घर बैठे इस तरह Aadhaar Card को लिंक करें ड्राइविंग लाइसेंस से, ये है आसान तरीका

आधार को ड्राइविंग लाइसेंस से जोड़ना हुआ आसान

आधार को ड्राइविंग लाइसेंस से जोड़ना हुआ आसान

अगर आप घर बैठे अपने ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) को आधार कार्ड (Aadhaar Card) से लिंक करना चाहते हैं तो इन आसान से स्टेप्स को फॉलो करें.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2021, 10:21 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आज के समय में आधार कार्ड (Aadhaar Card) को हर आइडेंटिटी प्रूफ के साथ लिंक करना बेहद जरूरी हो गया है. इसी लिस्ट में अब ड्राइविंग लाइसेंस भी शामिल हो गया है. बता दें कि सरकार ने ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) को आधार कार्ड से लिंक करने की प्रक्रिया को भी काफी आसान कर दिया है. जिसके तहत आप घर बैठे ऑनलाइन तरीके से ड्राइविंग लाइसेंस को आधार से लिंक कर सकते हैं. इसके लिए आपको इन स्टेप्स को फॉलो करने होंगे...

आपको बता दें कि राज्य या केंद्र शासित प्रदेश का रोड ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ड्राइविंग लाइसेंस जारी करता है. ऐसे में आपके आधार को ड्राइविंग लाइसेंस के साथ लिंक करने का प्रोसेस थोड़ा अलग हो सकता है लेकिन बेसिक स्टेप्स एक ही हैं जिसके बारे में हम आपको बताने वाले हैं.

इस तरह करें आधार को ड्राइविंग लाइसेंस से लिंक

>> सबसे पहले sarathi.parivahan.gov.in वेबसाइट पर जाएं.
>> अब उस राज्य को सिलेक्ट करें जहां का आपका लाइसेंस है.

>> अब Apply Online पर क्लिक करें.

>> इसके बाद Services on Driving Licence (Renewal/Duplicate/Aedl/Others) पर क्लिक करें.



>> अब अपने राज्य की डिटेल भरकर Continue पर क्लिक करें.

>> इसके बाद ड्राइविंग लाइसेंस नंबर डालें और डेट ऑफ बर्थ डालकर 'गेट डीटेल्स' टैब पर क्लिक करें.

>> अब ड्राइविंग लाइसेंस के डीटेल आने के बाद प्रोसिड पर क्लिक कर दें.

>> अब 12 अंको का आधार नंबर और रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर यहां डालें.

>> ध्यान रहे कि यह वही मोबाइल नंबर होना चाहिए जो आपने आधार के साथ लिंक हो, अब सबमिट कर दें.

>> इसके बाद एक OTP आएगा, जिसे एंटर करने के बाद कन्फर्म करना होगा.

>> अगर आप ऑनलाइन नहीं करना चाहते हैं तो आरटीओ ऑफिस जाकर भी आप ऐसा कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें: बचत ही बचत: खरीदें अपनी फेवरेट Activa 6G! Honda दे रही पूरे 5,000 रु का कैशबैक, साथ में 100% फाइनेंस की सुविधा

सूचना प्रौद्योगिकी (IT) और कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद का कहना है कि यदि एक राज्य का ड्राइवर शराब पीकर दूसरे राज्य में दुर्घटना कर भागता है तो वह किसी अलग राज्य से डुप्लिकेट लाइसेंस प्राप्त करता है. लेकिन अब ऐसा करने पर वह अपना नाम गलत बता सकता है, लेकिन डिजिटल पहचान को नहीं बदल सकेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज