लाइव टीवी

अपनी कार के लिए ऐसे बनवाएं Fastag, पड़ेगी इन चीजों की जरूरत, जानें सब कुछ

News18Hindi
Updated: October 17, 2019, 7:51 AM IST
अपनी कार के लिए ऐसे बनवाएं Fastag, पड़ेगी इन चीजों की जरूरत, जानें सब कुछ
फास्टैग

सरकार ई-टोल को बढ़ावा देने के लिए 1 दिसंबर से नए दिशानिर्देश लागू कर रही है जिसके तहत सभी टोल प्लाजा पर सिर्फ एक कैश लेन को छोड़कर बाकी सभी लेन को फास्टैग लेन कर दिया जाएगा

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 17, 2019, 7:51 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली: अब बिना फास्टैग के आप हाईवे पर टोल गेट क्रॉस नहीं कर पाएंगे, क्योंकि कैश लेनदेन को खत्म करने के लिए सरकार टोल प्लाजा से कैश लेने को खत्म करने जा रही है. 19 अगस्त को मिनिस्ट्री ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट एंड हाईवेज ने घोषणा की थी कि 1 दिसंबर, 2019 से देश भर में नेशनल हाईवे पर टोल प्लाजा की सभी लेन FASTags लेन बन जाएंगी.

क्या है फास्टैग
फास्टैग एक ऐसा डिवाइस है जिसे गाड़ी की विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है. आरएफआईडी तकनीक पर आधारित फास्टैग युक्त गाड़ी जब टोल नाके से गुजरती है तब रेडियो फ्रीक्वेंसी तकनीक की मदद से आपका फास्टैग स्कैन हो जाता है. इसके स्कैन होते ही आपके बैंक खाते या फिर लिंक्ड पेटीएम खाते से पैसे ऑनलाइन ही कट जाते हैं और आपको टोल नाके पर लंबी कतार में खड़े रहना नहीं पड़ता.

कहां से खरीदें

फास्टैग को आप ज्यादातर बैंक से, ई कॉमर्स पोर्टल या फिर नजदीकी पेट्रोल पंप से भी खरीद सकते हैं. व्हीकल ओनर्स टोल प्लाजा, FASTags जारी करने वाली एजेंसी या बैंक या ऑनलाइन मार्केट से ले सकते हैं. SBI, HDFC और ICICI FASTags इशू करते हैं. यहां से टैग लेने के लिए आपको सबसे पहले ऑनलाइन इन्क्वायरी फॉर्म भरना होगा. क्वेरी जनरेट होने के बाद आपको बैंक के ब्रांच पर जाना होगा और जरूरी फॉर्म भरने होंगे. इसके लिए आपको जरूरी डॉक्यूमेंटेशन प्रोसेस से गुजरना होगा.

टोल प्लाजा
टोल प्लाजा


चाहिए होंगे ये डॉक्यूमेंट्स
Loading...

इसके लिए गाड़ी के ओनर की पासपोर्ट साइज की फोटोग्राफ, गाड़ी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट और ओनर के पहचान और पते के वेरिफिकेशन के लिए PAN, Aadhaar या ड्राइविंग लाइसेंस चाहिए होगा.

कैसे करें रिचार्ज
इसे आप अपने बैंक एकाउंट से भी लिंक कर सकते हैं, ताकि इसे रिचार्ज किया जा सके. ऑफिशियल वेबसाइट के मुताबिक, वन-टाइम टैग डिपॉजिट की राशि जमा करके इसे लिया जा सकता है. कार, जीप और वैन के लिए ये 200 रुपए जबकि ट्रक और ट्रैक्टर के लिए यह 500 रुपए है. फास्टैग को रिचार्ज करने के लिए आप क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, आरटीजीएस और नेट बैंकिंग का प्रयोग कर सकते हैं. आप अपने फास्टैग खाते में कम से कम 100 रुपए और ज्यादा से ज्यादा एक लाख रुपए तक रख सकते हैं.

टोलबूथ
टोलबूथ


फास्टैग लेन में घुसे तो देना होगा दोगुना टोल टैक्स
सड़क परिवहन मंत्रालय के ताजा आदेश के मुताबिक 1 दिसंबर से अगर कोई वाहन फास्टैग नहीं होने के बावजूद फास्टैग लेन में चला गया तो उसे दोगुना टोल टैक्स चुकाना होगा. इतना ही नहीं टोल प्लाजा पर सिर्फ एक लेन को छोड़कर बाकी सभी फास्टैग लेन होंगे. यानी अगर आप कैश के जरिए टोल टैक्स चुकाना चाहते हैं तो आपके लिए सिर्फ एक लेन उपलब्ध होगी.

टोल सिस्टम को कैशलेस करना चाहती है सरकार
दरअसल सरकार ई-टोल को बढ़ावा देने के लिए 1 दिसंबर से नए दिशा-निर्देश लागू कर रही है जिसके तहत सभी टोल प्लाजा पर सिर्फ एक कैश लेन को छोड़कर बाकी सभी लेन को फास्टैग लेन कर दिया जाएगा. यदि कोई वाहन चालक गलती से भी फास्टैग नहीं होने के बावजूद फास्टैग लेन में चला गया तो उसे दोगुना टोल टैक्स चुकाना होगा. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, फिलहाल टोल टैक्स करीब 25 फीसदी फास्टैग के जरिए और 75 फीसदी कैश के जरिए दिया जाता है. सरकार टोल सिस्टम को कैशलेस करना चाहती है इसलिए यह नए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ऑटो से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 17, 2019, 6:37 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...