लाइव टीवी

आखिर क्यों महंगी होने वाली हैं गाड़ियां, महिंद्रा ने बताई वजह

भाषा
Updated: October 22, 2019, 5:05 PM IST
आखिर क्यों महंगी होने वाली हैं गाड़ियां, महिंद्रा ने बताई वजह
महिंद्रा

इस साल कमर्शियल ऑटो सेक्टर में वृद्धि नहीं होगी. यह कितना नीचे आता है, प्रोत्साहन पर निर्भर करेगा

  • Share this:
नई दिल्ली. ऑटो सेक्टर चालू वित्त वर्ष में सुस्ती से जूझ रहा है. सुस्ती की सबसे अधिक मार कमर्शियल ऑटो सेक्टर पर पड़ी है. महिंद्रा एंड महिंद्रा के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि अगले साल से भारत चरण छह (BS-VI) उत्सर्जन मानक लागू होने के बाद कीमतों में इजाफा होगा, लेकिन इसके बावजूद कमर्शियल वाहनों की मांग बढ़ेगी.

महिंद्रा एंड महिंद्रा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (ट्रक एवं बस विभाग) विनोद सहाय ने कहा, 'सरकार ने अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए जो प्रोत्साहन उपाय किए हैं, वे कुछ हद तक मध्यम अवधि के उपाय हैं. इसका असर अगले छह से सात महीने में जमीन पर दिखने लगेगा, जिससे अगले वित्त वर्ष में कमर्शियल ऑटो सेक्टर रफ्तार पकड़ेगा.'

सहाय ने कहा, 'कुल मिलाकर मौजूदा सुस्ती की सबसे अधिक मार कमर्शियल वाहन सेगमेंट पर पड़ी है. लेकिन इसमें हैरानी नहीं होनी चाहिए. हम अर्थव्यवस्था का 'बैरोमीटर' हैं. जब अर्थव्यवस्था अच्छा नहीं कर रही होती है तो कमर्शियल ऑटो सेक्टर का प्रदर्शन भी खराब रहता है.' उन्होंने कहा कि इस साल कमर्शियल ऑटो सेक्टर में वृद्धि नहीं होगी. यह कितना नीचे आता है, प्रोत्साहन पर निर्भर करेगा, जो मुझे नहीं लगता कि आएगा. बीएस-6 के लागू होने से पहले कुछ बीएस-4 वाहनों की खरीद होगी, लेकिन अंतत: उद्योग में गिरावट ही रहेगी.

वाहन विनिर्माताओं के संगठन सियाम ने कहा कि चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-सितंबर की अवधि में कमर्शियल गाड़ियों की बिक्री 22.95 प्रतिशत घटकर 3,75,480 इकाई रह गई है जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 4,87,319 इकाई थी.

यह भी पढ़ें-

अब Uber ऐप से करें दिल्ली मेट्रो में सफर, कार्ड या टोकन की नहीं होगी जरूरत
सुनील लुल्ला बने BARC इंडिया के CEO, पार्थो दासगुप्‍ता की विदाई
Loading...

देश भर के बैंक कर्मचारी आज हड़ताल पर, लेकिन SBI ग्राहकों के लिए कोई टेंशन नहीं

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 4:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...