल 58 लाख 98 हजार किलोमीटर सड़क का नेटवर्क हैं. जिसमें ग्रामीण सड़क, राष्ट्रीय राजमार्ग, राज्य राजमार्ग और एक्सप्रेस वे सभी शामिल हैं. इन सभी रोड़ों पर सरकार जानकारी रखने के लिए अलग-अलग कलर के Milestones लगाती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 17, 2021, 11:23 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. रोज सड़क पर ट्रैवल करते हुए आपको अलग-अलग रंग के Milestones  किनारे लगे हुए दिखाई दिए होंगे. लेकिन आपने कभी गौर किया है कि, रोड़ पर ऑरेंज, येलो, ब्लैक या ब्लू स्ट्रिप और ग्रीन कलर के Milestones लगे होते हैं. अगर आपने ऐसे Milestones देखें है तो क्या आपने इनके बारे में  सोचा हैं कि, आखिर रोड़ के किनारे लगे हुए Milestones आखिर इतने सारे कलर के क्यों होते हैं.

बता दें भारत में कुल 58 लाख 98 हजार किलोमीटर सड़क का नेटवर्क हैं. जिसमें ग्रामीण सड़क, राष्ट्रीय राजमार्ग, राज्य राजमार्ग और एक्सप्रेस वे सभी शामिल हैं. इन सभी रोड़ों पर सरकार जानकारी रखने के लिए अलग-अलग कलर के Milestones लगाती है. जिससे लोगों को यात्रा के दौरान पता रहे कि, आखिर वह ग्राीमड़ सड़क पर चल रहे है या एक्सप्रेसवे पर चल रहे है. आइए जानते हैं सभी Milestones के कलर के बारे में...

यह भी पढ़ें: Bajaj Chetak इलेक्ट्रिक स्कूटर की बुकिंग फिर हुई बंद, जानिए कब होगी शुरू

ऑरेंज रंग के Milestones - अगर आपको रोड़ के किनारे येलो रंग के Milestones लगे हुए मिलें तो समझ लीजिए आप Rural रोड़ पर चल रहे हैं. ये सड़क प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना और जवाहरलाल नेहरू रोजगार योजना के तहत बनाई गई हैं. बता दें देश में 3 लाख 93 हजार ग्रामीण सड़क का नेटवर्क हैं. जिनसे देश के सभी ग्राम शहरों से जुड़ते हैं.
येलो रंग के Milestones - इस रंग के Milestones नेशनल हाईवे पर लगाए जाते हैं. अगर आपको रोड़ के किनारे येलो रंग के Milestones मिले तो आप समझले कि, आप नेशनल हाईवे पर चल रहे है. बता दें 2021 तक देश में कुल 1,51,019 किमी के नेशनल हाईवे का निर्माण किया जा चुका था. 

यह भी पढ़ें: सिर्फ 350 रुपये में फुल चार्ज हाेती है Tata Nexon! जानिए बाकि काराें की क्या है चार्जिंग कॉस्ट

ब्लैक और ब्लू स्ट्रीप के Milestones - अगर आपको रोड़ के किनारे ब्लैक और ब्लू कलर की स्ट्रीप वाले Milestones मिले तो आप समझ ले कि, आप शहर या जिले की रोड़ पर चल रहे हैं. आपको बता दें देश में 5 लाख 61 हजार 940 किमी शहरी रोड़ का नेटवर्क है.



ग्रीन कल के Milestones - इस तरह के Milestones राज्य के हाईवे पर लगाए जाते है. जो एक शहर को दूसरे शहर से जोड़ते हैं. 2016 के आंकड़ों के मुताबिक देश में 1 लाख 76 हजार 166 किमी के state highways का नेटवर्क था. वहीं आपको बता दें ब्रिटिश टाइम में नागपुर में Zero mile centre स्थापित किया गया था. जहां से सभी शहरों की दूरी की गणना की जाती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज