बिना HSRP और कलर कोडेड स्टीकर वाली गाड़ियों पर हुआ सख्त एक्शन, 200 से ज्यादा कटे चालान

बिना HSRP और कलर कोडेड स्टीकर वाली गाड़ियों पर हुआ सख्त एक्शन, 200 से ज्यादा कटे चालान
दिल्ली परिवहन विभाग ने HSRP नहीं होने पर मंगलवार को 239 फोर-व्हीलर्स का चालान काटा

अगर आपकी कार में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (High Security Number Plate) और कलर कोडेड स्टीकर नहीं है तो सावधान हो जाइए. क्योंकि दिल्ली परिवहन विभाग ने बिना HSRP वाली गाड़ियों को लेकर एक्शन में आ गई है. मंगलवार को दिल्ली पुलिस ने 200 से ज्यादा चालान काटें हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated : December 16, 2020, 2:51 pm IST
  • Share this:

    नई दिल्ली. दिल्ली सरकार ने वाहनों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट (High Security Number Plate) और कलर कोडेड स्टीकर को लेकर सखती शुरू कर दी है. दिल्ली परिवहन विभाग ने HSRP नहीं होने पर मंगलवार को 239 फोर-व्हीलर्स का चालान काटा. परिवहन विभाग ने इसके लिए दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में 9 टीमों को तैनात किया था. आपको बता दें कि दिल्ली परिवहन विभाग गाड़ियों में हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट नहीं होने पर 5,500 से 10,000 रुपये तक चालान काट रहा है. परिवहन विभाग ने अक्टूबर में एक नोटिस जारी कर वाहन मालिकों से हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट और कलर कोडेड स्टीकर लगाना जरूरी कर दिया था.

    परिवहन विभाग के विशेष आयुक्त, केके दहिया ने बताया कि कल दिल्ली के वजीरपुर, साकेत, शास्त्री पार्क, पश्चिम विहार, राज घाट, तालकटोरा स्टेडियम, अक्षरधाम मंदिर, दिल्ली कैंट, पीरा गढ़ी, पूसा, शहादरा एक्सचेंज, प्रीत विहार, अशोक विहार, आरके पुरम में चालान काटे. उन्होनें कहा कि ये अभियान कुछ चुनिंदा जगहों पर ही चलाया गया है.

    ये भी पढ़ें : HSRP: जानें क्या है हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट और क्यों है जरूरी! कैसे करें HSRP के लिए अप्लाई



    दिल्ली परिवहन विभाग अभी सिर्फ फोर-व्हीलर्स पर ही की है. टू-व्हीलर वाहन मालिकों को सिर्फ हिदायत देकर छोड़ा जा रहा है. दहिया ने कहा कि कुछ दिन बाद ये कार्यवाही सभी के लिए की जाएगी. इसके अलावा उन वाहन मालिकों को फिलहाल छूट दी जा रही है, जिन्होंने हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट और कलर स्टीकर के लिए अप्लाई किया है. उन पर फिलहाल कोई जुर्माना नहीं लगाया जा रहा है. लेकिन इसके लिए वाहन मालिकों को रसीद दिखानी होगी.

    इस अभियान के निशाने पर दूसरे राज्यों के रजिस्टर्ड वाहन शामिल नहीं हैं. बता दें कि अक्टूबर में दिल्ली सरकार ने HSRP को लेकर ऐलान किया था. जिसके चलते नवंबर और दिसंबर में तेजी से वाहनों पर HSRP और कलर कोडेड स्टीकर लगाए भी गए.

    दिल्ली में करीब 30 लाख वाहन हैं, जिसमें से 16 लाख टू-व्हीलर्स, 12 लाख फोर व्हीलर्स और 2 लाख कमर्शियल गाड़ियां हैं, जिन पर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाना अनिवार्य है. HSRP लगवाने की इस मुहिम में 300 डीलरशिप को HSRP के ऑनलाइन सप्लायर्स प्लेटफॉर्म से जोड़ा गया है. जिससे वाहन मालिक अपनी सुविधा के हिसाब से HSRP लगवा सकें. ये सप्लायर्स HSRPs और स्टीकर्स की होम डिलिवरी भी करते हैं.