होम /न्यूज /ऑटो /

इलेक्ट्रिक व्हीकल: पेट्रोल पंपों पर मिलेगी बैटरी बदलने की सुविधा, HPCL और होंडा मोटर ने मिलाया हाथ

इलेक्ट्रिक व्हीकल: पेट्रोल पंपों पर मिलेगी बैटरी बदलने की सुविधा, HPCL और होंडा मोटर ने मिलाया हाथ

कंपनी ने इस तरह के 70 ई-स्वैप स्टेशन और शुरू करने की घोषणा की है. (फाइल फोटो)

कंपनी ने इस तरह के 70 ई-स्वैप स्टेशन और शुरू करने की घोषणा की है. (फाइल फोटो)

एचपीसीएल के बेंगलुरु स्थित एक पेट्रोल पंप पर बैटरी बदलने वाले इस सेंटर की शुरुआत गई है. फिलहाल इस सेंटर पर इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर वाहनों की ही बैटरियां बदली जाएंगी. कंपनी ने अगले एक साल ई-स्वैप स्टेशन और शुरू करने की घोषणा की है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

देश के अन्य शहरों में इस सर्विस का विस्तार किया जाएगा.
दो मिनट में ही डिस्चार्ज हो चुकी बैटरी को यहां बदल सकते हैं.
इस स्टेशन से अपने व्हीकल के लिए बैटरी भी उधार ले सकते हैं.

नई दिल्ली. सार्वजनिक क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनी हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (HPCL) ने अपने पेट्रोल पंपों पर इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए बैटरी अदला-बदली (Battery Swapping) स्टेशन बनाने के लिए वाहन निर्माता कंपनी होंडा मोटर से हाथ मिलाया है. होंडा मोटर की सहायक इकाई होंडा पावर पैक एनर्जी इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और एचपीसीएल के बीच हुए इस करार के तहत बेंगलुरु में पहले ‘ई-स्वैप’ स्टेशन की शुरुआत भी हो गई है.

एचपीसीएल के बेंगलुरु स्थित एक पेट्रोल पंप पर बैटरी बदलने वाले इस सेंटर की शुरुआत शनिवार को गई है. फिलहाल इस सेंटर पर इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर वाहनों की ही बैटरियां बदली जाएंगी. हालांकि, कंपनी ने अगले एक साल में बेंगलुरु में इस तरह के 70 ई-स्वैप स्टेशन और शुरू करने की घोषणा की है.

ये भी पढ़ें- कार खरीदने का अच्छा मौका! फेस्टिव सीजन में मिल रहा 50 हजार का डिस्काउंट

दो मिनट में ले सकेंगे चार्ज बैटरी
एचपीसीएल ने कहा कि उसके बाद देश के अन्य शहरों में इस सर्विस का विस्तार किया जाएगा. एचपीसीएल ने एक बयान में इसकी जानकारी देते हुए कहा, ‘‘उपभोक्ता इस केंद्र पर सिर्फ दो मिनट में ही डिस्चार्ज हो चुकी बैटरी को पूरी तरह चार्ज बैटरी के साथ बदल सकते हैं. इसके अलावा ग्राहक इस स्टेशन से अपने व्हीकल के लिए बैटरी भी उधार ले सकते हैं. बैटरी को उधार देने से एक इलेक्ट्रिक वाहन की खरीद लागत भी कम हो जाती है.’’

बढ़ेगी इलेक्ट्रिक व्हीकल की मांग
होंडा इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए खासतौर पर डिजाइन बैटरियों के निर्माण के लिए जानी जाती है. वहीं एचपीसीएल अपने बड़े नेटवर्क के दम पर पूरे देश में अपनी मौजूदगी रखती है. इन दोनों पक्षों को ध्यान में रखते हुए एचपीसीएल और होंडा मोटर ने हाथ मिलाने का फैसला किया है. आने वाले समय में इस पार्टनरशिप का इलेक्ट्रिक व्हीकल मालिकों का फायदा होगा. इसके अलावा देश में इलेक्ट्रिक वाहनों की मांग को और बढ़ावा मिलेगा.

ये भी पढ़ें- Tiago, WagonR और Celerio में से कौन सी CNG कार है बेस्ट, देखें तीनों की कीमत में अंतर?

इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री बढ़ी
भारत में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों का असर अब वाहनों की बिक्री पर देखने को मिल रहा है. परंपरागत ईंधन का विकल्‍प इलेक्ट्रिक वाहन के रूप में सामने आने के बाद पिछले कुछ दिनों में देश में इलेक्ट्रिक व्‍हीकल्‍स की मांग में जबर्दस्‍त बढ़ोत्‍तरी हुई है. वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही में ईवी की बिक्री के ये आंकड़े सीईईडब्‍ल्‍यू-सेंटर फॉर एनर्जी फाइनेंस (सीईईडब्ल्यू-सीईएफ) मार्केट हैंडबुक के जारी नए संस्करण में सामने आए हैं जो चौंकाने वाले हैं.

Tags: Auto News, Autofocus, Automobile, Car Bike News, Electric Vehicles

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर