• Home
  • »
  • News
  • »
  • auto
  • »
  • FORD RECALLS OVER 660 000 UNITS OF EXPLORER SUV KNOW WHY KANND

फोर्ड ने Explorer SUV की 660,000 से ज्यादा यूनिट रिकॉल की, जानें इसकी वजह

फोर्ड ने explorer SUV रिकॉल की.

Ford ने इन यूनिट्स को रिकॉल करने के लिए इन प्रभावित यूनिट्स के owners को 28 जून से नोटिफिकेशन भेजना शुरू करेगी. कंपनी ने अपने डीलर्स को पुश-पिन्स को इनस्टॉल करने और किसी भी ख़राब रेल क्लिप्स और रूफ रेल कवर को बदलने के लिए कहा है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. फोर्ड अपने explorer SUV के 660,000 से ज्यादा यूनिट्स को रिकॉल करेगी, US सेफ्टी रेगुलेटर के अनुरोध पर कंपनी इन यूनिट्स को रिकॉल कर रही है. US सेफ्टी रेगुलेटरी के मुताबिक, इन एसयूवीज के रूफ रेल के कवर को गाडी से जोड़ने वाले रिटेंशन पिन में कुछ गड़बड़ी है, जिससे आगे कभी भी ये रूफ रेल कवर कभी भी गाडी से अलग हो सकता है. इन यूनिट्स में 2016 के मॉडल से लेकर 2019 तक के मॉडल्स शामिल है, और US से करीब 620,483 यूनिट्स, कनाडा से 36,419 यूनिट्स और मेक्सिको से 4,260 यूनिट्स शामिल हैं. 

    फोर्ड ने इन यूनिट्स को रिकॉल करने के लिए इन प्रभावित यूनिट्स के owners को 28 जून से नोटिफिकेशन भेजना शुरू करेगी. कंपनी ने अपने डीलर्स को पुश-पिन्स को इनस्टॉल करने और किसी भी ख़राब रेल क्लिप्स और रूफ रेल कवर को बदलने के लिए कहा है. इन ख़राब रूफ रेल कवर में सिल्वर, ब्लैक और एब्सोल्यूट ब्लैक कलर से पेंटेड है. 

    यह भी पढ़ें: 1,555 रुपये की EMI पर घर ले आएं TVS की शानदार स्पोर्ट्स बाइक, देगी जबरदस्त माइलेज

    यूएस नेशनल हाईवे ट्रैफिक सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन द्वारा इस मुद्दे की जांच पहली बार 2020 की शुरुआत में की गयी, जब कम से कम 11 ऐसे रिपोर्ट आये जिसमे एक्स्प्लोरर की छत गाडी से अलग हो गयी. उसके बाद यूएस नेशनल हाईवे ट्रैफिक सेफ्टी ने कंपनी से इन गाड़ियों को रिकॉल करने को कहा गया, जिसे कंपनी ने यह कहते हुए नकार दिया कि यह जरुरी नहीं है. इसके पीछे फोर्ड ने यह बताया कि इसकी काफी काम सम्भावना है कि कम वजन के चलते छत गाडी से अलग हो जाये, कंपनी ने इसके बाद कहा कि गाडी चलाने वाले इसकी जांच कर सकते है कि रूफ रेल लूज है की नहीं. 

    यह भी पढ़ें: टायर पर चढ़कर लड़के ने किया खतरनाक स्टंट, IPS ऑफिसर को बोलना पड़ा 'बंदे में टैलेंट तो है', देखें वीडियो

    बाद में नवंबर 2020 में कंपनी ने इस एसयूवी की रेल रूफ पर वारंटी को 10 साल से बढ़ा कर 15 साल या फिर 150,000 मिल कर दिया गया, और इसके बाद कंपनी लगातार रूफ रेल की घटनाओ की फील्ड डेटा को मॉनिटर कर रही है. हालाँकि, इस साल अप्रैल में सेफ्टी एजेंसी के साथ मीटिंग में एक बार फिर से कंपनी को रिकॉल करने को कहा गया. फोर्ड ने बताया की उसे इस खराबी के चलते किसी दुर्घटना या चोट के बारे में कोई जानकारी नहीं है.
    Published by:Kanhaiya Pachauri
    First published: